जोगी बोले - मैं नहीं लड़ूंगा चुनाव, 90 में से सिर्फ दो सीट मेरे परिवार को दूंगा

छजकां के संस्थापक एवं पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा मैं खुद चुनाव नहीं लडूंगा, सिर्फ दो सीटों पर परिवार को टिकट दूंगा। 

By: अभिषेक जैन

Published: 22 Aug 2017, 03:02 PM IST

कांकेर. छजकां के संस्थापक एवं पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि सूबे में पाप की पराकाष्ठा पार हो गई है। गौ माता की हत्या हो रही है। चारागाह की भूमि पर रसूखदार कब्जा कर रहे हैं। चारा नहीं होने से किसान अपने जानवरों को सड़क पर छुट्टा छोड़ रहे हैं। प्रदेश की 90 सीटों पर छजकां चुनाव लड़ेगी। मैं खुद चुनाव नहीं लडूंगा, सिर्फ दो सीटों पर परिवार को टिकट दूंगा। उक्त बातें उन्होंने नया रेस्ट हाऊस में पत्रकारों से बातचीत में कही। जोगी ने कहा कि जिन पुलिस कर्मचारियों को थोक के भाव में बर्खास्त किया गया है, उसमें से 80 फीसदी से अधिक लोग एससी-एसटी परिवार के हैं। दूसरे वर्ग के लोगों ने भी अनियमितता की है, उन लोगों पर कार्रवाई नहीं की जा रही है। जानबूझ कर एससी-एसटी के लोगों के साथ अन्याय किया जा रहा है।

 

ajit jogi

उन्होंने कहा कि गौ हत्या की संख्या प्रदेश सरकार मात्र दो सौ बता रही है। जबकि गौ शाला चलाने वाले ने एक हजार से अधिक गायों को मार चुका है। गाय की मांस को मछली चारा और हड्डियों का व्यापार करता था। ऐसे लोगों पर कठोर कार्रवाई नहीं की जा रही है। हमारी सरकारी बनी तो मैदानी क्षेत्र में शराब पूरी तरह से बंद होगी। पहाड़ी क्षेत्र में शराब आस्था से जुड़ी है। बड़े नेता 90 फीसदी चारागाह भूमि पर कब्जा कर लिए हैं। जबकि जाति संबंधी मामले पर उन्होंने हाईकोर्ट में विचाराधीन होने का हवाला देते हुए अपने पक्ष में निर्णय आने की दलील दी। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की संस्थाओं को खोलने के लिए खुली छुट दी जा रही है। प्रदेश में किसानों की हालत दिन पर दिन खराब होती जा रही है। हाथ और फूल से जनता उब चूकी है। उन्होंने कहा कि सितंबर और अक्टूबर में छजकां अपने सभी प्रत्याशियों की सूची जारी कर देगी।

न विरोध, न ही किसी पर आरोप, प्रशासन के सिर जोगी ने फोड़ा ठीकरा
न किसी नेता का नाम, न ही भाजपा-कांग्रेस का विरोध, सधे अंदाज में छजकां के संस्थापक अजीत जोगी ने पाप की पराकाष्ठा का ठीकरा शासन के सर पर फोड़ रहे हैं। परिवार से दो लोगों को आगामी विधानसभा चुनाव में छजकां बैरन तले मैदान मारने की हुंकार भर रहे हैं। 90 सीट पर दमदार उम्मीदवार के भरोसे ताल ठोंक रहे हैं। जोगी की पत्नी आज भी कांग्रेस का झंडा बुलंदकर रही हैं। दुर्ग और बेमेतरा में गौ शालाओं में गायों की मौत पर कांग्रेस ने राजनीति अस्त्र चलाया तो जो जोगी का भी गौ-प्रेम छलक उठा है। जोगी की बात माने तो एक हजार से अधिक गायों को मारा जा चुका है। राजनीतिक अंदाज में न किसी का विरोध न ही कोई आरोप बस शपथ पत्रके भरोसे जनता से वोट की आवाज बुलंद कर रहे हैं।

अभिषेक जैन
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned