script रक्षाबंधन 2023 : डाक विभाग ने पहुंचाई 14 देशों में राखियां, जानिए क्या बोले पोस्टमास्टर जनरल | Postal department delivers rakhis to 14 countries, know what the postmaster general said | Patrika News

रक्षाबंधन 2023 : डाक विभाग ने पहुंचाई 14 देशों में राखियां, जानिए क्या बोले पोस्टमास्टर जनरल

locationलखनऊPublished: Aug 30, 2023 06:23:18 pm

Submitted by:

Ritesh Singh

पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव बोले - डाक विभाग ने राखी वितरण के लिए किये विशेष प्रबंध, ताकि किसी भाई की कलाई न रहे सूनी।

Postal Department Update
Postal Department Update
हाईटेक समाज में वर्चुअल होते रिश्तों के बीच राखी के रेशम धागों की अहमियत अभी भी बरकरार है। डाक विभाग ने भी इस त्योहार को लेकर तमाम तैयारियां की। डाक विभाग ने जहाँ राखी भेजने के लिए वाटरप्रूफ डिजायनर लिफाफे की व्यवस्था की, वहीं देर शाम तक डाकिया लोगों की राखी-डाक वितरित करते रहे, ताकि किसी भाई की कलाई सूनी न रह जाये। लोगों ने अपनी ख़ुशी का इजहार डाक विभाग को शुक्रिया कहकर किया।

23 हजार राखियों का हुआ वितरण

वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि वाराणसी परिक्षेत्र के डाकघरों से 1.15 लाख से ज्यादा राखियाँ देश-विदेश में भेजी गईं, वहीं देश-विदेश से प्राप्त 1.76 लाख राखी डाक का वितरण यहाँ डाकघरों के माध्यम किया गया। रक्षाबंधन के लिए डाक वितरण के विशेष प्रबंध किए गए। अकेले 30 अगस्त को लगभग 23 हजार राखी डाक का वितरण वाराणसी परिक्षेत्र के डाकघरों के माध्यम से लोगों को किया गया।
16 देशों में पहुंची राखियां

पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि रक्षाबंधन की महत्ता सिर्फ भारत में ही नहीं अपितु विदेशों में भी खूब देखी गई। संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, सिंगापुर, संयुक्त अरब अमीरात, जर्मनी, सऊदी अरब, फ़्रांस, न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, कनाडा, ओमान इत्यादि तमाम देशों में 1,125 राखी डाक स्पीड पोस्ट और रजिस्टर्ड पत्र के माध्यम से वाराणसी परिक्षेत्र के डाकघरों से भेजी गईं। वहीं विदेशों में रह रही बहनों ने भी अपने भाइयों को डाक विभाग के माध्यम से राखी भेजा, जिन्हें डाकिया के माध्यम से तुरंत वितरित कराया गया।

डाक विभाग ने रक्षाबंधन पर अपनी जिम्मेदारी


पोस्टमास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग ने राखी डाक की बुकिंग के साथ-साथ स्पेशल सॉर्टिंग और इनके त्वरित वितरण के लिए डाकघरों से लेकर रेलवे मेल सर्विस और सॉर्टिंग हब तक में विशेष प्रबंध किये। आज भी डाक अपना संदेश भेजने का सबसे सरल और सुलभ माध्यम है, ऐसे में रक्षाबंधन पर ज्यादातर राखियां डाक से ही भेजी जाती हैं। चिट्ठियों के माध्यम से खुशियां बिखेरते रहने वाले डाक विभाग ने रिश्तों के इस त्यौहार को भी एक नया आयाम दिया है।

ट्रेंडिंग वीडियो