scriptChild Health | बच्चों को मिट्टी में खेलने दीजिए | Patrika News

बच्चों को मिट्टी में खेलने दीजिए

नए पैरेंट्स और नए जमाने के खेलों ने बच्चों को मिट्टी की भीनी-भीनी खुशबू से दूर कर दिया है। अब खेल के नाम पर बच्चों को मिट्टी में छोडऩा किसी अपराध से कम नहीं माना जाता। पुरानी पीढ़ी तो बड़ी ही मिट्टी के घरोंदे बनाकर होती थी। सच्चाई यह है कि मिट्टी के संपर्क से बच्चों को सेहत संबंधी कई फायदे हासिल होते हंै। बच्चे स्वस्थ रहते हैं।

जयपुर

Published: June 07, 2019 05:30:11 pm

 

रोग प्रतिरोधक क्षमता
मिट्टी में खेलना बच्चों की सेहत के लिए फायदेमंद होता है। मिट्टी में माइक्रोस्कोपिक बैक्टीरिया होते हैं, जो बच्चों के इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं। बच्चों के मिट्टी व खुली जगह में खेलने से उनकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है। ऐसे बच्चों को अन्य बच्चों के मुकाबले प्रदूषण और अन्य चीजों से एलर्जी कम होती है। वे मौसमी बीमारियों से भी बचते हैं।
Child Play
Child Play
प्रकृति के करीब
बच्चों की बाहर खेलन की आदत होने से वे प्रकृति के बारे में काफी कुछ सीखते हैं। बाहर खुले वातावरण में खेलने से वह प्रकृति के करीब आते हंै, प्रकृति के महत्व को जानते हैं। बच्चों का मिट्टी में खेलने से प्रकृति के प्रति उनका जुड़ाव पैदा होता है। वे प्राकृतिक चीजों की अहमियत समझाते हैं और उनका सान्निध्य हासिल कर वे उसके प्रति सकारात्मक बनते हैं।
बीमारियों से बचाव
ब्रिस्टल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता सुजेन वांग के मुबाबिक, बचपन में बैक्टीरिया और वायरस रहित वातावरण आगे जाकर हाई ब्लड प्रेशर और उससे संबंधित कई बीमारियों का खतरा बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता है। इसलिए बचपन में बच्चों को खुले वातावरण और मिट्टी में खेलने देना चाहिए। मिट्टी से खेलने से बच्चों में बीमारियों से लडऩे और जूझाने का माद्दा पैदा होता है। उनकी सहन शक्ति बढ़ती है और वे छोटी-मोटी परेशानियों से आराम से पार पा जाते हैं। आप बच्चों को बाहर खुलकर खेलन दीजिए।
तनाव में कमी
यह सच है कि बच्चों को मिट्टी में खेलने से खुशी मिलती है। मिट्टी में मौजूद माइक्रोस्कोपिक बैक्टीरिया मूड को बेहतर बनाते हैं। बच्चे मिट्टी में खेलने से खुश और रिलैक्स रहते है, साथ ही उनका मूड अच्छा होता है। मिट्टी की महक और मिट्टी में उपस्थित सूक्ष्म कीटाणु बच्चे के मूड को ठीक करता है और उसे खुशी देता है। यही नहीं बच्चा जब दूसरे बच्चों के साथ मिट्टी में खेलता है तो वह ज्यादा बेहतर महसूस करता है और उनके तनाव का स्तर कम होता है। ऐसे में ग्रुप में बच्चों का खेलना अधिक फायदेमंद होता है।
स्मार्ट बनता है बच्चा
पढऩे में आपको यह अटपटा लग सकता है लेकिन यह सच है कि मिट्टी में खेलने वाले बच्चे स्मार्ट बनते हैं। जमीन से जुड़ाव उनमें कई खूबियां पैदा करता है। मिट्टी में पाया जाने वाला बैक्टीरिया दिमाग को तेज करने में मदद करता है। इस तरह हम देखते हैं कि बच्चों को मिट्टी के संपर्क में लाना उनके लिए नुकसानदायक नहीं बल्कि उनको मजबूती प्रदान करता है। खुले में खेलने का मतलब यह नहीं है कि बच्चा गंदगी के संपर्क में आए। मिट्टी के संपर्क और गंदगी के संपर्क के अंतर को जरूर समझाना चाहिए।
रचनात्मकता
यह भी सच है कि मिट्टी में खेलने से बच्चे की रचनात्मकता बढ़ती है। वह मिट्टी के साथ कई तरह के प्रयोग कर खुशी महसूस करता है। ऐसे में बच्चों में रचनात्मकता बढ़ाने के लिए मिट्टी और खुले वातावरण में खेलने देना चाहिए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

वायरल फोटो के बाद गहलोत के मंत्रियों के निशाने पर कटारिया, भाजपा से माफी की मांगआप नेता अग्निपथ योजना के खिलाफ 'प्रतीकात्मक विरोध' के रूप में प्रधानमंत्री मोदी को भेजेंगे 420 रुपएENG vs IND: टेस्ट में ब्लू कैप पहनकर उतरे क्रिकेटेर्स, दिलचस्प है इसके पीछे की वजहMaharashtra Assembly Speaker Election: महाराष्ट्र में विधानसभा स्पीकर का चुनाव आज, भाजपा और महा विकास अघाड़ी के बीच सीधी टक्करमस्क-बेजोस सहित कई अरबपतियों की दौलत में भारी गिरावट, जुकरबर्ग की संपत्ति हुई आधीबिहार में पैसेंजर ट्रेन के इंजन में लगी आग, रक्सौल से नरकटियागंज जा रही थी रेलगाड़ीराहुल गांधी के बयान को उदयपुर की घटना से जोड़ा, जयपुर में रिपोर्ट दर्जMumbai News Live Updates: स्पीकर चुनाव में शिंदे खेमा जीता, राहुल नार्वेकर ने पार किया बहुमत का जादुई आंकड़ा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.