गुवाहाटी में बाढ़, राजस्थान के इस जाबांज की बटालियन ने सात​ दिन में 3500 लोगों की जान बचाई

गुवाहाटी में बाढ़, राजस्थान के इस जाबांज की बटालियन ने सात​ दिन में 3500 लोगों की जान बचाई

Pushpendra Singh Shekhawat | Updated: 20 Jul 2019, 01:31:20 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Assam Floods : गुवाहाटी में बाढ़ के दौरान शिवदासपुरा निवासी एनडीआरएफ इंस्पेक्टर कैलाश शर्मा ने बताई रेस्क्यू ( Rescue Operation ) की कहानी

देवेन्द्र शर्मा / जयपुर। Assam floods : उफान पर ब्रह्मपुत्र नदी ( Brahmputra river ), किनारे पर बसे एक दर्जन से ज्यादा गांवों में 10 से 15 फीट तक पानी और हजारों लोग डरे-सहमे मौत को सामने देख रहे थे। जैसे ही हमारी बोट उनके पास पहुंची तो उनकी आंखों में एक उम्मीद दिखीं, अब उनकी जिंदगी बच जाएगी।

Assam Floods

सात दिन तक कडी मेहनत और लगातार काम कर 3500 से ज्यादा जिंदगियां बचाई। इस रेस्क्यू ऑपरेशन ( rescue operation ) में खास रहा कि एक भी जिंदगी को पानी में समाने नहीं दिया। यह कहना है कि शिवदासपुरा के रहने वाले एनडीआरएफ ( National Disaster Response Force NDRF ) में इंस्पेक्टर कैलाश शर्मा का।

Assam Floods

गुवाहाटी में स्थित एनडीआरएफ की बटालियन में कैलाश टीम कमांडर है। 11 जुलाई को कमांडेंट रणधीर सिंह गिल से निर्देश मिले कि मोरीगांव, लाहेरीगंज, भोरागांव इलाके में बाढ़ के हालात है। वहां नागरिकों को बचाने पहुंचे। 12 जुलाई को इलाके की रैकी की। टीम में 20 जवान थे, पांच बोटों से राहत व बचाव कार्य शुरू किए गए। 18 जुलाई तक चले ऑपरेशन में 3500 हजार जिंदगियां बचाई गई।

Assam Floods

एक घर में घुसे तो शमशुद्दीन आलम एनआरसी के डॉक्यूमेंट लेकर बैठा था। उसे बचाया, तो वहीं पर उसकी 115 वर्षीय मां शकीना बेगम दिख गई। इस उम्र में उसे रस्सी या फिर लाइफ जैकेट के जरिए लेकर आना बड़ा मुश्किल काम था। लेकिन टीम के जवान व मैंने मिलकर उन्हें सकुशल बाहर निकाला। इसी तरह गर्भवती महिलाएं, बच्चों को भी बचाया गया।

Assam Floods

एक घर में आठ लोग फंसे हुए थे, जैसे-तैसे वह घर के बाहर केले के पेड़ तक आए तो हमने वहां तक रस्सी फेंकी और एक-एक कर उन्हें बोट में ले आए। पूरे ऑपरेशन के दौरान दिल्ली में डायरेक्टर ऑफ एनडीआरएफ सत्यनारायण प्रधान व रणधीर सर पूरी मॉनिटरिंग करते रहे। हमें बताया गया था कि अधिक से अधिक लोगों को बचाया जाए। हमें खुशी है कि सभी लोगों को हम सकुशल निकाल लाए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned