पति से प्रताड़ित महिला को कश्मीर ले जाकर बलात्कार, दो भाई गिरफ्तार

कश्मीर में तलाश के बाद गुड़गांव से किया गिरफ्तार

By: Lalit Tiwari

Published: 22 Jul 2021, 11:04 PM IST

प्रताप नगर थाना पुलिस ने पति से प्रताड़ित तथा आर्थिक रुप से परेशान महिला को दिल्ली में रोजगार दिलवाने के बहाने कश्मीर ले जाकर जबरन धर्म परिवतर्न कर डरा धमकाकर बलात्कार करने वाले आरोपी और गलत काम में उसका साथ देने वाले सगे भाई को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपी शाहिद बच्चे को जान से मारने और अश्लील वीडियो सार्वजनिक करने की धमकी देकर बलात्कार करता था। जबरन संबंध बनाने से पीड़िता के एक पुत्री भी हुई हैं। आरोपी पीड़िता के धार्मिक विश्वासों को ठेस पहुंचाने का काम करता था।
डीसीपी (पूर्व) प्रहलाद कृष्णियां ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी गोपालगढ़ भरतपुर निवासी शाहिद (28) पुत्र इस्लाम और अमीर हुसैन हैं। पुलिस ने बताया कि बदमाशों को पकड़ने के लिए गोपालगढ़, भरतपुर, फिरोजपुर, झिरका, नूह, मेवात, सोहना गुड़गांव, दिल्ली, पानीपत और कश्मीर में टीमों को भेजा गया। टीम को गुड़गांव में आरोपी अमीर हुसैन की टैक्सी केब में बैठे होने की सूचना मिली थी। इस पर पुलिस ने घेराबदी कर कर शाहिद और आमिर को प्रताप नगर लाया गया। मुख्य आरोपी शाहिद ने बताया कि उसके खिलाफ प्रकरण दर्ज होने की खबर समाचार पत्रों में प्रकाशित होने के बाद उसके भाई अमीर हुसैन ने फोन पर दी थी। इसके बाद वह अपने बचाव के लिए श्री नगर कश्मीर से रवाना होकर अपने भाई अमीर हुसैन के पास चला आया था। यहां पर पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

पीड़िता की मजबूरी का उठाया फायदा-
आरोपी शाहिद ने बताया कि वह दस साल से जेसीबी चलाने का काम कर रहा था। वर्ष 2016 में बैनाड में जेसीबी चलाता था और किराए से रहता था। उसी मकान में परिवादिया भी अपने पति और बच्चों के साथ रहती थी। उसका पति उसके साथ मारपीट करता था और निजी आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए खर्चा भी नहीं देता था। इसी मजबूरी का फायदा उठाते हुए उसने पीड़िता से नजदीकियां बढ़ा ली और रोजगार दिलाने के लिए दिल्ली ले जाने के लिए तैयार कर लिया। आरोपी खुद को कुंवारा बताता था। लेकिन वास्तव में वह शादी शुदा था। उसके दो बेटियां है जिसे भी उसने छिपाया। आरोपी दिल्ली के बजाय उसे कश्मीर ले गया जहां डरा धमकाकर बच्चे को जान से मारने की धमकी देकर बलात्कार किया। इसके बाद उसने नोएडा, गांव पीपरोली, भरतपुर कोटा, जयपुर सीकर आदि जगहों पर रखा जिसके बाद वह गर्भवती हो गई और उसने एक बेटी को जन्म दिया। आरोपी शाहिद ने परिवादिया के आधार कार्ड में संशोधन करवा लिया। कई अवसरों पर परिवादियों को अपने धर्म की परम्पराओं का पालन करने का दबाव भी बनाया गया।

Show More
Lalit Tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned