छह इंसानों की हत्या के बाद ही होती है गिरोह के सदस्यों की शादी

क्राइम न्यूज : भरतपुर और धौलपुर पुलिस (Bharatpur and Dhaulpur Police) ने उस छहमार गिरोह (Six hit gang) के 9 सदस्यों को धर दबोचा है, जिन्होंने हत्या सहित डकैती (Robbery with murder) के अलावा कई स्थानों पर लूटपाट (Loot) कर दोनों जिलों की पुलिस की नींद उड़ा दी थी। गिरोह के सदस्य जब तक छह लोगों को नहीं मारते (Do not kill six people), तब तक इनकी शादी (wedding) नहीं होती।

By: vinod

Published: 31 Jul 2019, 06:15 AM IST

 

-भरतपुर और धौलपुर पुलिस ने पकड़े छहमार गिरोह के 9 सदस्य
-गिरोह भरतपुर-धौलपुर में हत्या सहित कई डकैती कर चुका है

भरतपुर/धौलपुर। पिछले करीब दो माह से वारदात दर वारदात से परेशान भरतपुर और धौलपुर पुलिस (Bharatpur r and Dhaulpur Police) ने उस छह मार गिरोह (Six hit gang) के 9 सदस्यों को धर दबोचा है, जिन्होंने हत्या सहित डकैती (robbery y with murder) के अलावा कई स्थानों पर लूटपाट (Loot) कर दोनों जिलों की पुलिस की नींद उड़ा दी थी। छहमार गैंग के बारे में प्रचलित है कि गिरोह के सदस्य जब तक छह लोगों को नहीं मारते, तब तक इनकी शादी नहीं होती।
भरतपुर पुलिस ने उत्तरप्रदेश पुलिस के साथ संयुक्त कार्रवाई में गिरोह के सात सदस्यों को और धौलपुर पुलिस ने तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। धौलपुर पुलिस ने जिन तीन को पकड़ा है, उनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। गिरोह के सदस्यों ने दोनों जिलों में कई डकैती तथा लूट की वारदात कबूल की हैं। भरतपुर के पुलिस अधीक्षक हैदरअली जैदी के अनुसार सोमवार रात कंजौली-सेवर रेलवे लाइन के पास अंतरराज्यीय छहमार गिरोह के सात जनों को पकड़ा गया। पूछताछ में बताया कि गांव जघीना व टोंटपुर में दो जनों की हत्या व डकैती के अलावा पड़ोसी जिले मथुरा, आगरा, धौलपुर व अलवर में एक दर्जन से अधिक लूट, डकैती व नकबजनी की वारदात की हैं।
इनको पकड़ा
पुलिस ने अजमल शाह फकरी (25) निवासी फकीरपुरा थाना इन्दरगढ़ जिला कन्नौज, आरिफ फकीर (25) निवासी भोजपुर थाना भोजपुर जिला मुरादाबाद, नाजिम (25) निवासी सिरौली थाना सिरौली जिला बरेली, हारुन (45) निवासी पितौजा थाना जहानगंज जिला फर्रुखाबाद, ईसुब (50) निवासी मकनपुर थाना भल्लावर जिला कानपुर, नदीम (19) निवासी भोजपुर थाना भोजपुर व नाजिम (28) निवासी उसैद जिला बदायूं (यूपी) को बापर्दा गिरफ्तार किया है।

वारदात से पहले देवी की पूजा कर लगाते थे शराब का भोग
गैंग के सदस्य उत्तरप्रदेश के फर्रुखाबाद, आगरा, फिरोजाबाद, मथुरा, कानपुर, बरेली, बदायूं, कासंगज, एटा, मैनपुरी, कन्नौज में हत्या, लूट, डकैती की साठ से अधिक वारदात कर चुके हैं। गलत नाम पते लिखवाकर कई बार जेल भी जा चुके हैं। गिरोह ने जून-जुलाई में भरतपुर जिले में लूट, डकैती व हत्या की करीब एक दर्जन वारदात की। गिरोह गांव और रेलवे स्टेशन के आस-पास डेरा डालकर फकीर की वेशभूषा में मकान चिह्नित करता है और स्थानीय बाजार से आरी, छैनी, टॉर्च, शराब व भोजन लेकर सुनसान इलाके में छिप जाता है। वारदात से पहले देवी की पूजा कर शराब का भोग लगाकर पेड़ की टहनी को आरी से काटकर कच्छा-बनियान में वारदात करते हैं। वारदात के दौरान कोई जाग जाता है तो उसकी हत्या कर देते हैं।

दिन में घर-घर भीख, रात को वारदात

धौलपुर। धौलपुर पुलिस ने यूपी के छहमार गिरोह के तीन सदस्यों को मंगलवार को सदर थाना क्षेत्र के गांव सूरजपुरा से दबोच लिया। उनके कब्जे से नकबजनी के औजार बरामद किए गए हैं। आरोपितों ने नकबजनी की दो वारदात कबूल की है।
जिला पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि पकड़े गए गिरोह के सदस्य आलम (70) मजीद खां फकीर, निवासी भोजपुर जिला मुरादाबाद, नजमा (50) पत्नी ईशुम निवासी ईदगाह मोहल्ला मखनपुर थाना भिलावर जिला कानपुर तथा काजल (19) पुत्री ईशुम फकीर हैं। एसपी ने बताया कि तीनों यूपी की छहमार गैंग के सदस्य हैं। ये दिन में फकीर के वेश में घर-घर जाकर रोटी मांगने के बहाने घर की रैकी करके रात में वारदात करते थे। पकड़े गए गिरोह ने भरतपुर, धौलपुर, अलवर तथा उत्तरप्रदेश क्षेत्रों में कई वारदात की हैं।
धौलपुर पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने बताया कि छहमार गैंग के बारे में प्रचलित है कि गिरोह के सदस्य जब तक छह लोगों को नहीं मारते, तब तक इनकी शादी नहीं होती। पुलिस ने उनके कब्जे से लूट का माल भी बरामद किया है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned