दो अफसरों के खिलाफ जांच के आदेश, आईएएस और पीसीएस के ट्रासंफर-पोस्टिंग में अवैध वसूली का आरोप

Allegation of Illegal Recovery in Transfer-Posting Of IAS and PCS - उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) ने नियुक्ति विभाग के दो अफसरों पर विजिलेंस जांच के आदेश दिए हैं। दोनों अफसर आईएएस व पीसीएस अधिकारी के ट्रांसफर देखते हैं। सीएम योगी के विजिलेंस जांच के आदेश के बाद अभी तक अफसरों को उनके अनुभाग से हटाया नहीं गया है।

By: Karishma Lalwani

Published: 11 Sep 2021, 11:45 AM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) ने नियुक्ति विभाग के दो अफसरों पर विजिलेंस जांच के आदेश दिए हैं। दोनों अफसर आईएएस व पीसीएस अधिकारी के ट्रांसफर देखते हैं। सीएम योगी के विजिलेंस जांच के आदेश के बाद अभी तक अफसरों को उनके अनुभाग से हटाया नहीं गया है। यूपी सरकार को भेजी गई शिकायत में नियुक्ति विभाग के अनुभाग अधिकारी शशिकांत मिश्रा व अमित सिंह पर भ्रष्टाचार और ट्रांसफर-पोस्टिंग में वसूली कर अवैध संपत्ति बनाने के आरोप लगाए गए हैं। उधर, शिक्षा विभाग के अफसर के खिलाफ भी जांच शुरू हो गई है।

लाखों रुपये लेने का आरोप

लखनऊ के सीतापुर रोड निवासी एडवोकेट संत कुमार ने नियुक्ति विभाग के अनुभाग पांच में तैनात शशिकांत मिश्रा व तीन में तैनात अमित सिंह के खिलाफ सचिवालय प्रशासन से वसूली की शिकायत की थी। इसके साथ ही दोनों अनुभाग अधिकारियों पर लगभग 24 अफसरों की अनुशासनिक कार्रवाई समाप्त करने की एवज में छह से आठ लाख रुपए लेने का आरोप भी हैं। शासन को भेजे गए पत्र में नौ बिंदुओं के साथ कई आरोप दोनों अफसरों पर लगाए गए हैं।

शिक्षा विभाग के अफसर पर जांच शुरू

बेसिक शिक्षा विभाग के अवकाश प्राप्त अधिकारी संजय सिन्हा के विरुद्ध उत्तर प्रदेश सतर्कता अधिष्ठान (विजिलेंस) की खुली जांच शुरू हो गई है। शासन की मंजूरी मिलने के बाद विजिलेंस ने शिकायतों पर साक्ष्य जुटाने और बयान दर्ज करने के लिए टीम गठित की है।

ये भी पढ़ें: करोड़ों की संपत्ति के मालिक राजघराने के राजकुमार हैं राजा भैया, इको फ्रेंडली है उनका महल, देखें बेंती किला की तस्वीरें

ये भी पढ़ें: दागी और भ्रष्ट पुलिसकर्मियों की होगी छंटनी, जबरन रिटायर किए जाएंगे 50 वर्ष से अधिक उम्र के कर्मचारी

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned