scriptShivpal Yadav Speak Against Mulayam Yadav favor to Azam Khan | शिवपाल ने मुलायम सिंह यादव के खिलाफ खोला मोर्चा, कहा नेताजी चाहते तो आजाद हो गए होते आजम खान | Patrika News

शिवपाल ने मुलायम सिंह यादव के खिलाफ खोला मोर्चा, कहा नेताजी चाहते तो आजाद हो गए होते आजम खान

Shivpal vs Akhilesh: समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया अखिलेश यादव और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के मध्य छिड़ा सियासी संघर्ष अब और तेज हो गया है। शिवपाल ने अब सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के खिलाफ ही बोलना शुरू कर दिया।

लखनऊ

Updated: April 23, 2022 07:28:42 am

सपा पार्टी में चल रही राजनीति आगे बढ़ती ही जा रही है। शिवपाल यादव ने आजम खान से मिलने का बाद नेताजी यानि मुलायम यादव के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया। बगावत की राह पर शिवपाल ने कहा कि सपा ने कोई संघर्ष नहीं किया। यहां तक मुलायम यादव पर भी प्रश्नचिन्ह लगा दिया। इतना ही नहीं बल्कि निकलने से पहले शिवपाल सिंह यादव अपने साथ कई सपा नेताओं को भी जोड़ना चाहते हैं।
Shivpal Yadav Speak Against Mulayam Yadav favor to Azam Khan
Shivpal Yadav Speak Against Mulayam Yadav favor to Azam Khan
दरअसल, जसवंतनगर से समाजवादी पार्टी के विधायक शिवपाल सिंह यादव ने जेल में बंद सपा नेता आजम खां से करीब घंटे भर की मुलाकात के बाद समाजवादी पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि इस समय विधानसभा में आजम भाई से वरिष्ठ कोई भी विधायक नहीं है। समाजवादी पार्टी उनके लिए संघर्ष करते नहीं दिख रही है। शिवपाल सिंह यादव ने अखिलेश यादव के साथ पहली बार मुलायम सिंह यादव पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि नेताजी चाहते तो अब तक आजम खां अब तक जेल से आजाद हो गए होते। नेताजी ने कुछ नहीं किया, लोकसभा में भी मामला नहीं उठाया। वह चाहते तो धरना कर सकते थे।
यह भी पढ़ें

आजम खान की गोपनीय बातें मुख्यमंत्री योगी तक पहुंचाएंगे शिवपाल

सीनियर नेता हैं आजम भाई

शिवपाल सिंह यादव ने कहा, 'इतने सीनियर नेता होने के बावजूद भी आजम भाई की मदद नहीं हो पा रही है। सपा भी कोई संघर्ष करते हुए दिख नहीं रही है। इतने छोटे-छोटे झूठे मुकदमों पर भी आंदोलन नहीं किया गया। लोकसभा से लेकर राज्यसभा तक सब जगह मुद्दा उठाया जाना चाहिए थाय़ अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा, 'आजम भाई सपा के फाउंडिंग मेंबर हैं, लेकिन उनकी मदद करती सपा दिख नहीं रही है।
यह भी पढ़ें

दारू पीकर होटल में लड़कियों ने किया ड्रामा

पहली बार नेताजी के खिलाफ बोले शिवपाल

समाजवादियों की पहचान आंदोलन की थी, लेकिन दुर्भाग्य है कि आजम भाई के लिए कोई आंदोलन होता दिखा नहीं। हम तो आजम भाई के साथ हैं और आजम भाई भी मेरे साथ हैं। पहली बार मुलायम के खिलाफ बोलते हुए कहा कि नेताजी ने भी आजम भाई के बारे में नहीं सोचा है। लोकसभा में भी मामला नहीं उठाया। वह चाहते तो धरना कर सकते थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.