बड़ी लापरवाही, मोबाइल में खोई थी नर्स, दो बार लगा दी कोरोना वैक्सीन, जानें कोरोना अपडेट

- अखिलेश ने किया था विरोध, शिवपाल ने लगवाई कोरोना की पहली डोज़
- कोरोना टीकाकरण के लिए घर बैठे बुक कराएं स्लॉट

By: Karishma Lalwani

Published: 03 Apr 2021, 05:35 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

कानपुर. पूरी दुनिया को कोविड-19 ने अपनी जद में ले लिया है। सरकार लोगों से कोरोना वैक्सीन लगवाने की अपील कर रही है। साथ ही कोरोना की रोकथाम के लिए मास्क और दो गज की दूरी का पालन करने की बात भी लगातार कही जा रही है। राज्य सरकार अपनी पूरी मुस्तैदी और सतर्कता बरतने की अवाम से अपील करती नजर आ रही है, लेकिन कुछ लापरवाह स्वास्थ्य कर्मी इसके उलट ही काम कर रहे हैं। कानपुर देहात में एक एएनएम ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में मोबाइल में बात करते करते एक महिला को एक ही समय मे दो बार कोविड वैक्सीन लगा दी। स्वास्थ्य कर्मी की इस लापरवाही से महिला के हाथ में सूजन हो गई है।

फोन पर बात करते हुए दो बार लगा दिया टीका

घटनाक्रम के मुताबिक, कानपुर देहात जिले के मंडोली पीएचसी में तैनात एएनएम अर्चना को स्वास्थ्य केंद्र में कोविड वैक्सीन लगाने की जिम्मेदारी दी गई थी। लेकिन अर्चना अपने मोबाइल पर बात करने में इतनी मशरूफ थी कि उसने मंडौली क्षेत्र की रहने वाली कमलेश देवी को एक ही बार में कोविड वैक्सीन की दो डोज लगा दी। जिससे कमलेश देवी के हाथ में सूजन भी आ गई और दर्द होने लगा। जब कमलेश देवी ने दो इंजेक्शन की बात पूछी तो अर्चना ने गलती से लगने की बात बोलकर अपना पल्ला झाड़ लिया।

अखिलेश ने किया था विरोध, शिवपाल ने लगवाई कोरोना की पहली डोज

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लगवाई। शिवपाल ने शुक्रवार को डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में वैक्सीन की पहली डोज लगवाई। इस बात की जानकारी उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर दी। शिवपाल ने लिखा "आज डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान, लखनऊ में कोविशील्ड वैक्सीन की पहली डोज लगवाई।"

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने वैक्सीन का विरोध किया था। उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा था कि यह भाजपा की कोरोना वैक्सीन है, इसलिए मैं इस पर भरोसा नहीं कर सकता हूं।

कोरोना टीकाकरण के लिए घर बैठे बुक कराएं स्लॉट

कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है। रजिस्ट्रेशन आरोग्य सेतु ऐप या कोविन की वेबसाइट पर टीकाकरण कराया जा सकता है। रजिस्ट्रेशन प्रोसेस ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से किया जा सकता है। कोरोना वैक्सीन सरकारी या प्राइवेट दोनों ही अस्पतालों में लगवाई जा सकती है। सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में वैक्सीन लगाई जा रही है, जबकि प्राइवेट अस्पतालों में एक डोज के लिए 250 रुपये का चार्ज लिया जा रहा है।

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने के लिए कोविन की वेबसाइट पर लॉग इन कर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को पूरा कर फॉर्म सब्मिट करना होगा। वहीं, अगर कोई व्यक्ति ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन नहीं कर सकता तो वह सेंटर केविड वैक्सीनेशन सेंटर पर दोपहर तीन बजे के बाद जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। कोविड वैक्सीनेशन सेंटर पर अपना कोई पहचान पत्र जैसे आधार कार्ड, बैंक पासबुक, वोटर आईडी कार्य या पैन कार्ड लेकर जाना होगा।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शनिवार को जारी किए गए कोरोना के आंकड़ों के मुताबिक यूपी में अब तक 53 लाख 66 हजार 43 लोगों को कोरोना की पहली डोज लगाई जा चुकी है। इसी तरह 10 लाख 61 हजार 44 लोगों को दूसरी डोज भी लगा चुके हैं। कुल मिलाकर अभी तक 64 लाख 28 हजार 227 वैक्सीनेशन की डोज दी जा चुकी है। उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने यह आंकड़े जारी किए।

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस के बाद एक और बीमारी ने दी दस्तक, मवेशियों में फैल रहा एलएसडी का संक्रमण, जानें क्या है लक्षण

ये भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए घर बैठे बुक करें स्लॉट, एक या एक से अधिक व्यक्तियों के लिए हो जाएगा रजिस्ट्रेशन

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned