कोटा सुपर थर्मल की तीसरी इकाई जल्द होगी सिंक्रोनाइज

कोरोना की वजह से छह माह से बंद पड़ी कोटा सुपर थर्मल पावर स्टेशन की 210 मेगावाट की तीसरी इकाई को वार्षिक मरम्मत के बाद अब सिंक्रोनाइज करने की तैयारी शुरू हो गई है।

 

By: Abhishek Gupta

Published: 31 Jul 2021, 05:03 PM IST

- वार्षिक मरम्मत के कारण 6 माह से बंद पड़ी थी इकाई, कोरोना के कारण हुई देरी

कोटा. कोरोना की वजह से छह माह से बंद पड़ी कोटा सुपर थर्मल पावर स्टेशन की 210 मेगावाट की तीसरी इकाई को वार्षिक मरम्मत के बाद अब सिंक्रोनाइज करने की तैयारी शुरू हो गई है। उम्मीद है कि रविवार को लोड डिस्पेच सेंटर जयपुर से अनुमति मिलने के बाद लोड टेस्टिंग के बाद यह इकाई फि र से चालू हो जाएगी। यह इकाई जनवरी से बंद पड़ी है। इसे 6 माह का समय हो गया है।

जानकारी के अनुसार, कोटा थर्मल पावर स्टेशन की तीसरी इकाई में टरबाइन के रोटर में खराबी आ गई थी। बीएचईएल हरिद्वार की टीम ने यहां आकर इसे दुरस्त करने का प्रयास किया था, लेकिन कोरोना की वजह से टीम के उच्च अधिकारी व कर्मचारी संक्रमित हो गए थे। उसके बाद दिल्ली में किसानों का आंदोलन शुरू हो गया। ट्रकों के नहीं चलने से टरबाइन के भारी भरकम रोटर को नहीं ला सके। इसके चलते इसका काम रोक दिया था, लेकिन जुलाई में वापस संक्रमण कम होने के कारण इसका काम वापस से शुरू किया गया। वर्तमान में रोटर लगाने का अंतिम कार्य किया जा रहा है।

इनका यह कहना

थर्मल की तीसरी इकाई को सिंक्रोनाइज किया जा रहा है। कोविड गाइडलाइन व किसान आंदोलन के कारण इसकी टरबाइन का रोटर हरिद्वार से कोटा पहुंचने में थोड़ी देरी हो गई। इस कारण 31 जुलाई तक लोड डिस्पेच सेंटर से लोड टेस्टिंग की अनुमति ली जाएगी।

वीके गोलानी, मुख्य अभियंता, कोटा सुपर थर्मल पावर स्टेशन

Abhishek Gupta
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned