यूपी के 16 जिलों में बनेंगे 20 गो संरक्षण केंद्र, 12 करोड़ का बजट जारी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) का गौ प्रेम जग जाहिर है। गोसेवा व उनके संरक्षण की दिशा में अब सरकार 16 जिलों में 20 गोसंरक्षण केंद्र खोलेगी।

By: Abhishek Gupta

Published: 17 Jan 2021, 04:52 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क.
लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) का गौ प्रेम जग जाहिर है। गोसेवा व उनके संरक्षण की दिशा में अब सरकार 16 जिलों में 20 गोसंरक्षण केंद्र खोलेगी। इसके लिए 12 करोड़ रुपए का बजट रखा गया है। प्रति गोसंरक्षण केंद्र के लिए 60 लाख रुपए की धनराशि आवंटित की जाएगी। इस संबंध में पशुधन विभाग ने निदेशक प्रशासन एवं विकास पशु पालन विभाग (Pashu Palan Vibhag) को शासनादेश जारी कर दिए हैं। साथ ही गो संरक्षण केंद्रों की स्थापना के लिए आवश्यक दिशा निर्देश भी दे दिए हैं। जारी आदेश में यह भी कहा गया है कि निर्माण के लिए जमीन की उपलब्धता निर्विवाद रूप से सुनिश्चित कर ली जाए।

ये भी पढ़ें- महिला डॉक्टरों ने कोरोना वैक्सीन लगाने से किया इंकार, कहा- मन नहीं

इन जिलों में बनेंगे केंद्र-
यूपी सरकार ने निराश्रित, बेसहारा गोवंश के संरक्षण के लिए जिन 16 जिलों में 20 गोसंरक्षण केंद्रों की स्थापना की योजना बनाई हैं, उनमें इटावा, बस्ती, कानपुर देहात, अलीगढ़, सिद्धार्थ नगर, अयोध्या, बरेली, लखनऊ, सीतापुर, झांसी, बांदा और रायबरेली शामिल हैं। यहां एक-एक गोसंरक्षण केंद्र बनेंगे। इसके अतिरिक्त हरदोई, अंबेडकर नगर, फतेहपुर और बहराइच में दो-दो गो संरक्षण केंद्रों की स्थापना होगी।

ये भी पढ़ें- राजनाथ सिंह बोले, योगी मुझसे बेहतर सीएम, उनकी परफॉर्मेंस ए-वन!

इससे पहले बीते वर्ष अक्टूबर मेे योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश के प्रत्येक गोवंश की पहचान के लिए उनकी ईयर टैगिंग को अनिवार्य कर दिया था, जिसमें हर पशु को 12 अंकों का यूनीक आइडेंटिफिकेशन नंबर (यूआईएन) दिया जाता है। इसमें पशु की नाम, आधार, फोन नंबर, उम्र, लोकेशन, ब्रिडिंग, प्रजाति व टीकाकरण के स्टेटस की जानकारी दर्ज की जाती है।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned