scriptWill work strengthen system of cancer hospitals and increase capacity | प्रदेश में कैंसर के इलाज को और बेहतर बनाने की अनूठी पहल,जानिए इसके बारे में | Patrika News

प्रदेश में कैंसर के इलाज को और बेहतर बनाने की अनूठी पहल,जानिए इसके बारे में

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत स्टेट एजेंसी फॉर कामप्रिहेंसिव हेल्थ एंड इंटीग्रेटेड सर्विसेज (साचीस) के तत्वावधान में शुक्रवार को बुलाई गई एक बैठक में यह जानकारी दी गई । इस साझेदारी से आँकोलाजी देखभाल से जुड़े सेवा प्रदाताओं को राष्ट्रीय और राज्य के कैंसर रोग विशेषज्ञों का सहयोग मिलेगा और सरकार द्वारा तय मानक दिशा-निर्देशों और स्तन, मुख व फेफड़ों के कैंसर के उपचार के बारे में अत्याधुनिक जानकारी प्रदान करने के लिए प्रशिक्षित भी किया जाएगा ।

लखनऊ

Published: January 28, 2022 07:46:11 pm

लखनऊ, प्रदेश के कमजोर वर्ग के लोगों को कैंसर का बेहतर इलाज मुहैया कराने को हरसंभव प्रयास चल रहे हैं । आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत भी कैंसर के इलाज की सुविधा मुहैया कराई जा रही है । इसको और सुदृढ़ बनाने के लिए शुक्रवार को एक नई पहल शुरू हुई है जो कि कमजोर वर्ग को कैंसर का गुणवत्तापूर्ण इलाज प्रदान करने की दिशा में मील का पत्थर साबित होगी । इसके तहत स्टेट हेल्थ एजेंसी साचीस का एक्सेस हेल्थ इंटरनेशनल और रोश इंडिया हेल्थ केयर इंस्टीट्यूट के बीच एक करार हुआ है ।
प्रदेश में कैंसर के इलाज को और बेहतर बनाने की अनूठी पहल,जानिए इसके बारे में
प्रदेश में कैंसर के इलाज को और बेहतर बनाने की अनूठी पहल,जानिए इसके बारे में
इस करार के तहत एक्सेस हेल्थ इंटरनेशनल और रोश इंडिया हेल्थ केयर इंस्टीट्यूट प्रदेश में कैंसर के गुणवत्तापूर्ण इलाज और देखभाल के लिए महत्वपूर्ण मानक तय करने के साथ ही कैंसर अस्पतालों के क्षमता वर्धन का भी काम करेंगे । आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत स्टेट एजेंसी फॉर कामप्रिहेंसिव हेल्थ एंड इंटीग्रेटेड सर्विसेज (साचीस) के तत्वावधान में शुक्रवार को बुलाई गई एक बैठक में यह जानकारी दी गई । इस साझेदारी से आँकोलाजी देखभाल से जुड़े सेवा प्रदाताओं को राष्ट्रीय और राज्य के कैंसर रोग विशेषज्ञों का सहयोग मिलेगा और सरकार द्वारा तय मानक दिशा-निर्देशों और स्तन, मुख व फेफड़ों के कैंसर के उपचार के बारे में अत्याधुनिक जानकारी प्रदान करने के लिए प्रशिक्षित भी किया जाएगा ।
इस मौके पर प्रदेश के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण सचिव रवींद्र कुमार ने साचीस, एक्सेस हेल्थ इंटरनेशनल और रोश इंडिया हेल्थ केयर इंस्टीट्यूट की इस अनूठी पहल की सराहना की और कहा कि आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास है कि इससे कैंसर के इलाज को और गुणवत्तापूर्ण बनाया जा सकेगा । उन्होंने कहा कि प्रदेश में कैंसर का सस्ता और सुलभ इलाज लोगों को मिले, इसके लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं ।
बैठक में महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा डॉ. एन. सी. प्रजापति ने कहा कि देश में हर वर्ष कैंसर से लगभग सात लाख मौत होती हैं । कैंसर के इलाज में मुख्य समस्या कैंसर की पहचान में देरी है, जिससे समय पर इलाज संभव नहीं हो पाता । वर्तमान में प्रदेश के जिलों में स्थापित मेडिकल कॉलेज कैंसर पीड़ितों के इलाज में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं, लेकिन उन्हें फ़ंड का अभाव, विशेषज्ञों की कमी और दवाओं की उनुपलब्धता जैसी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है । जहां एक ओर सरकार ने हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज खोलने की पहल की है, वहीं यहाँ कैंसर रोगियों के लिए आवश्यक दवाएं और काउंसिलिंग सेवाएँ सुनिश्चित करने की भी आवश्यकता है ।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण की अधिशाषी निदेशक डॉ. सुधा चंद्रशेखर ने सेवाओं की गुणवत्ता पर ज़ोर दिया । उनहोंने कहा कि स्टैंडर्ड ट्रीटमेंट गाइडलाइन (एसटीजी) के तहत आयुष्मान भारत योजना के लिए विशेष गाइडलाइन तैयार की गई है जिससे विभिन्न सम्बद्ध अस्पतालों में सेवाओं की गुणवत्ता को बनाए रखने और उनके दुरुपयोग को रोकने में मदद मिलेगी । साचीस की सीईओ संगीता सिंह ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश के 1.78 करोड़ से अधिक परिवारों को जोड़ा गया है और करीब 1.8 करोड़ का आयुष्मान कार्ड भी बन चुका है । करीब 10 लाख परिवारों ने मुफ्त इलाज की सुविधा भी प्राप्त की है । प्रदेश में करीब 65 फीसद निजी अस्पतालों के साथ 2855 अस्पतालों का एक बड़ा नेटवर्क योजना से जुड़कर लोगों को मुफ्त इलाज मुहैया करा रहे हैं ।
राज्य में अब तक करीब 46 हजार आँकोलाजी के मामले दर्ज किए गए हैं जो कुल दावे के पाँच फीसद हैं । इनमें से 79 फीसद मेडिकल आँकोलाजी, 17 फीसद रेडिएशन आँकोलाजी और चार फीसद सर्जिकल आँकोलाजी के तहत पंजीकृत हैं । राज्य में 350 से अधिक अस्पताल आँकोलाजी के इलाज के लिए सूचीबद्ध हैं, हालांकि अभी 21 फीसद ही सक्रिय रूप से आयुष्मान भारत योजना के तहत सेवा प्रदान कर रहे हैं । इस दिशा में एक्सेस हेल्थ इंटरनेशनल और रोश इंडिया का साथ मिलने से बड़ा बदलाव आएगा और कैंसर के इलाज को और गुणवत्तापूर्ण बनाने के लिए इनके सुझावों की बड़ी भूमिका होगी । मेदांता जैसे बड़े अस्पतालों के नेटवर्क को भी इसमें शामिल किया जाएगा ताकि लोगों को और बेहतर इलाज मुहैया कराया जा सके ।
एक्सेस हेल्थ के कंट्री डायरेक्टर डॉ. कृष्णा रेड्डी ने कहा कि कैंसर का इलाज लंबा चलता है और महंगा भी है । इस दिशा में कार्य करने की जरूरत है ताकि खर्च को नियंत्रित करते हुए गुणवत्तापूर्ण इलाज मुहैया कराया जा सके । रोश इंडिया के चीफ एक्सेस आफिसर लक्ष्मण सेतुरमन ने कहा कि रोश इंडिया हेल्थकेयर इंस्टीट्यूट का मुख्य उद्देश्य देश में स्वास्थ्य सेवाओं को और बेहतर बनाने में सहयोग करना है ताकि लोगों को गुणवत्तापूर्ण इलाज कम खर्च पर मिल सके । इसके लिए विशेषज्ञों की टीम तैयार करना ताकि अत्याधुनिक सुविधाओं से सभी सेवा प्रदाताओं को अवगत कराते हुए उनका क्षमता वर्धन किया जा सके ।

कार्यक्रम के अंत में विशेषज्ञों ने विभिन्न मेडिकल कॉलेजों और सहयोगी संस्थाओं के प्रतिभागियों के सवालों के जवाब दिए और कहा कि कैंसर के इलाज संबन्धित ओरल दवाओं की उपलब्धता और प्राथमिक एवं उच्च इकाइयों में रेफरल सुविधाओं को मजबूत करने का प्रयास निश्चित तौर पर कैंसर रोगियों के लिए लाभकारी होगा ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

सेना का 'मिनी डिफेंस एक्सपो' कोलकाता में 6 से 9 जुलाई के बीचGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'Women's T20 Challenge: वेलोसिटी ने सुपरनोवास को 7 विकेट से हरायानवजोत सिंह सिद्धू को जेल में मिलेगा स्पेशल खाना, कोर्ट ने दी अनुमतिSSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़प
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.