scriptpanchayat election | चुनाव में पिछडऩे पर हैंडपंप पर रोक, खेत में बोवनी पर धमकाया, सड़क पर चलना मुश्किल | Patrika News

चुनाव में पिछडऩे पर हैंडपंप पर रोक, खेत में बोवनी पर धमकाया, सड़क पर चलना मुश्किल

पूर्व सरपंच हथियार के बल पर 3 दिनों से गांव वालों को धमका रहा, कलेक्टर व एसपी से गुहार
ग्राम पंचायत खेड़ा के वार्ड नंबर 4 का मामला, पुलिस की निगरानी में बोवनी

झाबुआ

Published: July 06, 2022 01:44:03 am

झाबुआ. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव संपन्न होते ही गांव से झगड़े- फसाद की खबरें आना शुरू हो गई है। ज्यादातर मामले कम अंतर से पिछडऩे वाले क्षेत्रों में हुए हैं। हालांकि प्रत्याशियों के जीत की औपचारिक घोषणा 14 जुलाई और 15 जुलाई को होना है। फिर भी मतदान केंद्र पर हुए प्रारंभिक मतगणना के आंकड़ों के आधार पर प्रत्याशियों ने हार- जीत की पड़ताल अपने स्तर पर की है। इसके बाद से ही गांवों में विवादों का दौर शुरू हो गया। ताजा मामले में ग्राम पंचायत खेड़ा के वार्ड नंबर 4 में पंच पद पर अपना दावा मजबूत करने वाली नूरी पति मुनङ्क्षसह गामोड के साथ सैकड़ों ग्रामीण कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक को आवेदन देने पहुंचे। ग्रामीणों ने गुहार लगाई कि पूर्व सरपंच चुनाव में पिछडऩे के बाद जान से मारने की धमकी दे रहा है। हैंडपंप पर पानी नहीं भरने दे रहा, मतदान परिणाम में आगे होने वाले सरपंच प्रत्याशी के समर्थकों का रहना मुश्किल हो गया है। सड़क पर चलना दूभर हो गया है, वहीं खेतों में बोवनी करने से रोका जा रहा है। अधिकारियों ने ग्रामीणों की शिकायत सुनी और निराकरण का आश्वासन दिया। अब गांव में पुलिस बांड ओवर के जरिए झगड़ा समाप्त करेगी। पुलिस ने अपनी निगरनी में बोवनी करवाने की बात कही है।
चुनाव में आगे होने पर गांव में रहना किया मुश्किल
नूरी ने अपने आवेदन में बताया कि चुनाव में उसके सामने खड़े होने वाला प्रत्याशी चेन ङ्क्षसह अमलियार 20 सालों से क्षेत्र का सरपंच है , अब चुनाव में पिछडऩे पर चैन ङ्क्षसह और उसके रिश्तेदार कमल ङ्क्षसह , सावन ,अमित ,सुनील ,देवचंद, मनोहर,धन्ना ,वीनू ,ङ्क्षलबू ,अनीता ,ङ्क्षजगू ,राजू बाबू सहित लगभग 50 लोगों ने नूरी और उसके समर्थकों का गांव में रहना मुश्किल कर दिया है। नूरी के समर्थकों को सार्वजनिक रास्ते से गुजरने पर जान से मारने की धमकियां मिल रही है। यही नहीं सार्वजनिक हैंडपंप पर पानी भी भरने नहीं दिया जा रहा है। गांव में एक ही हैंडपंप होने के कारण जल संकट खड़ा हो गया है। नूरी के समर्थक दिव्येश अमलियार को अपने खेत में बोवनी से रोका जा रहा है। साथ ही मारने पीटने की धमकियां दी जा रही है।
झगड़ा करने हथियार लेकर पहुंचे
नूरी एवं उसके समर्थकों के घर पर पूर्व सरपंच चैन ङ्क्षसह के लोग हथियार लेकर झगड़ा करने पहुंचे। इन्होंने ग्रामीणों के साथ मारपीट भी की। जाते-जाते जान से मारने की धमकी दी। मूलभूत सुविधाओं से वंचित कर दिया। नूरी ने अपने कार्यकर्ताओं के घर लूटपाट होने की शिकायत भी दर्ज करवाई है।
ग्रामीणों ने बताया अपना दर्द
दिव्येश ङ्क्षसह अमलियार ने बताया कि ग्राम पंचायत खेड़ा के माता फलिया में मेरी पैतृक संपत्ति है जहां पर वर्षों से मेरा परिवार खेती करते आ रहा है। चुनाव में हारने के बाद अब मुझे खेती से रोका जा रहा है और जान से मारने की धमकी दी जा रही है । प्रशासन से सुरक्षा देने की मांग की है।
अमरी पति नाहर ङ्क्षसह डामोर ने बताया कि घर आकर हमें गांव छोडऩे की धमकी दी, जिससे मेरा परिवार सदमे में है। सुनील भूरिया ने बताया कि घर पर धारदार हथियार लेकर रोजाना पूर्व सरपंच के लोग आ रहे हैं। लगातार मुझे जान से मारने की धमकियां मिल रही है। किला पति दिलीप खडिय़ा ने बताया कि विपक्षी लोग गांव से बाहर करने के लिए रोज परेशान कर रहे हैं घर के पास लगे हैंडपंप से पानी नहीं भरने दिया जाता, घर के सामने बने रोड से भी निकलने नहीं दिया जा रहा है।
मूलभूत सुविधाओं से रोक रहे दबंग
चुनाव में पिछडऩे पर हैंडपंप पर रोक, खेत में बोवनी पर धमकाया, सड़क पर चलना मुश्किल
चुनाव में पिछडऩे पर हैंडपंप पर रोक, खेत में बोवनी पर धमकाया, सड़क पर चलना मुश्किल
दरअसल पिछले 23 साल से खेड़ा गांव में चैन ङ्क्षसह अमलियार सरपंच है। क्षेत्र में हर विकास कार्य पर ये अपना अधिकार जता रहे हैं। आदतन अपराधी होने के कारण पूर्व सरपंच के परिवार के लोगों पर जिला बदर की कार्रवाई भी हुई है। कई गंभीर वारदातों एवं हत्या के मामलों में भी प्रकरण दर्ज हुआ है। गांव में रहने वाले अयूब, टीमा, संघा, गुलाब ,रमीला, मखनी, प्रेम ङ्क्षसह, नरङ्क्षसह ,गंगा ङ्क्षसह ने बताया कि चुनाव हारने के बाद सारा दोष जनता पर मढ कर मूलभूत सुविधाओं से वंचित रखा जा रहा है। 3 दिनों से लगातार डराया- धमकाया जा रहा है, जिससे ग्राम पंचायत में भय का माहौल है। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक से शिकायत कर गांव के लोगों को सुरक्षा का माहौल देने की मांग की है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Bihar Cabinet Expansion Live Updates: विजय कुमार चौधरी, विजेंद्र यादव, तेज प्रताप सहित इन विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथदलित वोट छिटकने का डर: डैमेज कंट्रोल में जुटे सत्ता-संगठन, आधा दर्जन मंत्रियों ने जालोर में डेरा डालाकौन होगा बिहार का नेता प्रतिपक्ष: जेपी नड्डा की मौजूदगी में दिल्ली में बैठक, इन मुद्दों पर भी होगी चर्चाFIFA ने भारतीय फुटबॉल महासंघ को किया सस्पेंड; महिला वर्ल्ड कप की मेजबानी भी छीनीमहागठबंधन सरकार बनते आनंद मोहन को मिली आजादी, पटना में परिजनों से मिले, जेल के बदले सर्किट हाउस में बिताई रातसीएम गहलोत का आज से तीन दिवसीय गुजरात दौरा, चुनावी तैयारियों पर पार्टी नेताओं के साथ होगा संवादतेज हवा और झमाझम बारिश से लखनऊ में ऐतिहासिक भूल भुलैया का गुम्बद गिरापूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि आज, राष्ट्रपति, पीएम मोदी सहित कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.