अखिलेश यादव का भाजपा पर हमला, कहा दलित विरोधी है योगी सरकार

अखिलेश यादव ने कहा कि केन्द्र की बीजेपी सरकार ने अभी तक जनहित के लिए एक भी योजना लागू नहीं की.

By: Abhishek Gupta

Published: 22 Mar 2018, 09:11 PM IST

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज भाजपा पर आरक्षण एवं अनुसूचित जाति, जनजाति (एससी/एसटी) अत्याचार निवारण अधिनियम को लेकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने इस संबंध में उचित पैरवी नही की है। जिससे दलित समाज के हित प्रभावित होंगे। आपको बता दें कि सीएम योगी ने अति पिछड़ों व अति दलितों को साधने हुए गुरुवार को विधानसभा में कहा कि अति पिछड़ों व अति दलितों के उत्थान के लिए उनकी सरकार काम करेगी। जरूरत पड़ी तो अति पिछड़ों व अति दलितों को आरक्षण भी दिया जाएगा, जिसके लिए जल्द एक समिति बनेगी।

ये भी पढ़ें- अखिलेश ने मायावती को दिया सबसे बड़ा रिटर्न गिफ्ट, बसपा की राह हुई आसान, बढ़ेगी भाजपा की मुश्किलें

अखिलेश यादव ने कहा कि केन्द्र की बीजेपी सरकार ने अभी तक जनहित के लिए एक भी योजना लागू नहीं की। बल्कि सरकार ने तो समाज के दलित, वंचित और पिछड़ों के खिलाफ अभियान शुरू कर दिया है। श्रमिकों के लिए कहीं सुनवाई नहीं होती। पिछड़ों को किनारे कर दिया गया है। वहीं दलितों की सुरक्षा के लिए बने कानून खत्म किये जाने से उनका और उत्पीड़न बढ़ेगा।

ये भी पढ़ें- शिवपाल पहुंचे अखिलेश की डिनर पार्टी में, राजा भैया ने कर दिया बड़ा ऐलान

सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आगे कहा कि दलित समाज सदियों से सामंती तत्वों के उत्पीड़न का शिकार रहा है। आज भी उनको शासन-प्रशासन में आरक्षण के बावजूद जरूरी उचित स्थान नहीं मिलता है। बड़ी तादाद में दलित समाज के लोग अमानवीय स्थितियों में जीवन व्यतीत करने के लिए मजबूर हैं। अब उनको अपनी आवाज उठाने और अपना हक लेने से भी वंचित किया जा रहा है। बीजेपी की मानसिकता दलित विरोधी है। बीजेपी और आरएसएस आरक्षण को ही खत्म करना चाहते हैं। यदि बीजेपी सरकार की नीयत ठीक हो तो उसे उच्चतम न्यायालय में समीक्षा याचिका दाखिल करनी चाहिए।

BJP Narendra Modi
Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned