समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी लगभग फाइनल, गोरखपुर में निषाद और फूलपुर में कुर्मी पर दांव

Nitin Srivastava

Publish: Feb, 15 2018 11:26:29 AM (IST) | Updated: Feb, 15 2018 11:31:39 AM (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी लगभग फाइनल, गोरखपुर में निषाद और फूलपुर में कुर्मी पर दांव

विपक्षी दलों में समाजवादी पार्टी ने अपनी तैयारी और रणनीति को आखिरी रूप दे दिया है...

लखनऊ. समाजवादी पार्टी ने गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव के लिए अपनी तैयारी कर ली है। पार्टी सूत्रों की अगर मानें तो सपा गोरखपुर में निषाद और फूलपुर में कुर्मी पर दांव लगाने जा रही है। दरअसल गोरखपुर में निषाद और फूलपुर में कुर्मी समाज की अच्छी खासी संख्या है। इसलिए उम्मीदवारी के लिए गोरखपुर से संतोष निषाद और फूलपुर से नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल के नामों की चर्चा जोरों पर है। आपको बता दें कि गोरखपुर सीट सीएम योगी आदित्यनाथ और फूलपुर सीट डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के इस्तीफे से खाली हुई है। इन दोनों सीटों पर 11 मार्च को उपचुनाव होने हैं। जबकि उपचुनाव के लिए नामांकन पत्र 20 फरवरी तक दाखिल किए जाएंगे। इसलिए सभी राजनीतिक दलों को जल्द ही अपने उम्मीदवारों का ऐलान करना है।

 

बीजेपी की साख दांव पर

लोकसभा चुनाव से पहले होने वाले इस उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी की साख दांव पर लगी है। क्योंकि बीजेपी के सामने इन दोनों सीटों पर अपना कब्जा बरकरार रखने की बड़ी चुनौती है। जबकि विपक्ष भी उपचुनाव में अपनी पूरी ताकत दिखाकर बीजेपी को कड़ी टक्कर देने की तैयारी में है। विपक्षी दलों में समाजवादी पार्टी ने अपनी तैयारी और रणनीति को आखिरी रूप दे दिया है। समाजवादी पार्टी ये उपचुनाव अकेले अपने दम पर लड़ेगी। सपा का पूरा जोर अति पिछड़ों, पिछड़ों और मुस्लिमों का समीकरण बनाने पर है। सूत्रों के मुताबिक अगर कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ तो सपा गोरखपुर में अति पिछड़े वर्ग के निषाद और फूलपुर में पिछड़े वर्ग के कुर्मी समाज के प्रत्याशी पर दांव लगाएगी।

 

सपा के कैंडीडेट फाइनल

सपा हाईकमान ने इन दोनों सीटों से कैंडीडेट भी फाइनल कर लिए हैं और एक-दो दिन में नामों का ऐलान भी हो जाएगा। जानकारी के मुताबिक गोरखपुर से निषाद पार्टी के अध्यक्ष डॉक्टर संजय निषाद के बेटे संतोष निषाद और फूलपुर में नागेन्द्र प्रताप सिंह पटेल का नाम दोड़ में सबसे आगे है। अगर संतोष निषाद समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी बनाए गए तो उन्हें निषाद पार्टी, पीस पार्टी के साथ कई और छोटे दलों का समर्थन मिलेगा।

 

तैयारी में जुटे अखिलेश यादव

आपको बता दें कि नागेन्द्र प्रताप सिंह समाजवादी पार्टी के पुराने नेता है और इस समय मंडल के अध्यक्ष भी हैं। वह 2014 के लोकसभा चुनाव में भी टिकट के दावेदार थे। समाजवादी पार्टी ने दोनों उपचुनाव के लिए बूथ लेवल पर प्लानिंग की है। सपा के विधायकों, पूर्व मंत्रियों की गोरखपुर और फूलपुर में ड्यूटी लगा दी गई है। से सभी नेता स्थानीय नेताओं के साथ मिलकर चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पार्टी के बड़े नेताओं से उपचुनाव की तैयारियों को लेकर लगातार संपर्क में हैं। गोरखपुर संसदीय क्षेत्र में कैंपियरगंज, पिपराइच, गोरखपुर शहर, गोरखपुर ग्रामीण और सहजनवां विधानसभा सीटें आती हैं। जबकि फूलपुर संसदीय क्षेत्र में इलाहाबाद पश्चिमी, इलाहाबाद उत्तरी, फूलपुर, सोरांव और फाफामऊ विधानसभा क्षेत्र आते हैं।

1
Ad Block is Banned