Sovereign Gold bond Subscription: आज से मिल रहा है सस्ता सोना खरीदने का मौका, निवेश से पहले जान लें 10 मुख्य बातें

  • Sovereign Gold Bond की चौथी सीरीज का सब्सक्रिप्शन आज से ओपन
  • Online Gold Bond निवेशकों को 50 रुपए प्रति ग्राम की मिलेगी एक्सट्रा छूट

By: Saurabh Sharma

Updated: 06 Jul 2020, 09:28 AM IST

नई दिल्ली। भले ही कोरोना वायरस ( coronavirus ) की वजह से सोने की फिजिकल मांग ( Gold Physical Demand ) में कमी आई हो, लेकिन लोगों ने एक्सचेंज ट्रेडेड फंड ( Exchange Traded Funds ) और सरकारी गोल्ड बांड में काफी निवेश किया है 0। जिसकी वजह से वायदा बाजार में सोने की डिमांड ( Gold Demand ) के कारण दाम 49 हजार के करीब पहुंच गए थे। सरकारी बांड की बात करें तो आज से चौथी सीरीज का का सब्सक्रिप्शन ओपन होने जा रहा है। जहां आपको सस्ता गोल्ड खरीदने का गोल्डन चांस मिलेगा। आइए आपको सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम ( Sovereign Gold Bond Scheme ) में निवेश करने से पहले जान लें 10 अहम बातें...

निवेश करने से जानें 10 अहम बातें
1. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में निवेश करने आपको 2.5 फीसदी का ब्याज मिलता है। जो प्रत्येक 6 महीने में दिया जाता है।

2. भारत में रह रहे नागरिक, हिन्दू अविभाजित परिवार, ट्रस्ट, यूनिवर्सिटी और चैरिटेबल संस्थाएं इस सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में निवेश कर सकते हैं।

3. सरकारी गोल्ड बॉन्ड के लिए इश्यू प्राइस 4,852 रुपए प्रति ग्राम तय हुआ है। इससे पहले, 8 से 12 जून के बीच सब्सक्रिप्शन के लिए इश्यू प्राइस 4,677 रुपए प्रति ग्राम था। रिजर्व बैंक के अनुसार इश्यू प्राइस सब्सक्रिप्शन से पहले वाले हफ्ते के अंतिम तीन वर्क डेज के लिए आईबीजए की ओर से जारी 999 प्योरिटी वाले सोने के क्लोजिंग प्राइस के सिंपल एवरेज से रुपए में तय होगी।

4. ऑनलाइन गोल्ड बांड खरीदने वालों को 50 रुपये प्रति ग्राम की अतिरिक्त छूट मिलेगी।

5. सरकारी गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2020-21 सीरीज-4 का सब्सक्रिप्शन आज से खुलेगा और 10 जुलाई को बंद हो जाएगा। आरबीआई ने अप्रैल में घोषणा की थी कि सरकार अप्रैल, 2020 से सितंबर तक छह किस्तों में सरकारी गोल्ड बॉन्ड जारी करेगी।

6. एक वित्त वर्ष में कोई भी व्यक्ति या हिन्दू अविभाजित परिवार चार किलोग्राम तक का निवेश इस स्कीम में कर सकता है। वहीं ट्रस्ट जैसी संस्थाएं एक वित्त वर्ष में 20 किलोग्राम तक का निवेश कर सकती हैं।

7. सरकारी गोल्ड बॉन्ड स्कीम की अवधि आठ साल की होती है। सरकारी गोल्ड बॉन्ड स्कीम की शुरुआत नवंबर, 2015 में हुई थी।

8. आरबीआई ने अप्रैल में घोषणा की थी कि सरकार अप्रैल, 2020 से सितंबर तक छह किस्तों में सरकारी गोल्ड बॉन्ड जारी करेगी।

9. सोने की कीमतें 2018 के मिड से उठनी चढऩी शुरू हुई थीं। तब तक इसकी कीमत कई वर्षों से 30 हजार से 32 हजार रुपए के आसपास बनी हुई थी। पिछले दो वर्षों में इसकी कीमत में 57 फीसदी उछाल आई है।

10. रिटर्न के मामले में इसने बाकी सभी एसेट क्लासेज को पीछे छोड़ दिया। सोने के बाद 10 ईयर गिल्ट्स ने सबसे अच्छा प्रदर्शन किया है। इसने करीब 17 फीसदी रिटर्न दिया है।

coronavirus
Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned