जुलाई में भी नहीं खुलेंगे प्राइमरी स्कूल, बेसिक शिक्षा मंत्री ने दिया बड़ा बयान

कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते मार्च महीने के दूसरे हफ्ते से प्रदेश के परिषदीय स्कूल बंद चल रहे हैं...

लखनऊ. वैश्विक महामारी कोरोना संकट के चलते जुलाई महीने में भी परिषदीय स्कूल खुलने पर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। बेसिक शिक्षा विभाग में उच्च स्तर के अधिकारियों के बीच इस बात को लेकर एक राय है कि कोरोना के हालात प्रदेश में सुधरने के बाद ही स्कूल खोले जाएं। उससे पहले स्कूलों को खोलना खतरनाक हो सकता है। क्योंकि स्कूल में बच्चों के बीच कोरोना से बचाव के उपायों को लागू कराना काफी मुश्किल भरा काम है। इसलिए हमें अभी हालात सामान्य होने का इंतजार करना चाहिेये।


मार्च महीने के दूसरे हफ्ते से स्कूल बंद

कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते मार्च महीने के दूसरे हफ्ते से प्रदेश के परिषदीय स्कूल बंद चल रहे हैं। हालांकि बच्चों की ऑनलाइन क्लासेज जारी हैं। बेसिक शिक्षा विभाग में हुई उच्च स्तर की चर्चा में यह बात रखी गई कि बच्चों में सोशल डिस्टेंसिंग, नियमित सैनिटाईजेशन, मास्क की आदत विकसित कराने में परेशानी होगी। ऐसे में जुलाई में स्कूल खुलने पर परेशानी बढ़ सकती है।


समीक्षा के बाद निर्णय

वहीं बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री सतीश चंद्र द्विवेदी ने कहा कि हालात सुधरने के बाद ही परिषदीय स्कूल खोले जाएंगे। पहले कॉलेज और विश्विद्यालय खुलेंगे और वहां पर स्थिति का अध्ययन किया जाएगा। फिर समीक्षा के बाद ही स्कूल खोलने को लेकर किसी तरह का निर्णय लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: 69000 शिक्षक भर्ती मामले में आया नया मोड़, शिक्षामित्रों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कही बड़ी बात

Show More
नितिन श्रीवास्तव Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned