भारत सरकार मोबाइल एप के जरिए देगी 5 लाख युवाओं को नौकरी

इस एप का नाम GSPD-NVIS एप नाम दिया गया है और इसे स्मार्टफोन पर डाउनलोड कर कार्यक्रमों तथा जॉब्स के लिए आवेदन किया जा सकता है।

Sunil Sharma

May, 1512:48 PM

GSPD-NVIS भारत सरकार ने अपनी महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट ग्रीन स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम (GSPD) के तहत 30 विशेषज्ञ पाठ्यक्रमों में नामांकन शुरू करने के लिए एक नया मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च किया है। इस मोबाइल एप्लिकेशन के जरिए सरकार पांच लाख से अधिक युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाएगी। इस एप का नाम GSPD-NVIS एप नाम दिया गया है और इसे स्मार्टफोन पर डाउनलोड कर कार्यक्रमों तथा जॉब्स के लिए आवेदन किया जा सकता है।

ये भी पढ़ेः आज ही आजमाएं ये उपाय तो पक्का डबल हो जाएगी इनकम

ये भी पढ़ेः हर महीने कमाएंगे लाखों, बनाएं एथिकल हैकिंग में कॅरियर

मोदी सरकार की इस पहल के तहत देश भर के टॉप 84 इंस्टीट्यूट्स (जिनमें WII, Dehradun, Bombay Natural History Society, Bontinacal Survey of Pune जैसे इंस्टीट्यूट भी शामिल हैं) में विशेष पाठ्यक्रम पढ़ाएं जाएंगे। कोर्सेज के तहत पर्यावरण संरक्षण, बांस के प्रचार, प्रबंधन और प्रबंधन के लिए स्कूबा डाइविंग, नदी डॉल्फ़िन संरक्षण, वन एंटोमोलॉजी, कीट नियंत्रण, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, पर्यावरण कानूनों और वानिकी, पैरालीगल प्रथाओं, और संचालन और प्रबंधन आदि विषय शामिल किए गए हैं।

ये भी पढ़ेः बायोलॉजिकल फील्ड में प्लांट पैथोलॉजी है अच्छा ऑप्शन, फॉरेन जाने के भी हैं चांस

ये भी पढ़ेः रोज एक डॉलर के दान से गांव का सरकारी स्कूल बना हाईटेक, निजी स्कूलों को दी मात

इन कोर्सेज में आवेदन करने के लिए न्यूनतम योग्यता विज्ञान से स्नातक डिग्री रखी गई है जो अन्य कोर्सेज के हिसाब से अधिक भी हो सकती है। कोर्सेज ज्वॉइन करने वाले युवाओं की पूरी ट्यूशन फीस तथा अन्य खर्चे सरकार द्वारा वहन किए जाएंगे। विशेष आवश्यकता होने पर सरकार बोर्डिंग का खर्चा भी वहन करेगी। इन पाठ्यक्रमों को पूरा करने के बाद भारत सरकार जॉब उपलब्ध करवाएगी।

उन्होंने आगे कहा कि सरकार द्वारा चलाए जा रहे इस विशेष कार्यक्रम का उद्देश्य 80,000 युवाओं को हरीत कौशल प्रदान कर उन्हें रोजगार उपलब्ध करवाना है। उन्होंने बताया कि सरकार का लक्ष्य इस योजना के तहत अगले वर्ष तक 2.25 लाख लोगों को लाना है जो कि 2021 तक 5 लाख तक हो जाएगा।

Show More
सुनील शर्मा Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned