अपना काम भी निकालें और बच्चों को भी रखें बिजी

सामान्य तौर पर 'वर्क फ्रॉम होम' अच्छा है लेकिन कोरोना लॉकडाउन के दौर में यह एक 'आर्ट' है

By: Amit Purohit

Published: 23 Apr 2020, 06:00 AM IST

जब आप ऑफिस का काम घर से कर रहे होते हैं तो बच्चों को व्यस्त रखना भी अपने आप में एक पूर्णकालिक काम हो सकता है - यही वजह है कि वर्क फ्रॉम होम करते हुए माता-पिता के लिए बच्चों को बिजी रखने के नित नए तरीके निकालते होते हैं। बड़ों के विपरीत अधिकांश बच्चे यह नहीं जानते हैं कि खुद का मनोरंजन कैसे करना है। इस मामले में बच्चों को थोड़ा प्रोत्साहन और कुछ प्रशिक्षण देेने की आवश्यकता है, जैसे किताबे पढऩा या ड्राइंग बनाना। बच्चे इन कम रोमांचक लेकिन आनंददायक गतिविधियों के साथ रच-बस जाते हैं, तो वे अपना ध्यान इन पर जमाना सीखते हैं और बाद में इनका आनंद भी उठाने लगते हैं। 

स्केचबुक में ड्रॉइंग करना
यह प्री स्कूल या इससे बड़े बच्चों के लिए बहुत अच्छी गतिविधि हो सकती है। ये बच्चों को घंटों तक लुभाएं रख सकती है। हालांकि, अगर यह एक स्वतंत्र गतिविधि है, तो बच्चों को ड्रॉइंग सेटअप करने और बाद में जगह की सफाई करने में सक्षम होना चाहिए। इसलिए इसे सरल रखें! छोटे बच्चों के लिए ड्रॉइंग के साथ कटिंग वाले प्रोजेक्ट भी हैं तो आप उन्हें पहले से कटिंग करके रख सकते हैं। कम उम्र के बच्चों के लिए इसे रंगों से खेलने भर जितना सरल बनाइए।

किताबों से प्यार करना सिखाएं
हालांकि 8 वर्ष से कम उम्र के भी कई बच्चे किताबें पढ़ सकते हैं, पर यह एक स्वतंत्र गतिविधि बन जाए, इसके लिए निश्चित स्तर तक दक्षता चाहिए होती है। कई सरल या लगभग चित्रात्मक किताबें हैं जो सभी उम्र और पढ़ाई के स्तर वाले बच्चों को पसंद आएगी। अगर आप काम करते समय किसी अनिच्छुक या संघर्षरत पाठक को कुछ कठिन पढऩे के लिए देते हैं, तो आप उनमें किताबों से प्यार करने वाली आदत को विकसित नहीं करवा पाएंगे।

झपकी का इस्तेमाल
कुछ माता-पिता बच्चों की झपकी वाले समय पर अपना काम करते हैं पर ध्यान रखें कि नपिंग की आदतें अक्सर बदलती रहती हैं। इस समय के लिए महत्त्वपूर्ण फोन कॉल या आंकड़े को शेड्यूल न करें। बल्कि इस दौरान आप भी झपकी लें यानी आराम करें, या घर के काम, पढऩा, आदि करें।

खिलौने हो कुछ ऐसे
माता-पिता जानते हैं कि बच्चे अपने खिलौनों में कितनी जल्दी दिलचस्पी खो देते हैं। बोर्ड गेम, कार्ड्स, कंस्ट्रक्शन टॉयज, ट्रेन, प्लेसेट और पजल कुछ ऐसे ही अच्छे खिलौने हैं जो बच्चों को घंटों तक बांधे रख सकते हैं। लेकिन कभी-कभी उन्हें इन खिलौनों की याद दिलानी पड़ती है।

कल्पना की उड़ान
यह कुछ ऐसा है, जो अगर हो जाए तो आपका काम बहुत आसान हो सकता है। बड़े बच्चों को कोई नाटक तैयार करने या कहानी लिखने के लिए उत्साहित करें। पालतू जानवरों के साथ खेलना या म्यूजिक तैयार करना भी इसमें शामिल हो सकता है।

घर को ही बना ले खेल
बड़े बच्चों को आप घर के कामों में भी बिजी कर सकते हैं। जैसे कमरा साफ करना या किचन के बरतन धोना। हालांकि यह उनके लिए बोरिंग हो सकता है लेकिन यह आपकी टास्क है कि आप ऐसे कामों को भी उनके लिए कितना इंट्रेस्टिंग बना सकते हैं। 

Amit Purohit Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned