नकली बायोडीजल कैसे पहचानें?

परीक्षण को लैब ही नहीं, नकली और मिलावटी बायोडीजल धडल्ले से बिक्री

डीजल महंगा होने के बाद बिक्री बढ़ी, 10 महीने में 1.26 लाख लीटर पकड़ा
पंजाब व गुजरात से प्रतिदिन 25 लाख लीटर अवैध या नकली बायोडीजल

By: Shailendra Agarwal

Published: 27 Jul 2021, 01:50 AM IST

जयपुर। डीजल महंगा होने के बाद राज्य में बायोडीजल की बिक्री बढ़ी है, लेकिन नकली और मिलावटी बायोडीजल के परीक्षण के लिए प्रयोगशाला ही नहीं है। इस बीच जले हुए ऑयल से तैयार बेस ऑयल गांव-ढाणी पहुंच रहा है। 10 माह में 1 लाख 26 हजार लीटर नकली या पड़ोसी राज्यों से अवैध रूप से आया बायोडीजल पकड़ा गया। बताया जाता है कि पंजाब और गुजरात से प्रदेश के 15 से ज्यादा जिलों में प्रतिदिन 25 लाख लीटर से ज्यादा अवैध या नकली बायोडीजल आ रहा है।
बायोडीजल (बी-100) डीजल से करीब 20 रुपए लीटर सस्ता है, जबकि मिलावटी बायोडीजल और बेसडीजल 60 से 80 रुपए लीटर में मिल रहा है। नकली बायोडीजल के रूप में जले हुए ऑयल को रीसाइकिल कर बेचा जा रहा है। एसओजी व खाद्य विभाग की टीमों ने अक्टूबर से अब तक करीब 7 प्रकरण दर्ज कर 1 लाख 26 हजार लीटर अवैध या नकली बायोडीजल पकड़ा। भीलवाडा जिले में सबसे अधिक 42 हजार लीटर से ज्यादा अवैध डीजल जब्त किया गया।
अवैध बायोडीजल पंजाब व गुजरात से
जानकारी के अनुसार पंजाब के सिलवासा और गुजरात के आनंद, कच्छ समेत कई जिलों से अवैध बायोडीजल आ रहा है, जिसमें नकली बायोडीजल भी शामिल है। गंगानगर और हनुमानगढ़ में प्रति लीटर डीजल 107 रुपए प्रति लीटर है, लेकिन पंजाब के सिलवासा से कथित बायोडीजल महज 80 से 82 रुपए लीटर में आ रहा है। गुजरात सीमा से सटे उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा जिलों के साथ ही जोधपुर जिले में भी अवैध बायोडीजल पहुंच रहा है। इन इलाकों में 60 से 80 रुपए लीटर में नकली बायोडीजल और बेस ऑयल भी बिक रहा है।
जले हुए ऑयल की भी बिक्री
हाल ही में जोधपुर जिले के कई इलाकों में एसओजी और खाद्य विभाग ने बोरानाडा, पीपाड सिटी समेत कई इलाकों में कुछ अवैध पंप सीज किए। पूछताछ में सामने आया कि इन पर जले हुए आयल को रिसाईकिल कर तैयार बेस ऑयल बेचा जा गया, जिसके वाहनों के इंंजन खराब होने का खतरा रहता है।
जोधपुर में प्रदूषण बढ़ा
प्रदूषण में जोधपुर का नाम जयपुर से ऊपर है, जिसका बड़ा कारण मिलावटी बायोडीजल बताया जाता है। जोधपुर में इसकी सबसे ज्यादा बिक्री है।

नकली की मार बायोडीजल पर भी
बायोडीजल के विक्रेताओं ने पंचायती राज विभाग के सचिव केके पाठक से बायोडीजल की अवैध बिक्री की शिकायत की है। उन्होंने अवैध बिक्री से बायोडीजल की बिक्री प्रभावित होने की बात भी कही।

जब्त किया गया अवैध बायो डीजल
भीलवाड़ा—42768 लीटर
उदयपुर—36255 लीटर
राजसमंद— 27400 लीटर
हनुमानगढ—9786 लीटर
बूंदी—6 हजार लीटर
डूंगरपुर—3750 लीटर
पाली—325 लीटर

राज्य में बायोडीजल की स्थिति
- 31 पंजीकृत बायोडीजल पंप
- 11 पंजीकृत बायोडीजल निर्माता
- 4 लाख 20 हजार लीटर प्रतिदिन की उत्पादन क्षमता
- 3 लाख 50 हजार लीटर बिक्री प्रतिदिन
- डीजल से 20 रुपए तक सस्ता है बायोडीजल

प्राधिकरण अवैध बिक्री की जांच करे
नकली और मिलावटी बायोडीजल की बिक्री पूरे राज्य में हो रही है। बायोफ्यूल प्राधिकरण अवैध बिक्री की जांच नहीं कर रहा। राज्य सरकार गुजरात की तरह बायोडीजल की खुदरा बिक्री बंद करे।— राजेद्र सिह भाटी, अध्यक्ष, राजस्थान वैट स्टीयरिंग कमेटी

Shailendra Agarwal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned