लोगों ने छोड़ दी थी मिलने की आस, पुलिस ने महीनों बाद खोज निकाला, फिर किया ये काम...देखिए वीडियो

Mukesh Tiwari

Updated: 20 Jul 2019, 12:28:11 PM (IST)

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. बाजार, समारोह या सार्वजनिक स्थानों मेंं अपने महंगे मोबाइल गुमने के बाद पुलिस में आवेदन देकर लोग उनके मिलने की आस छोड़ चुके थे। पुलिस ने ऐसे आवेदनों को लेकर साइबर की टीम को सक्रिय किया और उसकी मदद से पिछले एक माह में आधा सैकड़ा से अधिक मोबाइल जब्त किए। गुरुवार को कंट्रोल में बकायदा आवेदनकर्ताओं को उनके मोबाइल एसपी ललित शाक्यवार व एएसपी संदीप मिश्रा ने वापस किए।

यहां अपने ही परिवार की सुविधा की राह में रोड़ा बने पुलिसकर्मी...जानिए कारण
एसपी शाक्यवार ने बताया कि साइबर सेल के मामलों की समीक्षा के दौरान सामने आया था कि मोबाइल गुमने के आवेदन लगातार बढ़ रहे हैं। जिसको लेकर साइबर सेल प्रभारी अजय शंकर साकेत के साथ वरुण परिहार, सूरज मेहरा, शुभम गौतम, देवतज पवार, चंदन प्रजापति की टीम बनाकर गुमे हुए मोबाइलों के आइएमइआइ नंबर के आधार पर लोकेशन व सिमधारक की जानकारी जुटाने में लगाया गया। टीम ने एक माह मेहनत कर 56 मोबाइल जब्त किए और संबंधितों को सूचना दी गई। एसपी ने बताया कि अधिकांश मोबाइल जिनसे मिले हैं, उन्होंने सेट मिलने की बात कही और स्वेच्छा से साइबर सेल पहुंचकर मोबाइल जमा किए। मोबाइल लेने पहुंचे राकेश जैन कक्का ने बताया कि उनका सेट लगभग एक साल पूर्व होटल से गुम गया था। वहीं लखापतेरी निवासी अभिषेक कश्यप ने बताया कि जुलूस में डांस के दौरान लगभग डेढ़ साल पूर्व उनका मोबाइल कहीं गिर गया था, जो आज मिला है। एसपी शाक्यवार ने बताया कि दो-तीन मामले आए हैं, जिनमें लोगों ने किसी दूसरे को मोबाइल बेचे थे और उनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई प्रस्तावित की जा रही है।

 

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned