scriptRajasthan BJP leaders are praising Pilot a lot | बीजेपी नेताओं का सचिन पायलट प्रेम, तारीफ के बहाने निशाने पर गहलोत | Patrika News

बीजेपी नेताओं का सचिन पायलट प्रेम, तारीफ के बहाने निशाने पर गहलोत

-पिछले 2 साल बीजेपी के केंद्रीय और प्रदेश के नेता कई बार सार्वजनिक मंचों पर कर चुके हैं सचिन पायलट की तारीफ,1 अगस्त को नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने भी सचिन पायलट की जमकर तारीफ, सचिन पायलट और गहलोत कैंप के बीच अदावत जग जाहिर

जयपुर

Published: August 04, 2022 10:43:40 am

जयपुर। राजस्थान में गहलोत सरकार पर आए सियासी संकट के समय से ही बीजेपी नेताओं का सचिन पायलट प्रेम जग जाहिर है। भाजपा नेता सचिन पायलट की तारीफ करते नहीं थकते हैं। हाल ही में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया भी सचिन पायलट की जमकर तारीफ कर चुके हैं।

photo6080042282624593051.jpg

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने 1 अगस्त को मेहंदीपुर बालाजी के दर्शन के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए सचिन पायलट की जमकर तारीफ की और कहा कि सचिन पायलट ने मरी हुई पार्टी को जिंदा कर दिया था और सीएम गहलोत उन्हें निकम्मा-नकारा कहते हैं। नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया के इस बयान के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं।

जानकारों की माने तो नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया की ओर से सचिन पायलट की तारीफ करने के पीछे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर सियासी हमला है। भाजपा नेता पायलट की तारीफ की आड़ में सीएम गहलोत को निशाना पर ले रहे हैं। सूत्रों की माने तो भाजपा नेता चाहते हैं कि कांग्रेस में सचिन पायलट के और गहलोत कैंप बीच खींचतान चलती रहे जिसका लाभ विधानसभा चुनाव में बीजेपी को हो सके।


बीजेपी के एक दर्जन नेता कर चुके सचिन पायलट की तारीफ
दरअसल राजस्थान में सियासी संकट के बाद से ही बीजेपी के एक दर्जन केंद्रीय नेता और प्रदेश के नेता खुलकर सचिन पायलट की तारीफ कर चुके हैं। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, पूर्व राज्यसभा सांसद ओम माथुर, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ और नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया सहित कई अन्य नेता कई बार मीडिया में और सार्वजनिक मंचों पर भी सचिन पायलट की जमकर तारीफ कर चुके हैं।

गहलोत सरकार पर आए सियासी संकट के दौरान जुलाई 2020 में ओम प्रकाश माथुर ने सचिन पायलट को भाजपा में शामिल होने का ऑफर तक दे दिया था।

बीजेपी के कई नेता यह कहते नहीं थकते हैं कि विपक्ष में रहते सचिन पायलट ने जमकर मेहनत की थी और उन्हीं के दम पर राज्य में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनी लेकिन उसका फल कोई और ले गया। बीजेपी नेताओं का कहना है कि जन समर्थन आज भी सचिन पायलट के साथ है लेकिन कांग्रेस आलाकमान उनकी अनदेखी कर रहा है।


भाजपा नेताओं की प्रशंसा पर सचिन पायलट की चुप्पी
वहीं दूसरी ओर भाजपा नेताओं की ओर से लगातार सचिन पायलट की तारीफ किए जाने पर सचिन पायलट ने चुप्पी साध रखी है। सचिन पायलट भाजपा नेताओं के बयान पर कोई प्रतिक्रिया देने से बचते हैं।


गहलोत पायलट के बीच अदावत जगजाहिर
वहीं दूसरी ओर पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बीच अदावत जगजाहिर है। राजस्थान में कांग्रेस सरकार बनने के बाद से ही सचिन पायलट कैंप और गहलोत कैंप के बीच जुबानी जंग का दौर जारी है।

सचिन पायलट कैंप की बगावत के बाद गहलोत सरकार पर आए सियासी संकट के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को निकम्मा और नाकारा तक कहा था। वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत हाल फिलहाल में भी कई बार निकम्मा और नाकारा शब्द का प्रयोग करते हुए यहां तक कह चुके हैं कि मैं अगर किसी को निकम्मा नकारा कहता हूं तो लोगों को बुरा क्यों लगता है।


सचिन पायलट भी कई बार गहलोत पर साध चुके हैं निशाना
पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बयान पर कई बार निशाना साध चुके हैं। निकम्मे नकारा शब्द पर सचिन पायलट ने कहा था कि अशोक गहलोत उनके पिता तुल्य है इसलिए वो उनकी बात का बुरा नहीं मानते हैं, लेकिन किसी को भी ऐसे शब्द का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए जिससे दूसरों को दुख पहुंचता हो।

यही नहीं, सचिन पायलट साल 2013 में हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी को 21 सीटें और साल 2003 में हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी को 56 सीटें को लेकर भी गहलोत पर निशाना साध चुके हैं।

सचिन पायलट यहां तक कह चुके हैं कि आखिर ऐसी क्या कमी रही थी कि सरकार रिपीट नहीं हो पाती है। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को लेकर में सचिन पायलट ने कहा था कि लोकसभा चुनाव में मुख्यमंत्री के पुत्र वैभव गहलोत जोधपुर से चुनाव हार गए। अगर वो चुनाव नहीं हारते तो गजेंद्र सिंह शेखावत केंद्र में मंत्री नहीं बन पाते।


दोनों खेमों के बीच अभी चल रहा है कोल्ड वॉर
वहीं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सचिन पायलट कैंप के बीच अभी भी कोल्ड वॉर चल रहा है। दोनों खेमों के नेता एक-दूसरे पर बयानबाजी करने का मौका नहीं चूकते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Political Crisis Live Updates: आज नीतीश कुमार 8वीं बार CM पद की लेंगे शपथ, फिर बनेगी 'चाचा-भतीजे' की सरकारBihar : आज 8वीं बार CM पद की शपथ लेंगे नीतीश कुमार, महागठबंधन के मंत्रिमंडल में होंगे 35 विधायकBihar Politics: नीतीश कुमार की 'अवसरवादी राजनीति' की गूंज कहां तकWorld Biofuel Day : PM मोदी आज पानीपत में 2जी एथेनॉल प्लांट राष्ट्र को समर्पित करेंगेMaharashtra: महाराष्ट्र विधानसभा का मानसून सत्र आज से होगा शुरू, सचिवालय ने सभी कर्मचारियों को दिया ये आदेशजम्मू कश्मीर: बडगाम में एनकाउंट जारी, सुरक्षा बलों ने राहुल भट और अमरीन भट के हत्यारे सहित तीन आतंकियों को घेरासीओडी: मॉडर्न वॉरफेयर 2 की सितंबर से होगी शुरुआतदुबई में बना भव्य हिंदू मंदिर, दशहरा पर अनावरण की तैयारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.