तेजी से बढ़ने लगे कोरोना के मामले, सीएम योगी ने स्कूल बंद करने के साथ दिए यह सख्त निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को टीम-11 (Team 11) संग बैठक की जिसमें तेजी से बढ़ते कोरोना (Coronavirus) संक्रमण को देखते हुए जरूरी दिशा निर्देश भी दिए।

By: Abhishek Gupta

Published: 02 Apr 2021, 04:06 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना (Coronavirus in UP) एक बार फिर तेज गति पकड़ चुका है। गुरुवार को 2600 मामलों ने सरकार व स्वास्थ्य विभाग की नींदे उड़ा दी। इसी को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने स्कूलों को 11 अप्रैल तक बंद करने के आदेश जारी कर दिए। उन्होंने शुक्रवार को टीम-11 (Team 11) संग बैठक की जिसमें तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए जरूरी दिशा निर्देश भी दिए। सीएम ने लखनऊ, कानपुर, मेरठ, प्रयागराज, वाराणसी, गाजियाबाद, आगरा में विशेष सतर्कता व सावधानियां बरतने के निर्देश दिए। इन जिलों में ही सर्वाधिक कोरोना को मरीज सामने आ रहे हैं। प्रदेश में अर्जित अनुभव तथा संसाधनों के बेहतर समन्वय से कोविड-19 के खिलाफ जंग को प्रभावी ढंग से जारी रखने के निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें- कोरोनाः यूपी में एक दिन में दोगुना लोग हुए संक्रमित, आए 2600 नए मामले, इस जिले में आए 900 केस

स्कूल रहेंगे बंदः सीएम

उन्होंने कहा कि कक्षा 1 से कक्षा 8 तक के सभी परिषदीय एवं निजी विद्यालयों को 11 अप्रैल तक बन्द रखा जाए। इस अवधि में इन विद्यालयों में शैक्षणिक कार्य बन्द रहेगा, जबकि शिक्षक प्रशासनिक कार्यों के लिए स्कूल आते रहेंगे। उन्होंने कोरोना संक्रमण के सम्बन्ध में लोगों को जागरूक करने के लिए पब्लिक एड्रेस सिस्टम का प्रभावी इस्तेमाल करने के निर्देश दिए। जाए। कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए मास्क का अनिवार्य उपयोग, सैनिटाइजेशन तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित किया जाए।

ये भी पढ़ें- यूपी में कोरोना की चपेट में नेता से लेकर अफसर तक, कोई नहीं बच रहा, दो दिनों में आए 2814 नए मरीज

सार्वजनिक स्थलों पर लोग मास्क न लगाएं, तो कार्यवाही की जाएः सीएम
सीएम ने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि कि सार्वजनिक स्थलों पर यदि लोग मास्क न लगाएं, तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाए। साथ ही कोविड-19 के मद्देनजर एल-2 तथा एल-3 कोविड अस्पतालों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। टेस्टिंग, ट्रैकिंग व ट्रीटमेन्ट की प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। जो लोग होम आइसोलेशन में हैं, उनकी निरन्तर मॉनिटरिंग की जाए और हालचाल लिया जाए। निगरानी समितियों को सक्रिय रहने के निर्देश देते हुए सर्विलांस सिस्टम को प्रभावी बनाए रखा जाए।

coronavirus
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned