ऑयल कंपनियों का बड़ा ऐलान, गैस सिलेंडर डिलिवरी ब्वॉय को कुछ हुआ तो मिलेंगे 5 लाख

  • कोरोना वायरस से बीमार होकर मरने वाले डिलिवरी ब्वॉय के परिवार को 5 लाख देने का ऐलान
  • पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ऑयल कंपनियों के इस फैसले का किया स्वागत

By: Saurabh Sharma

Updated: 31 Mar 2020, 09:42 AM IST

नई दिल्ली। पूरे देश में लॉकडाउन है। इस लॉकडाउन में लाखों स्वास्थकर्मी अपने काम में जुटे हुए हैं। इस संकट की घड़ी में केंद्र सरकार ने 50 लाख रुपए का बीमा कवर देने की घोषणा की है। वहीं दूसरी ओर देश में लाखों की संख्या में ऐसे भी वर्कर्स भी हैं जो इस मुश्किल समय में अपने घर से निकलकर देश के लोगों के घरों में गैस सिलेंडर की सप्लाई कर कर रहे हैं। ऐसे कोरोना वॉरियर्स के लिए पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से बड़ी घोषणा की है। जानकारी के अनुसार गैस सिलेंडर की सप्लाई करने वाले वर्कर्स को अगर कोरोना वायरस होता है और उनकी मृत्यु हो जाती है तो उनके परिवार को पांच लाख रुपए दिए जाएंगे। ऑयल कंपनियों की इस घोषणा के बाद पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने इस बात की काफी सराहना की है।

यह भी पढ़ेंः- Coronavirus Lockdown: मदर डेयर की ई-कॉमर्स से अपील, टीम बनकर करना होगा कोरोना का सामना

पेरोल रहने वाले लोगों को मिलेगी सुविधा
पेट्रोलियम मंत्रालय की ओर से आई जानकारी के अनुसार सरकारी कंपनियों आईओसीएल बीपीसीएल और एचपीसीएल जो 5 लाख रुपए देने की जो घोषणा की ओर से की गई है उसमें वो ही कर्मचारी शामिल होंगे जो एलपीजी डीलर के पास 25 मार्च 2020 को उनके पेरोल काम कर रहे हैं। अगर किसी वर्कर की कोरोना वायरस की बीमारी से वजह से मौत हो जाती है तो उसके परिवार को पांच लाख रुपए दिए जाएंगे। अगर किसी कर्मचारी का जीवन साथी नहीं है तो उसके करीबी रिश्तेदार को यह राशि दे दी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः- War Against Corona: मुकेश अंबानी PM CARES Fund में देंगे 500 करोड़, 50 लाख लोगों को कराएंगे भोजन

पेट्रोलिय मिनिस्टर की ओर से की गई सराहना
ऑयल कंपनियों के इस फैसले पर पेट्रोलियम मिनिस्टर धर्मेंद्र प्रधान की ओर से सराहना की गई है। उन्होंने ट्वीट में कहा कि ऑयल कंपनियों द्वारा उठाए गए कदमों का स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि यह कदम ऐसे समय में लिया गया है कि जब पूरे देश में कोरोना वायरस का प्रकोप छाया हुआ है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की सुरक्षा काफी जरूरी है। कर्मचारियों की सुरक्षा से काफी जरूरी है ताकि कोरोना के खिलाफ जंग में मदद मिल सके।

यह भी पढ़ेंः- जानिए, वित्त मंत्री ने कैसे बताया कि बैंक ब्रांचों रखा जा रहा सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल

डिलिवरी से पहले गैस सिलेंडर होते हैं सैनिटाइज
लॉकडाउन के समय में घरेलू गैस सिलेंडर्स के सप्लायर्स को छूट दी गई है। भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के अनुसार गाजियाबाद के लोनी में भारत पेट्रोलियम के बॉटलिंग प्लांट में एलपीजी गैस सिलिंडर को सप्लाई करने से पहले सैनिटाइज किया जाता है। बीपीसीएल के अनुसार देश में पर्याप्त संख्या में गैस सिलेंडर मौजूद है, ऐसे में किसी को घबराने की जरुरत नहीं है।

Coronavirus Deaths
Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned