सावधान! मासूम बच्चों को जेहादी बना रहा पाकिस्तान

सावधान! मासूम बच्चों को जेहादी बना रहा पाकिस्तान
सावधान! मासूम बच्चों को जेहादी बना रहा पाकिस्तान

arun Kumar | Updated: 07 Sep 2019, 01:43:15 AM (IST) Jammu, Jammu, Jammu and Kashmir, India

पाकिस्तानी (Pakistan) खुफिया एजेंसी आईएसआई आतंकी (ISI) संगठनों से मिलकर मासूम बच्चों के जेहन में जेहाद (Terrorism) का जहर (Poision) घोल रहीे है। गुलाम कश्मीर (Kashmir) में बच्चों की रैली निकलवाकर भारत (India) के खिलाफ नारेबाजी (Protest) करवाकर वीडियो (Video) बनाकर वायरल कर रही है।

योगेश. जम्मू
जम्मू-कश्मीर और अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर मात खा चुका पाकिस्तान अब बैखलाया घूम रहा है। कभी वह भारत पर एटमी हमले की धमकी दे रहा है तो कभी हिंदुस्तान को तबाह करने के लिए आतंकियों की फौज तैयार करने की गीदड़ भभकी देता है। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद से पाकिस्तान गुलाम कश्मीर में छोटे-छोटे बच्चों के दिमाग में जिहाद का जहर घोल रहा है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई आतंकी संगठनों के साथ जबरन बच्चों की रैली निकलवाकर कश्मीर की आजादी और भारत सरकार के खिलाफ नारेबाजी करवा रहे हैं। इसके बाद आईएसआई बच्चों के वीडियो बनाकर वायरल कर रही है।

हम कश्मीर में जंग को तैयार

सावधान! मासूम बच्चों को जेहादी बना रहा पाकिस्तान

पाक खुफिया एजेंसी और विभिन्न आतंकी संगठन अब बच्चों को ढाल बनाकर कश्मीर में जंग की तैयारी कर रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, गुलाम कश्मीर में छोटे-छोटे बच्चों के जेहन में जहर घोला जा रहा है। बात सिर्फ यही नहीं, बच्चों को भारत के खिलाफ जहर उगलने को उकसा रहा है। कश्मीर में जंग का एलान करने को जबरन मासूमों से नारे बुलवा रहा है। वीडियो में यह बच्चे मोदी सरकार के खिलाफ भी नारेबाजी करते और हम कश्मीर में जंग के लिए तैयार हैं कहते दिख रहे हैं।

नापाक मंसूबों के लिए रैलियां

सावधान! मासूम बच्चों को जेहादी बना रहा पाकिस्तान

पाकिस्तान गुलाम कश्मीर में अपने नापाक मंसूबों को पूरा करने के लिए रैलियां आयोजित करा रहा है। इन रैलियों में बच्चों को लालच देकर लाया जा रहा है, और फिर इन्हें जेहाद का पाठ पढ़ाया जा रहा है। बच्चों को जिहाद का पाठ पढ़ाने के साथ उनके दिमाग में भरा जा रहा है कि कश्मीर में कौम के साथ काफी गलत हो रहा है। इसलिए तुम्हें बदले के लिए तैयार होनेा होगा। गुलाम कश्मीर के अधिकतर इलाकों में इस तरह की रैलियां पिछले कुछ दिनों से ज्यादा ही निकल रही हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned