Quick Read: हाईवे पर यात्रियों से भरी बस पलटी, 19 घायल

गोरखपुर से लुधियाना पंजाब जा रही डबल डेकर बस अयोध्या हाईवे पर मंगलवार देर रात पलट गई। हादसे में करीब 19 यात्री घायल हो गए। हादसे का कारण क्षमता से अधिक यात्री सवार होना बताया गया है। सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती किया गया जिसमें से 18 को मामूली उपचार के बाद घर भेज दिया गया। वहीं सोनम, उर्मिला, सोनम, विजय और रविंद्र सहित अन्य की हालत ठीक है।

By: Karishma Lalwani

Published: 06 Oct 2021, 04:31 PM IST

हाईवे पर यात्रियों से भरी बस पलटी, 19 घायल

बाराबंकी. गोरखपुर से लुधियाना पंजाब जा रही डबल डेकर बस अयोध्या हाईवे पर मंगलवार देर रात पलट गई। हादसे में करीब 19 यात्री घायल हो गए। हादसे का कारण क्षमता से अधिक यात्री सवार होना बताया गया है। सभी घायलों को अस्पताल में भर्ती किया गया जिसमें से 18 को मामूली उपचार के बाद घर भेज दिया गया। वहीं सोनम, उर्मिला, सोनम, विजय और रविंद्र सहित अन्य की हालत ठीक है। घायलों में कुशीनगर, बस्ती, देवरिया, गोरखपुर, बिहार के बेतिया और हरियाणा के पानीपत के लोग शामिल हैं। बस में क्षमता से अधिक यात्री होने की बात कही जा रही है। हादसे के बाद एएसपी अवधेश सिंह और एसडीएम सुमित यादव अधिकारी मौके पर पहुंचे। कुशीनगर के रामकोला थाना के सिंगहा के शंकर (60), अशर्फीलाल (50), स्वामी नाथ (35), गरहन पुत्र भिखारी प्रसाद (55), दिनेश (50), अरुण (30), विशाल, लालमनि (61), अरुण (10), मृदुल (80), नवल (28), दौलतराम (34) और जमादार(45) शामिल हैं।

वाराणसी से चंदौली और भदोही की दूरी होगी कम

वाराणसी. प्रदेश सरकार ने वाराणसी और भदोही में दो सड़कों के चौड़ीकरण का निर्णय लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में करवाए जा रहे विकास कार्यों के तहत ही वहां मोहनसराय चंदौली सड़क छह लेन की बनायी जाएगी। करीब 11 किलोमीटर लंबी इस सड़क के चौड़ीकरण पर 412.53 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इसी तरह वाराणसी से भदोही जाने वाली सड़क का भी चौड़ीकरण किया जाएगा। 86 किलोमीटर लंबी इस सड़क के चौड़ीकरण कार्य पर 269.10 करोड़ की लागत आएगी। वाराणसी के मोहनसराय से चंदौली के दीनदयाल उपाध्याय नगर चकिया मार्ग पर सर्विस लेन के साथ 6-लेन और 4-लेन में चौड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण कार्य की लागत के व्यय को स्वीकृति दी गई है।

सभी मस्जिदों का वक्फ में होगा पंजीकरण

कानपुर. जुलूस-ए-मोहम्मदी, मतदाता सूची में नाम दर्ज कराने को अभियान व वक्फ बोर्ड में मस्जिदों के पंजीयन को लेकर नगर जमीयत उलमा की बैठक रजबी रोड स्थित जमीयत बिल्डिंग में हुई। बैठक में जमीयत के सदस्यों को वक्फ बोर्ड में मस्जिदों का पंजीकरण कराए जाने की जिम्मेदारी सौंपी गई। इसके लिए मस्जिदों के मुतवल्लियों व इमामों का सहयोग भी किया जाएगा। उनको वक्फ बोर्ड के फार्म उपलब्ध कराए जाएंगे। फार्म भरने के बाद आगे की कार्रवाई जमीयत उलमा करेगी। इसके लिए कमेटी का भी गठन किया गया है। बैठक में तय किया गया कि अरबी महीने रबी उल अव्वल को रहमत-ए-आलम महीने के रूप में मनाया जाए। पूरे महीने जलसे आयोजित कर लोगों को पैगंबर-ए-इस्लाम की जीवनी से अवगत कराया जाएगा। उनकी शिक्षाओं के अनुसार जिंदगी गुजारने की अपील की जाएगी।

पांच रुपये में एसी बसों में सफर

गोरखपुर. गोरखपुर शहर में जल्द चलने वाली इलेक्ट्रिक बसों के किराए तय हो गए हैं। जल्द ही बोर्ड की बैठक में इस पर अंतिम मुहर लग जाएगी। एसी बस में यात्री पांच रुपये में तीन किमी तक यात्रा कर पाएंगे। इलेक्ट्रिक बस सेवा का यह न्यूनतम किराया होगा। जबकि अधिकतम किराया 45 रुपये प्रस्तावित है। शहर में तीन रूटों पर इलेक्ट्रिक बस सेवा प्रस्तावित है। वैसे तो इसे सितंबर माह में शुरू हो जाना था, लेकिन किन्हीं कारणों से संचालन टल गया है। इधर, अभी संचालन के लिए तैयारियां चल रही हैं। किराया भी तय नहीं हो पाया था। अब प्रस्तावित किराया निर्धारित किया गया है। न्यूनतम किराया तीन किलोमीटर तक पांच रुपये और अधिकतम किराया 42 किलोमीटर तक 45 रुपये प्रस्तावित है। लो फ्लोर की एसी बस में यात्रा की सुखद अनुभूति दिलाने के लिए नगर निगम प्रशासन ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। गोरखपुर के लिए निर्धारित 25 बसें आ जाएंगी।

पावर कारपोरेशन प्रबंधन के विरोध में विद्युत अभियंताओं ने किया प्रदर्शन

अमेठी. प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर जिले के विद्युत अभियंताओं का ने विरोध प्रदर्शन किया। अभियंताओं ने काली पट्टी बांधकर विरोध दर्ज कराया वहीं बुधवार से एक घंटे का कार्य बहिष्कार शुरू होगा। पावर कारपोरेशन प्रबंधन द्वारा की जा रही उत्पीड़नात्मक कार्यवाही हो और अन्य समस्याओं का समाधान न होने के कारण विद्युत अभियंता बीते चार अक्टूबर से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं अभियंताओं ने बांह पर काली पट्टी बांधकर कार्य किया। वहीं विरोध प्रदर्शन को गति देने के लिए बुधवार को सायं चार से पांच बजे तक एक घंटे का कार्य बहिष्कार किया गया।

महंत नृत्यगोपाल दास की तबीयत में सुधार

लखनऊ. राजधानी के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास की तबीयत में पहले से सुधार है। जांच में उनके पेशाब में संक्रमण कम हुआ है। अब पहले कम ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है। क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग नक आईसीयू में विशेषज्ञ डॉक्टरों की निगरानी में उनका इलाज चल रहा है। रविवार को अयोध्या में महंत की तबीयत बिगड़ने पर मेदान्ता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ. राकेश कपूर के मुताबिक महंत को हालत स्थिर है। उनके ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत कम हुई है। उन्हें गहन चिकित्सा कक्ष में क्रिटिकल केयर विशेषज्ञों और यूरोलोजी विशेषज्ञों की टीम की निगरानी में रखा गया है।

7 अक्टूबर से शुरू हो रहा वरुणा एक्सप्रेस का संचालन

सुल्तानपुर. लखनऊ वाराणसी के बीच वाया सुल्तानपुर से होकर गुजरने वाली वरुणा एक्सप्रेस सात अक्टूबर से फिर चलेगी। इससे सुल्तानपुर से लखनऊ आने-जाने वालों का सफर आसान होगा। कोरोना के कारण पिछले डेढ़ साल से इस ट्रेन का संचालन बंद था। यात्री दे इसे बार-बार चलाए जाने की मांग कर रहे थे। सांसद मेनका गांधी ने रेल मंत्रालय को इस ट्रेन के संचालन के लिए पत्र लिखा था। सांसद प्रतिनिधि रंजीत कुमार के मुताबिक ऑपरेशन मैनेजर केके अरोड़ा की तरफ से दी गई है वरुणा एक्सप्रेस के संचालन की जानकारी। सांसद गांधी की पहल पर शुरू हो रहा संचालन है। लंबे समय से स्थानीय नागरिक वरुणा को चलाए जाने की मांग उठा रहे थे।

बाढ़ और जलभराव से बढ़े इंसेफेलाइटिस के मरीज

गोरखपुर. गोरखपुर जिले में बाढ़ और जलभराव की वजह से इंसेफेलाइटिस के मरीज बढ़ गए हैं। जनवरी से अब तक गोरखपुर में इंसेफेलाइटिस के 161 मरीज मिल चुके हैं। पिछले साल की तुलना में इस साल मरीजों की संख्या बढ़ी है। विशेषज्ञों का कहना है कि बाढ़ का प्रकोप कम होने के बाद संक्रामक बीमारियों में तेजी से इजाफा हुआ है। ऐसे में इंसेफेलाइटिस के केस में भी बढ़ोतरी हुई है। पिछले पूरे साल जहां 130 मरीज मिले थे और छह मरीजों की मौत हुई थी। इस बार चार अक्टूबर तक 161 मरीज मिल चुके हैं और 12 मरीजों की मौत भी हो चुकी है। विशेषज्ञों का कहना है कि जिस तरह से बाढ़ का पानी कम हुआ है उसके अनुसार मामले अभी और बढ़ेंगे। क्योंकि यह बीमारी गंदगी की वजह से होती है। इसके अलावा स्क्रब टाइफस भी एक बड़ा कारण है। बाढ़ के दौरान गाय, भैंस, बकरी जैसे पालतू जानवर भी पानी के संपर्क में रहे। इनमें चार तरह के बैक्टीरिया पाए जाते हैं। इनमें बोफिलस माइक्रोप्लस, हायलोमा कुमारी रिफिसेफेलस, सैंग्वीनियस और डर्मासेंटर आरोटस नामक बैक्टीरिया मिले हैं।

बिकरू कांड में नाबालिग की जमानत याचिका पर सुनवाई की तारीख 20 अक्टूबर

कानपुर. बिकरू कांड में नाबालिग की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट में प्रदेश सरकार द्वारा पक्ष न रखने पर नाबालिग के अधिवक्ता विवेक तंखा ने सख्त आपत्ति जताई। सुप्रीम कोर्ट ने विवेक के तर्कों को सुनने के बाद प्रदेश सरकार को 20 अक्टूबर तक अपना पक्ष रखने का निर्देश दिया है। बिकरू कांड में आरोपी नाबालिग पिछले एक साल से न्यायिक हिरासत में है। पिछले दिनों बालिग होने के बाद उसे बाराबंकी स्थित बालिका संरक्षण गृह से माती जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। नाबालिग की हाई कोर्ट से जमानत अर्जी खारिज होने के बाद सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठ अधिवक्ता विवेक तंखा उसकी ओर से पैरवी कर रहे हैं। मामले में पिछली तारीख पर सुप्रीम कोर्ट ने प्रदेश सरकार को नोटिस जारी कर जमानत याचिका के संबंध में जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए थे, लेकिन सरकार द्वारा अब तक कोई जवाब दाखिल नहीं किया गया।

दशहरा से चलेंगी पूजा स्पेशल ट्रेन

गोरखपुर. दशहरा से लेकर 31 जनवरी तक पूजा स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी। ऐसे में दिवाली और छठ पर घर जाने वालों के लिए तीन पूजा स्पेशल ट्रेनों के जरिये सहूलियत होगी। पूर्वोत्तर रेलवे के प्रस्ताव को रेलवे बोर्ड ने मंजूर कर लिया है। जल्द ही रेल प्रशासन इन तीनों ट्रेनों का संचलन शुरू कर देगा। ये ट्रेनें गोरखपुर से एर्णाकुलम, गोरखपुर-से मुंबई और गोरखपुर से दिल्ली तक चलेंगी। दरअसल, छठ तक सभी प्रमुख ट्रेनों में सीटें फुल हो गई हैं। वेटिंग इतना ज्यादा है कि कंफर्म होने की उम्मीद कम है। सर्वाधिक मारामारी दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और बंगलूरू की ट्रेनों में है। गोरखधाम, वैशाली, सप्तक्रांति, बिहार संपर्क क्रांति, एलटीटी स्पेशल, कुशीनगर स्पेशल सहित अहम ट्रेनों में सभी सीटें भर चुकी हैं। दिवाली और छठ में दूसरे शहरों में रहने वाले नौकरीपेशा, व्यापारी और छात्र घर आते हैं। सीटें नहीं मिलने से इनका त्योहार खराब हो जाता है। ये ट्रेनें 31 जनवरी तक चलाई जाएंगी। तीनों ट्रेनें सप्ताह में एक दिन चलाई जाएगी।

ये भी पढ़ें: Quick Read: आम आदमी बनकर इलाज कराने पहुंचे डीएम, नहीं मिला ट्रीटमेंट

ये भी पढ़ें: Quick Read: बहन की पत्नी को अगवा कर बनाया बंधक, जेसीबी की मदद से पुलिस ने छुड़ाया

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned