बाहरी छात्रों को बुलाने पर हुआ विवाद , कोटा विश्वविद्यालय में छात्रसंघ अध्यक्ष और महासचिव में हुई मारपीट...

स्पोर्टस वीक के दूसरे दिन ही कोटा विश्वविद्यालय के छात्र आपस में भिड़ गए , जिसके बाद विवि प्रशासन ने खेल प्रतियोगिताएं स्थगित कर दी।

By: shailendra tiwari

Updated: 10 Feb 2018, 05:51 PM IST

कोटा .
कोटा विश्वविद्यालय के छात्रसंघ अध्यक्ष ने शिक्षकों के सामने ही महासचिव से मारपीट कर दी। अध्यक्ष बाहरी छात्रों को समारोह में बुलाए जाने का आरोप लगा रहे थे, लेकिन जब आरोप झूठा निकला तो लिखित में माफी मांगनी पड़ी। छात्रों के बीच विवाद होने के कारण विश्वविद्यालय प्रशासन ने खेल और सांस्कृतिक सप्ताह का आयोजन सोमवार तक स्थगित कर दिया।

 

Read More : आबकारी विभाग की हद : कोटा में इन जगह बेखौफ चल रहे है अवैध शराब के ठेके..

 

कोटा विश्वविद्यालय में डीएसडब्ल्यू और छात्रसंघ की ओर से वार्षिक खेलकूंद और सांस्कृतिक सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। शनिवार को दूसरे दिन के आयोजनों की शुरुआत ही हुई थी कि छात्रसंघ अध्यक्ष पिंकेश मीणा ने अनुशासन समिति के सदस्यों से शिकायत की कि छात्रसंघ महासचिव संदीप जांगिड़ बाहरी छात्रों को भी इन प्रतियोगिताओं में शामिल कर रहे हैं। मामले की जांच करने के लिए अनुशासन समिति के सदस्य एकेडमिक ब्लॉक पहुंचते, इससे पहले ही पिंकेश खुद मौके पर पहुंच गए और संदीप से भिड़ गए।

 

Read More : डिग्रियां जलाईं , पकौड़े बेचे कॉमर्स कॉलेज में छात्रों ने किया प्रदर्शन...

 

शिक्षकों के सामने मारपीट
छात्रसंघ अध्यक्ष और महासचिव के बीच कहासुनी होते देख मौके पर मौजूद अनुशासन समिति के सदस्य एवं एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. पीसी गुप्ता, प्रोक्टर चक्रपाणी गौतम, आयोजन समिति के सदस्य एवं क्रीड़ा विभाग के सहायक निदेशक डॉ. विजय सिंह और असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. एनएल हेड़ा ने बीच बचाव करने की कोशिश की। इसी बीच पिंकेश ने संदीप का कॉलर पकड़ लिया तो दोनों के बीच मारपीट हो गई। दोनों को लड़ता देख उनके समर्थक भी आपस में भिड़ गए। कैंपस करवाया खाली

शिक्षकों ने हालात बिगड़ते देख विश्वविद्यालय में तैनात सुरक्षा कर्मियों की मदद से छात्रों के दोनों गुटों को अलग कराया। इसके बाद कैंपस में मौजूद सभी छात्रों को बाहर निकाल दिया गया।

 

Read More : एलन को एम्स की सभी टॉप-10 आल इंडिया रैंक देने पर लिम्का बुक रिकॉर्ड्स में किया शामिल...

 

कार्रवाई होती देख मांगी माफी
अनुशासन समिति और आयोजन समिति ने छात्रों के बीच मारपीट होने के बाद स्पोट्र्स वीक का आयोजन स्थगित कर दिया। साथ ही डीएसडब्ल्यू प्रो. रीना दाधीच को आरोपित छात्रों के खिलाफ कार्रवाई करने की सिफारिश कर दी। मामला उल्टा पड़ता देख छात्रसंघ अध्यक्ष ने मारपीट करने के लिए लिखित में माफी मांगी, तब जाकर विवाद खत्म हुआ। स्पोट्र्स वीक के आयोजन सोमवार से शुरू होंगे। अब परिचय पत्र देखने के बाद ही छात्रों को विश्वविद्यालय में प्रवेश दिया जाएगा।

Show More
shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned