script Kolkata: अमित शाह और जेपी नड्डा पहुंचे बंगाल, क्या है वजह? | Amit-Shah-and-JP-Nadda-reached-Kolkata-welcomed-by-State-BJP-leaders | Patrika News

Kolkata: अमित शाह और जेपी नड्डा पहुंचे बंगाल, क्या है वजह?

locationकोलकाताPublished: Dec 26, 2023 12:43:55 pm

Submitted by:

Mohit Sabdani

Kolkata गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सोमवार देर रात कोलकाता एयरपोर्ट पहुंचे, जहाँ प्रदेश बीजेपी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। बताया जा रहा हैं कि वे मंगलवार को कई संगठनात्मक बैठकों में शामिल होंगे।

Kolkata
amit shah and jp nadda reached kolkata

कोलकाता। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश (जेपी) नड्डा सोमवार देर रात करीब पौने एक बजे कोलकाता शहर पहुंचे। इस दौरान एयरपोर्ट पर उनका स्वागत करने के लिए प्रदेशाध्यक्ष सुकान्त मजूमदार, प्रदेश बीजेपी के वरिष्ठ नेता शुभेंदु अधिकारी और विधायक अग्निमित्रा पॉल समेत कई बीजेपी नेता मौजूद रहे। पार्टी सूत्रों के अनुसार भाजपा के दोनों वरिष्ठ नेता अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल में संगठनात्मक तैयारियों का आकलन करेंगे। शाह और नड्डा मंगलवार को कई संगठनात्मक बैठकों की अध्यक्षता कर सकते हैं।

माना जा रहा हैं कि अमित शाह और जेपी नड्डा राज्य की सभी 42 सीटों पर जीत के लिए नेताओं के साथ मैराथन मंथन करेंगे। बीजेपी के दोनों सीनियर नेता एक-एक सीट की तैयारियों की समीक्षा करेंगे। भाजपा विधायक मनोज तिग्गा ने हवाईअड्डे पर मीडिया से बातचीत में बताया कि पार्टी ने लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। आने वाले दिनों में भाजपा के शीर्ष केंद्रीय नेताओं- पीएम नरेंद्र मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा के दौरे बढ़ेंगे। साथ ही तिग्गा ने यह भी बताया कि अमित शाह और जेपी नड्डा मंगलवार सुबह गुरुद्वारा बारा सिख संगत और कालीघाट मंदिर का दौरा करेंगे। इसके बाद वे प्रदेश बीजेपी के नेताओं एवं संगठन से जुड़े पदाधिकारियों की मीटिंग लेंगे और आगामी लोकसभा चुनावों के लिए तैयारियों का जायजा लेंगे। शाम में दोनों वरिष्ठ नेता कोलकाता के राष्ट्रीय पुस्तकालय में बंद कमरे में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में भाग लेंगे।

2019 के आम चुनावों में राज्य की 42 में से केवल 18 सीटें जीती पार्टी
भाजपा विधायक अग्निमित्रा पॉल ने कहा कि शीर्ष दो नेताओं की एक साथ राज्य की यात्रा इस बात को दर्शाती है कि पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व की नजर में पश्चिम बंगाल कितना महत्व रखता है। मैंने कभी भी दो शीर्ष नेताओं को बंगाल की यात्रा करते नहीं देखा, लेकिन इस यात्रा से परिलक्षित होता हैं कि भाजपा के लिए बंगाल की क्या अहमियत हैं।
गौरतलब हैं कि शाह ने अगले लोकसभा चुनावों के लिए पश्चिम बंगाल में 35 से अधिक लोकसभा सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने राज्य की 42 संसदीय सीटों में से 18 सीटें ही हासिल की थीं।

ट्रेंडिंग वीडियो