scriptPatrika News Impact 5th Board Exam Fee Free of Registered Madrasas | सरकारी पंजीकृत मदरसों से अब नहीं वसूला जाएगा पांचवी बोर्ड परीक्षा शुल्क | Patrika News

सरकारी पंजीकृत मदरसों से अब नहीं वसूला जाएगा पांचवी बोर्ड परीक्षा शुल्क

इस मामले को लेकर राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगी संघ और मदरसों की संयुक्त संस्था मदरसा अल फलाह तंजीम के पदाधिकारियों ने शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला से मुलाकात कर सरकारी पंजीकृत मदरसों को परीक्षा शुल्क से मुक्त रखने की मांग की थी।

जयपुर

Published: May 09, 2022 08:24:06 pm

जयपुर. पांचवी बोर्ड परीक्षा में पंजीकृत मदरसों को परीक्षा शुल्क से मुक्त करने के आदेश जारी हो गए हैं। गौरतलब है कि शिक्षा विभाग प्रायवेट स्कूलों की तर्ज पर सरकारी मदरसों से भी परीक्षा शुल्क के नाम पर 40 रूपए प्रति छात्र वसूल रहा था। जबकि सरकारी स्कूलों के छात्रों को इस शुल्क से मुक्त रखा गया है। ऐसे में सरकारी पंजीकृत मदरसों के संचालकों की मांग थी कि मदरसों के विद्यार्थियों को भी इस शुल्क से मुक्त रखा जाए।
इस मामले को लेकर राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगी संघ ने शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला से मुलाकात की।
इस मामले को लेकर राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगी संघ ने शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला से मुलाकात की।
विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि पहुंचे मंत्री के पास...
इस मामले को लेकर राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगी संघ और मदरसों की संयुक्त संस्था मदरसा अल फलाह तंजीम के पदाधिकारियों ने शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला से मुलाकात कर सरकारी पंजीकृत मदरसों को परीक्षा शुल्क से मुक्त रखने की मांग की थी। वहीं दूसरी ओर मदरसा बोर्ड के तत्कालीन सचिव हरिताभ कुमार आदित्य ने भी शिक्षा विभाग को पत्र लिखकर अवगत कराया था कि पंजीकृत मदरसों में आर्थिक रूप से कमजोर बच्चे पढ़ाई करते हैं, ऐसे में इन्हें सरकारी स्कूलों की भांति परीक्षा शुल्क से मुक्त रखा जाए। जिसके बाद शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर पंजीकृत मदरसों की 5वीं कक्षा के बच्चों के लिए परीक्षा शुल्क माफ करने के आदेश जारी किए। मदरसा अल फलाह तंजीम के अध्यक्ष रफीक गारनेट और नाहरी का नाका स्थित मदरसा जामिया तैयबा के संचालक कारी मोहम्मद इसहाक का कहना है कि समाज की सरपरस्ती में चलाए जा रहे मदरसों का उद्देश्य कमाना नहीं है, बल्कि बच्चों को तालीम देना है। ऐसे में सरकारी मदरसों को दी गई इस राहत का हम स्वागत करते हैं।

25,674 विद्यार्थियों की फीस की बचत होगी

इस मामले को लेकर हमने शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला से मुलाकात की थी। परीक्षा शुल्क मुक्ति से 25,674 गरीब विद्यार्थियों की फीस की बचत होगी। पंजीकृत मदरसे सरकारी देखरेख में ही चलते हैं। ऐसे में हम जरूरतमंद बच्चों के लिए शुल्क माफी की मांग कर रहे थे।
अमीन कायमखानी, संरक्षक
राजस्थान मदरसा शिक्षा सहयोगी संघ

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

यूपी में प्रशासनिक फेरबदल, 4 IAS और 3 PCS किए गए इधर से उधरएंकर रोहित रंजन को रायपुर पुलिस नहीं कर पाई गिरफ्तार, अपने ही दो कर्मचारी के खिलाफ जी न्यूज़ ने दर्ज कराई FIRTwitter ने केंद्र के आदेश को दी कर्नाटक हाई कोर्ट में चुनौती, लगाया ये आरोपबिहार में लैंड नहीं हो सकी फ्लाइट, वापस दिल्ली एयरपोर्ट लौटीगुजरात में भारी बारिश की चेतावनी, एनडीआरएफ की नौ टीम तैनातIndian Air Force:पहली बार पिता-पुत्री की जोड़ी ने साथ उड़ाया विमानमहाराष्ट्र में शिवसेना के टूटने से डरे अरविंद केजरीवाल, अपने विधायकों से की ये अपीलपश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था को लेकर चिंतित BJP नेता सुवेंदु अधिकारी, गृह मंत्री अमित शाह लिखा पत्र
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.