बिल का भुगतान के बदले 25 प्रतिशत कमीशन, 12500 रुपए रिश्वत लेते डॉक्टर गिरफ्तार

बिल का भुगतान के बदले 25 प्रतिशत कमीशन, 12500 रुपए रिश्वत लेते डॉक्टर गिरफ्तार

Santosh Kumar Trivedi | Publish: Sep, 04 2018 03:59:10 PM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news/

जोधपुर। भाग्यश्री महिला बचत समूह की ओर से राज्य सरकार की कलेवा योजना के तहत बकाया भुगतान के बदले पच्चीस प्रतिशत कमीशन के तौर पर 12500 रुपए रिश्वत लेते लोहावट में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी अधिकारी डॉक्टर प्रदीप विश्नोई को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने मंगलवार को गिरफ्तार किया।

 

ब्यूरो के पुलिस अधीक्षक डॉ विष्णु कांत ने बताया कि लोहावट स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी अधिकारी डॉ प्रदीप विश्नोई पुत्र रामलाल को साढ़े बारह हजार रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया है। आरोपी डॉक्टर बाड़मेर जिले में पचपदरा तहसील के कुड़ी गांव का रहने वाला है।

 

लोहावट में जाटाबास निवासी भाग्यश्री पत्नी जयकिशन शर्मा की शिकायत पर यह कार्रवाई की गई है। भाग्यश्री महिला बचत समूह की सदस्य का आरोप है कि समूह की ओर से राज्य सरकार की कलेवा योजना के तहत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में प्रसूताओं को चाय, नाश्ता, बिस्किट आदि के 85 हजार रुपए का बिल बकाया है, जिसका भुगतान करने के लिए आरोपी डॉक्टर ने पच्चीस प्रतिशत कमीशन मांगा।

 

कुल बिल का पचास हजार रुपए भुगतान करने का विश्वास दिलाया, जिसके बदले उसने साढ़े बारह हजार रुपए मांगे। इसकी शिकायत एसीबी से की। वह भुगतान लेने मंगलवार को सीएचसी पहुंची, जहां उसको सिर्फ पैंतीस हजार रुपए का ही चैक जारी किया गया और बदले में साढ़े बारह हजार रुपए ले लिए इशारा मिलते ही एसीबी की ग्रामीण चौकी प्रभारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल सिंह भाटी ने दबिश देकर डॉक्टर को रंगे हाथों रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। उसकी पेंट की पीछे वाली दाहिनी जेब से रिश्वत राशि जब्त कर ली गई आरोपी को लोहावट थाने ले जाकर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned