कन्नौज का यह बुजुर्ग दम्पति सुषमा स्वराज के निधन पर हुआ भावुक, विदेश मंत्री रहते हुए उन्होंने की थी मदद

Karishma Lalwani | Updated: 07 Aug 2019, 05:53:10 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- Sushma Swaraj के निधन से शोक मे कन्नौज के दंपत्ति

- विदेश मंत्री रहते हुए की थी मदद

- बेटे का पार्थिव शरीर कन्नौज पहुंचाने में की थी मदद

कन्नौज. पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) के निधन से देशभर में शोक का माहौल है। राजीनतिक गलियारों से लेकर आम जुबान तक हर किसी के मुख से यही निकल रहा कि काश उन्हें कुछ न हुआ होता। कुछ ऐसा ही हाल है कन्नौज के एक बुजुर्ग दंपत्ति सदानंद और कुषमा का, जिसे पूर्व विदेश मंत्री की मृत्यु ने शोकाकुल कर दिया। कन्नौज के सरायमीरा क्षेत्र निवासी सदानंद मिश्रा के बेटे कनाडा में स्विमिंग कोच थे।

तुरंत की थी मदद

के परिवार में जैसे ही पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन की जानकारी हुई वैसे ही पूरे परिवार में शोक की लहर दौड़ गई । दरअसल सदानंद का बेटा कनाडा में स्विमिंग कोच के रूप में कार्य करता था। एक दिन स्विमिंग पूल में डूबने के कारण उसकी मौत हो गई। बेटे के पार्थिव शरीर को लेकर पिता सदानंद बहुत परेशान थे। उनके पास वीजा नहीं था। ऐसे में उन्होंने ट्वीट कर तब विदेश मंत्री रहीं सुषमा स्वराज को जानकारी दी। जानकारी मिलते ही सुषमा स्वराज ने बुजुर्ग दंपत्ति का वीजा बनवाकर उनके कनाडा जाने का बंदोबस करवाया। सुषमा स्वराज ने कनाडा सरकार से पूरा सहयोग दिलवाया था।

भावुक हुआ बुजुर्ग दम्पति

अपने बेटे की मौत के मामले में सुषमा स्वराज से मिली मदद को याद करते हुए बुजुर्ग दंपत्ति सदानंद और कुषमा भावुक हो गए। उन्होंने उनकी तारीफ करते हुए ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति के लिए दुआ की।

ये भी पढ़ें: मुलायम सिंह यादव ने सुषमा स्वराज को दी श्रद्धांजलि, फूंट-फूंट कर रो पड़ा यह सपा नेता, छलक पड़े मायावती के भी आंसू

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned