खुशखबरी : राजस्थान सरकार ने जारी की अटकी नौकरियों की नियुक्ति के आदेश

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

शादाब अहमद / जयपुर. विधानसभा चुनाव की आचार संहिता से अटकी लिपिक ग्रेड-द्वितीय 2013 के 902 अभ्यर्थियों को नियुक्ति देने के आदेश जारी कर सरकार ने भर्तियों की राह खोल दी है। हालांकि अभी भी करीब 30 हजार से अधिक भर्तियां पाइप-लाइन में अटकी हुई है। चुनाव से कुछ महीने पहले भाजपा ने सत्ता में रहते हुए एक के बाद एक भर्तियां निकाली। इनमें से अधिकांश चुनाव आचार संहिता में अटक गई।

 

वहीं कुछ पुरानी भर्तियों में अभ्यर्थियों को दी रियायत का फायदा भी इसके चलते नहीं मिल पाया। इसमें लिपिक ग्रेड-द्वितीय 2013 भी शामिल थी। इस भर्ती का परिणाम 7 जुलाई 2017 को आया था। इसके तहत 5952 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया था। इनको नियुक्ति आदेश दिए गए, लेकिन 1325 अभ्यर्थियों ने पदभार नहीं संभाला। इस पर राजस्थान लोक सेवा आयोग द्वारा जारी आरक्षित सूची से 917 अभ्यर्थियों को 16 जुलाई 2018 को पिक-अप किया गया। 11 सितम्बर 18 को इन अभ्यर्थियों के आवेदन पत्रों की जांच भी हो गई, लेकिन इसी बीच चुनाव घोषित हो गए और यह भर्ती अटक गई।

 

इसके बाद कांग्रेस सत्ता में आई और सफल अभ्यर्थियों ने उनको नियुक्ति देने की मांग की। अब प्रशासनिक सुधार विभाग ने 917 में से 902 अभ्यर्थियों के नियुक्ति आदेश जारी कर दिए हैं। हालांकि इनको जिले और विभाग आवंटन की प्रक्रिया चल रही है। अगले एक सप्ताह में यह काम पूरा हो जाएगा।

 

15 अभ्यर्थियों की अनुशंसा रोकी

प्रशासनिक सुधार विभाग के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार पिकअप लिस्ट से चयनित 15 अभ्यर्थियों की आरपीएससी ने अनुशंसा नहीं की है। ऐसे में यह अभ्यर्थी अगले 15 दिन में आयोग के समक्ष अभ्यावेदन पेश कर सकते हैं।

Show More
pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned