Quick Read: एक जुलाई से वस्तुओं की खरीद बिक्री पर टीडीएस

10 करोड़ से ज्यादा का टर्नओवर करने वाले व्यापरियों को 50 लाख रुपये से अधिक की वस्तुओं की खरीद पर एक जुलाई से टीडीएस देना होगा।

By: Karishma Lalwani

Published: 28 May 2021, 02:16 PM IST

एक जुलाई से वस्तुओं की खरीद बिक्री पर टीडीएस

वाराणसी. 10 करोड़ से ज्यादा का टर्नओवर करने वाले व्यापरियों को 50 लाख रुपये से अधिक की वस्तुओं की खरीद पर एक जुलाई से टीडीएस देना होगा। इसके लिए कर सलाहकारों और कारोबारियों ने अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर में बदलाव शुरू कर दिया है। अब तक टीडीएस के प्रावधान में वस्तुएं शामिल नहीं थीं। अब तक यह सेवा क्षेत्र जैसे प्रोफेशनल फीस, ठेकेदारी, कमीशन और किराये पर लागू था। आयकर अधिनियम के अंतर्गत पिछले साल टीडीएस में भी बदलाव किया गया था, जो एक अक्तूबर 2020 से लागू हो चुका है। पहले कुछ वस्तुओं जैसे स्क्रैप, अल्कोहल, तेंदुपत्ता आदि के क्रय विक्रय पर टीसीएस का प्रावधान था। लेकिन नई धारा 206 सी (1एच) जोड़े जाने के बाद सभी वस्तुओं पर टीसीएस लागू हो गया है। अगर किसी व्यापारी का पिछले वित्तीय वर्ष में टर्नओवर 10 करोड़ रुपये से अधिक है, तो वह एक व्यक्ति से 50 लाख रुपये से अधिक का कारोबार करता है तो उसे 0.1 प्रतिशत टीडीएस जमा करना पड़ता है।

मेडिकल छात्रा से दोस्ती फिर यौन शोषण

लखनऊ. राजधानी में शादी का झांसा देकर मेडिकल छात्रा का डेढ़ साल तक यौन शोषण करने का मामला सामने आया है। मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। गुडंबा थाने के इंस्पेक्टर फरीद अहमद के मुताबिक युवती नर्सिंग कोर्स कर रही है। डेढ़ साल पहले उसकी मुलाकात सीतापुर आर्यनगर निवासी शुभम तिवारी से हुई थी। दोस्ती बढ़ने पर दोनों साथ रहने लगे। इस बीच शुभम ने युवती के साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाए। एतराज जताने पर जल्द शादी करने का दावा करने लगा। यौन शोषण का सिलसिला डेढ़ साल तक चलता रहा। जिससे युवती गर्भवती हो गई। गर्भ ठहरने के बाद छात्रा ने जल्दी शादी करने का दबाव बनाया। इस पर शुभ म ने युवती को धोखे में रख कर उसे गर्भपात की दवाई दे दी।जिसके कारण युवती की तबीयत बिगड़ गई। हालत सुधरने पर युवती ने शुभम को उसकी हरकत के लिए काफी फटकारा। जिसे बाद दोनों के बीच कहासुनी हुई और शुभम उसे छोड़ कर चला गया। फोन करने पर शादी की बात से मुकर गया।

एक साथ उठी डोली और अर्थी

इटावा. समसपुरा निवासी स्व. रमापति की बड़ी बेटी सुरभि का विवाह इटावा जनपद के ग्राम नावली निवासी मंजेश कुमार के साथ तय हुई थी। बरात निर्धारित समय पर ग्राम समसपुरा स्थित जनवासे में पहुंची, जहां पर घरातियों द्वारा बरातियों का आदर सत्कार के साथ स्वागत सम्मान किया गया। शादी की तैयारियां होने लगी। मांग भराई की रस्म के बाद जैसे ही फेरों की घड़ी आई तभी अचानक सुरभि की तबीयत बिगड़ गई और वह बेहोश होकर जमीन पर गिर पड़ी। बेटी को अचेत अवस्था में जमीन पर पड़ा देख वर- वधू पक्ष घबरा गए। दुल्हन को उसके भाई-बहन और अन्य रिश्तेदार उपचार के लिए पास के ही अस्पताल ले गए। जहां पर डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद दोनों पक्षों में दूल्हे की शादी दुल्हन की छोटी बहन से करने पर सहमति बनी। सभी रस्मों को पूरा करते हुए दोनों का विवाह संपन्न हुआ।

पेड़ से टकराई बोलेरो, 12 घायल

महोबा. महोबा में कानपुर-सागर हाईवे पर गुगौरा चौकी के समीप तेज रफ्तार बोलेरो सड़क किनारे लगे पेड़ से टकरा गई। हादसे में प्रयागराज से अस्थि विसर्जन कर लौट रहे एक ही परिवार के दो मासूम बच्चों समेत 12 लोग घायल हो गए। घटना का कारण चालक को झपकी आना है। टीकमगढ़ जिले के जतारा गांव निवासी भगवानदास (80) का 21 मई को बीमारी के चलते निधन हो गया था। पिता की अस्थियां लेकर पुत्र मनोहर पूरे परिवार के साथ प्रयागराज गया था। जब वह अस्थियां विसर्जित कर लौट रहे थे कि तभी बोलेरो कार हाईवे में गौरा चौकी के समीप अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई। मौके पर एकत्र हुए राहगीरों ने पुलिस व एंबुलेंस को सूचना देकर घायलों को किसी तरह बाहर निकाला। बाद में सभी को एंबुलेंस से जिला अस्पताल पहुंचाया गया।

दरोगा पर बहू के साथ दुष्कर्म का आरोप

लखीमपुर खीरी. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में एक महिला ने पति की मौत के बाद ससुर पर प्रताड़ित करने और दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। महिला का ससुर पुलिस में दरोगा है। पसगवां कोतवाली के एक गांव निवासी व्यक्ति ने अपनी पुत्री का विवाह शाहजहांपुर शहर के एक मोहल्ला निवासी दरोगा के पुत्र के साथ 30 जून 2020 को किया था। पीड़ित महिला का पति लिवर रोग से ग्रसित था जिस कारण इसी वर्ष 18 फरवरी को उसकी मौत हो गई। 20 फरवरी को उसकी सास ने कमरे की चाबी छीन ली और विरोध करने पर पीटकर जान से मारने की कोशिश की। महिला ने कहा कि दो मार्च की रात 11 बजे उसके दरोगा ससुर ने अकेला पाकर उसके साथ दुष्कर्म किया और धमकाया, जिससे वह काफी भयभीत हो गई। महिला ने न्याय पाने के लिए डीएम, एसपी, कोतवाली पसगवां और महिला आयोग को पंजीकृत शिकायती पत्र भेजा है। महिला का आरोप है कि उसका ससुर दरोगा है, इस कारण न्याय नहीं मिल पा रहा है। पसगवां कोतवाली प्रभारी निरीक्षक आदर्श कुमार सिंह ने कहा कि गंभीर अपराध का आरोप है।

घूस लेते रंगे हाथों पकड़ा गया लेखपाल

इटावा. इटावा में वरासत दर्ज करने के लिए दो हजार रुपये की रिश्वत लेते सदर तहसील के लेखपाल को कानपुर की एंटी करप्शन टीम ने रंगे हाथों पकड़ा है। सिविल लाइन थाने में उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। शुक्रवार को आरोपी को लखनऊ में एंटी करप्शन कोर्ट में पेश किया जाएगा। सिविल लाइन थाना क्षेत्र के निवासी प्रमोद गुप्ता ने बताया कि दिसंबर 2020 में वरासत कराने के लिए तहसील सदर में प्रार्थनापत्र दिया था। इस पर लेखपाल अरुण कुमार ने पांच हजार रुपये मांगे थे। लेखपाल कई महीने से काम लटकाए थे। रुपये देने की बात कहने पर काम करने को तैयार हो गए थे। प्रमोद ने इसकी जानकारी कानपुर जाकर एंटी करप्शन टीम को दी। टीम ने जाल बिछाया। प्रमोद को केमिकल लगे नोट देकर प्रमोद को रिश्वत देने के लिए भेजा। जैसे ही लेखपाल ने नोट अपने हाथ में लिए, टीम ने उसे दबोच लिया। टीम उसे सिविल लाइन थाना लेकर पहुंची। थाने में लेखपाल अरुण के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। सिविल लाइन थाना प्रभारी ने इस बात की पुष्टि की।

ये भी पढ़ें: Quick Read: केजीएमयू में विरोध, पहली सैलरी मिलने से पहले ही निकालने का फरमान

ये भी पढ़ें: Quick Read: कुल्हाड़ी से काटने की धमकी देकर नाबालिग लड़कियों से दुष्कर्म

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned