मोदी सरकार की नई स्कीम्स कर देंगी आपको मालामाल, जानिए कैसे काम लें

ये फाइनेंशियल स्कीम्स एंटरप्रेन्योर के लिए विशेष रूप से बिगनर्स के लिए बहुत बेनिफिशियल हैं। यंग एंटरप्रेन्योर्स को एक बार गवर्मेंट स्कीस्म को जरूर देखना चाहिए।

ग्लोबली इंडिया स्टार्टअप हब के तौर पर नई पहचान बना रहा है। यूनीकॉर्न स्टार्टअप की बढ़ती संख्या भी इस बात का प्रमाण है यूएसए के बाद इंडियन स्टार्टअप की ओर इंवेस्टर का रुझान अधिक है। बिगनर्स और यंग एंटरप्रेन्योर को गवर्मेंट स्कीम का बेनिफिट पूरी तरह से नहीं मिल रहा है, जिसका प्रमुख कारण ऐसी फाइनेंशियल स्कीम्स के बारे में एंटरप्रेन्योर को अधिक जानकारी नहीं होना। जबकि ये फाइनेंशियल स्कीम्स एंटरप्रेन्योर के लिए विशेष रूप से बिगनर्स के लिए बहुत बेनिफिशियल हैं। यंग एंटरप्रेन्योर्स को एक बार गवर्मेंट स्कीस्म को जरूर देखना चाहिए।

बैंक क्रेडिटफेसिलेशन स्कीम
इंडियन गवर्मेंट की नेशनल स्मॉल इंडस्ट्री कॉर्पोरेशन एंटरप्रेन्योर को बेनिफिट दिलाने के उददेश्य से कई बैंकों के साथ एमओयू किया है। यह कॉर्पोरेशन एंटरप्रेन्योर को बैंको से लोन दिलाती है। एंटरप्रेन्योर ऑनलाइन भी एनएसआईसी से सम्पर्क कर लोन के लिए एप्लाई कर सकता है। यह लोन दिलाने के एवज में किसी तरह फीस नहीं लेती है। सबसे बड़ा बेनिफिट यह है कि एंटप्रेन्योर को बैंकों के कड़े नियम कानून का सामना नहीं करना पड़ता और उसके लोन लेने की राह आसान हो जाती है।

केवल 59 मिनट में बिजनेस लोन
गर्त वर्ष प्रधानमंत्री ने 59 मिनट में बिजनेस लोन की बात का ऐलान किया था। क्रेडिट गारंटी फंड ट्रस्ट फॉर माइक्रो व स्मॉल एंटरप्राइजेज की इस योजना में 59 मिनट में एंटरप्रेन्योर को लोन को सैद्धांतिक सहमति दे दी जाती है। इस स्कीम में एंटरप्रेन्योर एक लाख से एक करोड़ तक के लोन के लिए एप्लाई कर सकता है। इंटरेस्ट रेट 8 प्रतिशत है। इस लोन के लिए एप्लाई करने वाले एंटरप्रेन्योर के पास जीएसटी रजिस्ट्रेशन के अलावा 6 माह की बैंक स्टेटमेंट भी होना जरूरी है।

10 लाख से 150 लाख का लोन
सिडबी और इंडिया एसएमई टेक्नोलॉजी सर्विस लिमिटेड की इस स्कीम के अंतर्गत उन एंटरप्रेन्योर को लाभ मिलता है, जो एनर्जी एफिशियंसी के तरीके अपनाते हैं। इस स्कीम के अंतर्गत वे एंटरप्रेन्योर लोन के लिए एप्लाई कर सकते हंै, जो मैन्यूफेक्चरिंग या सर्विस सेक्टर में कम से कम 3 वर्ष से काम कर रहे हैं। इस स्कीम में लोन के लिए एप्लाई करने वाला स्टार्टअप किसी अन्य बैंक या फाइनेंशियल इंस्टीटयूशन से डिफॉल्टर नहीं होना चाहिए। इस 4ई स्कीम के अंतर्गत एक एंटरप्रेन्योर को कम से 10 लाख और अधिक से अधिकत 150 लाख तक का लोन मिल सकता है। इसलिए यदि आपका स्टार्टअप 3 वर्ष से पुराना है और आप एनजी एंफिशियंसी तकनीक अपनाते हैं तो यह स्कीम आपके लिए फायदेमंद है। इन सबके अलावा कई और स्कीम्स भी चलती रहती हैं, जिन्हें समय-समय पर देखना फायदेमंद हो सकता है।

Show More
सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned