कोई छह तो कोई दस हजार में लेकर आया अमान्य सर्टिफिकेट

 

-शिक्षा विभाग में अमान्य सर्टिफिकेट लगा प्रमोशन लेने वाले शिक्षकों की सुनवाई शुरू

By: Abhishek Bissa

Published: 12 Jul 2021, 11:13 PM IST

जोधपुर. शिक्षा विभाग में अमान्य सर्टिफिकेट लगा वरिष्ठ अध्यापक पद का प्रमोशन लेने वाले 28 संस्कृत के अध्यापकों को सुनवाई के लिए सोमवार को बुलाया गया। ये सुनवाई स्कूल शिक्षा के संयुक्त निदेशक प्रेमचंद सांखला ने की।
इस सुनवाई के दौरान कई शिक्षक घबराए हुए नजर आए। शिक्षकों ने बयानों में सर्टिफिकेट लाने की अलग-अलग कीमत बताई। किसी ने छह हजार तो किसी ने दस हजार रुपए बताए। कई बयानों को शिक्षा विभाग ने विवादास्पद माना। शिक्षकों ने बताया कि संबंधित विश्वविद्यालयों का पता उन्हें अपने साथियों से चला। उल्लेखनीय हैं कि शिक्षा विभाग अब लगातार 15 जुलाई तक अमान्य सर्टिफिकेट लगा प्रमोशन लेने वाले शिक्षकों की सुनवाई करेगा। इस सुनवाई के बाद आगे कार्रवाई करेगा। आशंका हैं कि इन शिक्षकों को पदावनत किया जा सकता है। इसमें संस्कृत विषय के जोधपुर से 23, जैसलमेर से 3, अलवर-दौसा से 1-1 वरिष्ठ अध्यापक उपस्थित हुआ। अंग्रेजी में जोधपुर से 15, बाड़मेर से 4 ,जैसलमेर से 5, उदयपुर से 1 वरिष्ठ अध्यापक उपस्थित होगा। गणित विषय में जोधपुर के 27, बाड़मेर-7, जैसलमेर-3, सीकर-1 व जयपुर का एक वरिष्ठ अध्यापक हाजिर होगा। इसी प्रकार हिंदी विषय में जोधपुर-11, बाडमेर-3, जैसलमेर-1 का वरिष्ठ अध्यापक व्यक्तिगत सुनवाई में भाग लेगा।

Abhishek Bissa Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned