scriptBastar News: 500 से अधिक देवी देवताओं के लिए बस्तर में बनेगा हैरिटेज ग्राउंड, 3 करोड़ रुपए होगा खर्च | Bastar News: Heritage ground in Bastar | Patrika News
जगदलपुर

Bastar News: 500 से अधिक देवी देवताओं के लिए बस्तर में बनेगा हैरिटेज ग्राउंड, 3 करोड़ रुपए होगा खर्च

Bastar Festival: पूरी दुनिया में मशहूर बस्तर दशहरा को मानाने के लिए इस बार विशेष सुविधा दी जा रही है। बस्तरवासियों को 75 दिनों तक त्यौहार मानाने के लिए एक विशेष प्रोजेक्ट बनाया गया है।

जगदलपुरJul 10, 2024 / 02:48 pm

Kanakdurga jha

CG Festival
Chhattisgarh News: बस्तर के विश्व प्रसिद्ध दशहरा उत्सव की तैयारियां प्रशासन ने शुरू कर दी है। दशहरा में शामिल होने आने वाले 500 से अधिक देवी देवताओं और उनके सेवादारों के लिए बस्तर का पहला हेरिटेज ग्राउंड बनाया जा रहा है। प्रशासन ने इसे अंतिम रूप दे दिया है। जो कि दशहरा पर्व तक तैयार हो जाएगा। इस प्रोजेक्ट के लिए तहसील कार्यालय को शिफ्ट किया जाएगा।
यह भी पढ़ें

Bastar News: राजनीति नहीं… विकास के लिए बदले जाएंगे 41 पंचायतों के नाम, देखें लिस्ट

3 करोड़ की लागत, ऐतिहासिक चीजों से नहीं की जाएगी छेड़छाड़

बस्तर कलेक्टर विजय दयाराम के. ने बताया कि यहां की कई बिल्डिंग पहले से ही कई ऐतिहासिक चीजों को संजोए हैं। इसलिए ऐसी बिल्डिंग से छेड़छाड़ नहीं की जाएगी। बल्कि उसे संवारने के लिए विशेष प्लान बनाया गया है। काम को दशहरे के पहले पूरा करने की तैयारी चल रही है। इसी हफ्ते इसका टेंडर निकाल दिया जाएगा। इस पूरे प्रोजेक्ट में करीब 3 करोड़ रुपए का खर्च आएगा।
Bastar Dussehra
यहां एक बार चार्ट दिया गया है जो बस्तर दशहरा के इतिहास, महत्व और प्रासंगिकता को दर्शाता है, जिसमें प्रत्येक श्रेणी को 10 में से रेट किया गया है। यह त्यौहार इतिहास में गहराई से निहित है, महान सांस्कृतिक और धार्मिक महत्व रखता है, और समकालीन समय में प्रासंगिक बना हुआ है, जो इस क्षेत्र में इसके स्थायी महत्व को दर्शाता है।

हर साल 500 से अधिक देवी देवता पहुंचते हैं बस्तर, अब यहीं रुकेंगे

मालूम हो कि बस्तर के ऐतिहासिक दशहरे में संभागभर से देवी-देवता पहुंचते हैं। ऐसे देवी देवताओं की संख्या 500 से भी अधिक होती है। लेकिन ठहरने की व्यवस्था ठीक नहीं होने की वजह से उन्हें परेशानी होती है। इस हेरिटेज ग्राउंड में उन्हें ठहराने के लिए विशेष व्यवस्था की जा रही है। गौरतलब है कि बस्तर दशहरा 75 दिनों तक मनाया जाता है इस दौरान विभिन्न रस्मों के लिए अलग अलग देवी देवता यहां पहुंचे है जो कि दशहरा की समाप्ति के बाद ही वापस लौटते हैं।

यह सेक्शन होंगे

कैफे, सीटिंग एरिया, ओपन एग्जिब्यूशन एरिया, बोर एरिया, एक्टिविटी ग्राउंड, प्रसाधन एरिया, एग्जिब्यूशन एरिया, स्टोर एरिया, एडमिन, डॉरमेटरी, गार्डन, कार पाॢकंग, बाइक पार्किंग, गार्ड रूम

लागत -3 करोड़
एरिया – 20 हजार स्क्वायर फीट
कब तक होगा तैयार – दशहरे के पहले
खूबी – आदिवासियों की संस्कृति से हो सकेंगे रूबरू

Hindi News/ Jagdalpur / Bastar News: 500 से अधिक देवी देवताओं के लिए बस्तर में बनेगा हैरिटेज ग्राउंड, 3 करोड़ रुपए होगा खर्च

ट्रेंडिंग वीडियो