scriptLucknow Saharanpur election Commission website hack Refuse public data | सहारनपुर मामले में चुनाव आयोग का वेबसाइट हैक होने से साफ इनकार कहा, जनता का डेटा पूरी तरह से सुरक्षित | Patrika News

सहारनपुर मामले में चुनाव आयोग का वेबसाइट हैक होने से साफ इनकार कहा, जनता का डेटा पूरी तरह से सुरक्षित

- योगी सरकार ने यूपी मुख्य चुनाव अधिकारी अजय कुमार शुक्ला व डीएम सहारनपुर अखिलेश सिंह के लिखे पत्र पर तुरंत लिया ऐक्शन, सहारनपुर मामले की जांच यूपी एसटीएफ को सौंपी

लखनऊ

Published: August 14, 2021 04:15:58 pm

लखनऊ. सहारनपुर प्रकरण में चुनाव आयोग की वेबसाइट में सेंधमारी की बात आ रही है। पर केंद्रीय चुनाव आयोग ने वेबसाइट हैक होने जैसी बातों से साफ-साफ इनकार किया है। साथ ही आश्वासन दिया कि, नागरिकों के डेटा (public data Safe) पूरी तरह से सुरक्षित हैं। इसकी के साथ ही योगी सरकार ने यूपी मुख्य चुनाव अधिकारी अजय कुमार शुक्ला व डीएम सहारनपुर अखिलेश सिंह के लिखे पत्र पर तुरंत ऐक्शन लेते हुए सहारनपुर मामले की जांच यूपी एसटीएफ को सौंपी दी है।
सहारनपुर मामले में चुनाव आयोग का वेबसाइट हैक होने से साफ इनकार कहा, जनता का डेटा पूरी तरह से सुरक्षित
सहारनपुर मामले में चुनाव आयोग का वेबसाइट हैक होने से साफ इनकार कहा, जनता का डेटा पूरी तरह से सुरक्षित
सहारनपुर में बैठकर देशभर का बनाता था वोटर आइडी

गोपनीय पत्र भेजकर जांच की मांग की :- अगले वर्ष यूपी विधानसभा चुनाव 2022 होने वाले हैं। ऐसे वक्त चुनाव आयोग की वेबसाइट में घुसपैठ का यह मामला बेहद गंभीर है। ऐसी संभावना जताई जा रही है कि इसके तार कई और राज्यों से भी जुड़े हो सकते हैं। इस वजह से सहारनपुर जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने इसकी जांच किसी विशेषज्ञ एजेंसी से कराने के लिए गोपनीय पत्र चुनाव आयोग को लिखा था। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने भी शुक्रवार को इस पत्र को गृह विभाग भेजकर विशेषज्ञ एजेंसी से जांच कराने के लिए कहा था। पत्र मिलने के बाद शासन अलर्ट हो गया। और यूपी एसटीएफ को जांच सौंप दी गई। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने इसकी पुष्टि की है।
भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट हैक, बना डाले 10 हजार वोटर आइडी कार्ड

दोषी मिलने पर सख्त कार्रवाई :- माना जा रहा है कि फर्जी मतदाता पहचान पत्र बनाने का गैंग सूबे के अन्य जिलों में भी सक्रिय हो सकता है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने बताया कि, सहारनपुर मामले की जांच हो रही है। दोषी मिलने पर उन पर सख्त कार्रवाई होगी। और सबसे अहम है कि यह पता चल सकेगा कि, इन लोगों किस तरह से चुनाव आयोग के डाटा बेस तक अपनी पहुंच बनाई है।
ECI की वेबसाइट हैक करने के आरोपी स्टूडेंट के पिता ने बताया बैंक एकाउंट में कहां से आया पैसा, देखें वीडियो

चुनाव आयोग का वेबसाइट हैक होने से इनकार :- चुनाव आयोग ने वेबसाइट हैक होने जैसी बातों से इनकार किया है। उसका कहना है कि ईसीआई का डेटाबेस बिल्कुल सेफ और सेक्योर है। आयोग के अनुसार सहायक मतदाता सूची अधिकारी को मतदाता पहचान पत्र की छपाई और समय पर वितरण सहित अन्य सेवाएं देने के लिए अधिकृत किया गया है। हमारा मकसद है कि कोई मतदाता छूटे नहीं। एईआरओ कार्यालय में तैनात एक डाटा एंट्री ऑपरेटर ने कुछ वोटर आईडी कार्ड की प्रिटिंग के लिए अपना यूजर आईडी और पासवर्ड सहारनपुर के नकुड़ उप-मंडल में एक निजी अनधिकृत सेवा प्रदाता के साथ शेयर कर लिया था। जो कि गलत और अवैध है। दोनों व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

मुलायम सिंह यादव को दो दिन में दूसरा झटका, पोस्टर Girl प्रियंका ने जोईन की BJP, रावण भी लड़ेगा चुनावAzadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तभारत ने ओडिशा तट से ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफलतापूर्वक किया परीक्षणNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरPm Kisan Samman Nidhi: फर्जीवाड़ा रोकने के लिए सरकार ने बदले नियम, अब राशन कार्ड देना होगा अनिवार्यपंजाब के बाद अब उत्तराखंड में भी बदलेगी चुनाव तारीख! जानिए क्या है बड़ी वजहPolice Recruitment 2022: पुलिस विभाग में 900 से अधिक पदों पर भर्ती, जल्दी करें आवेदन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.