दूसरे दिन भी टंकी से नीचे नहीं उतरी छात्राएं, धरना जारी

By: Arvind Palawat

Published: 22 Dec 2019, 08:44 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India
1/2

जयपुर। स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा की तिथि आगे बढ़ाने की मांग को लेकर जगतपुरा स्थित सीबीआई फाटक के पास पानी टंकी पर चढ़ी पांच छात्राएं अब तक नहीं उतरी है। शनिवार दोपहर करीब एक बजे ये छात्राएं पानी की टंकी पर चढ़ी थी, जो अब तक नीचे नहीं उतरी है। वहीं, पुलिस प्रशासन के अधिकारी लगातार समझाईश कर रहे है, लेकिन छात्राओं ने तब तक उतरने से इनकार किया है जब तक सरकार की ओर से परीक्षा तिथि को आगे नहीं बढ़ाया जाता है। छात्राएं रातभर सर्दी में पानी की टंकी पर ही डटी रही। बताया जा रहा है कि छात्राओं के पास पेट्रोल की भरी बोतल भी मौजूद है।

रस्सी से बांधकर पहुंचाया खाना
इधर, शनिवार शाम को छात्राओं को रस्सी के सहारे बिस्तर और खाना पहुंचाया गया था। इसके बाद रविवार को भी खाना—पानी रस्सी से बांधकर टंकी पर चढ़ी छात्राओं के पास पहुंचाया गया है। गौरतलब है कि अभ्यर्थियों ने परीक्षा तिथि पांच महीने आगे बढ़ाने, बाहरी राज्यों के छात्रों का कोटा कम करने सहित पांच मांगों को लेकर 23 नवम्बर को अभ्यर्थियों ने राजस्थान विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर धरना शुरू किया था। परीक्षा तिथि आगे नहीं बढ़ने पर 16 दिसंबर को हजारों अभ्यर्थी राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा के नेतृत्व में विश्वविद्यालय से सिविल लाइंस और उसके बाद शहीद स्मारक पहुंचे, वहां पांच दिन धरना देने के बाद शनिवार को पांच अभ्यर्थी जगतपुरा में पांनी की टंकी पर चढ़ गई।

बेटियों की सुध ले सरकार: सुमन शर्मा
वहीं, सीबीआई फाटक पर पानी की टंकी पर पहुंची महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा ने कहा कि बेटियां लंबे समय से टंकी पर चढ़ी हुई है। लेकिन सरकार की ओर से अभी तक कोई प्रतिनिधि नहीं आया है। सरकार सीएए के मुद्दे पर सड़क पर मार्चपास्ट कर रही है। दूसरी ओर बेटियां अपनी मांगों को लेकर पानी की टंकी पर चढ़ी हुई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned