-कोटा की मेजर बेटी के नाम पीएम की पाती
-सेना की रिटायर्ड मेजर प्रमिलासिंह बनी मूक पशुओं का सहारा, प्रधानमंत्री ने की तारीफ
-कोटा श्रीनाथपुरम निवासी प्रमिला सिंह को पीएम मोदी ने लिखा पत्र

कोटा.
पिता के संस्कारों की राह चल बेजुबान पशुओं का सहारा बनी कोटा की मेजर बेटी (Daughter of Kota ) को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सराहना मिली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi ) ने कोटा के श्रीनाथुपरम निवासी सेना से रिटायर्ड मेजर प्रमिलासिंह (Major Pramila singh ) के इस कार्य को समाज के लिए प्रेरणाजनक बताते हुए सराहा है। मोदी ने प्रमिला सिंह को पत्र लिखकर उनके इस कार्य को दयाभाव वाला बताया है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi ) ने कोटा की मेजर बेटी प्रमिला सिंह (Daughter of Kota ) को लिखे पत्र में कहा कि कोरोना में लॉकडाउन के दौरान जहां लोग अपने-अपने घरों में राशन पानी की व्यवस्था में जुटे थे, उसी समय रिटायर्ड मेजर प्रमिला सिंह (Major Pramila singh ) ने अपने पिता श्यामवीर सिंह के साथ मिलकर बेजुबान और बेसहारा जानवरों की सुध ली। उनकी पीड़ा को महसूस किया व मदद के लिए आगे आईं। प्रमिला और उनके पिता ने अपनी जमा पूंजी से सड़कों पर आवारा घूम रहे पशुओं के लिए भोजन व उपचार की व्यवस्था की। प्रधानमंत्री मोदी ने प्रमिला के कार्यों की तारीफ करते हुए उनके प्रयास को समाज के लिए प्रेरणास्त्रोत बताया है।


इस कालखंड को जीवन भर नहीं भूलेंगे-
प्रधानमंत्री ने पत्र में लिखा है कि पिछले लगभग डेढ़ वर्षों में हमने अभूतपूर्व परिस्थितियों का सामना मजबूती से किया है। यह एक ऐसा ऐतिहासिक कालखंड है जिसे लोग जीवन भर नहीं भूल सकेंगे। यह न केवल इंसानों के लिए बल्कि मानव के सानिध्य में रहने वाले अनेक जीवों के लिए भी कठिन दौर है। ऐसे में आपका बेसहारा जानवरों के दु:ख-दर्द व जरूरतों के प्रति संवेदनशील होना व उनके कल्याण के लिए व्यक्तिगत स्तर पर पूरे सामथ्र्य से कार्य करना सराहनीय हैं।


हमें मानवता पर गर्व-
पीएम मोदी ने पत्र में कहा कि इस मुश्किल समय में कई ऐसी मिसालें देखने को मिली हैं, जिन्होंने हमें मानवता पर गर्व करने का अवसर दिया है। पीएम मोदी ने उम्मीद जताई कि मेजर प्रमिला और उनके पिता इसी तरह अपनी पहल से समाज में जागरुकता फैलाते हुए अपने कार्यों से लोगों को निरंतर प्रेरित करते रहेंगे। इससे पहले मेजर प्रमिला सिंह ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर बताया था कि जानवरों की देखभाल करने का जो काम उन्होंने लॉकडाउन के समय शुरू किया था, वह आज तक जारी है। उन्होंने पत्र में असहाय जानवरों की पीड़ा व्यक्त करते हुए समाज के ज्यादा से ज्यादा लोगों को इनकी मदद के लिए आगे आने की अपील की है।


पिता के संस्कारों की देन-
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से की गई तारीफ के बाद कोटा की मेजर बेटी प्रमीला सिंह (Daughter of Kota ) ने पत्रिका को बताया कि यह मेरे पिता श्यामवीर सिंह दिए गए संस्कार व उनके आशीर्वाद का प्रताप है कि प्रधानमंत्री ने मेरे कार्य की तारीफ की है। जहां समूचा देश कोरोना की पीड़ा से जूझ रहा था, वहां प्रधानमंत्री ने देशवासियों की पीड़ा के साथ पशु सेवा के भाव को इतनी गंभीरता के साथ समझा। यह मेरे लिए आशीर्वाद है। इससे आत्मबल बढ़ा है व कुछ और अच्छा करने की प्रेरणा मिली है। श्रीनाथपुरम के सेक्टर सी की निवासी प्रमिला सिंह (Major Pramila singh ) के पिता श्यामवीर सिंह जलदाय विभाग से अधिशासी अभियंता के पद से सेवानिवृत्त हो चुके हैं।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned