Zomato IPO: ऑनलाइन फूड ऑर्डर लेने वाली कंपनी कराएगी कमाई, यहां है पूरी जानकारी

Zomato IPO लाने के लिए सेबी में अपने सभी डॉक्युमेंट्स दाखिल कर दिए हैं। यह देश का पहला कंज्यूमर बेस्ड स्टार्टअप होगा जो शेयर बाजार में लिस्टिंग की तैयारी कर रहा है।

By: Saurabh Sharma

Updated: 29 Apr 2021, 11:33 AM IST

Zomato IPO। जिसका निवेशकों को काफी दिनों से इंतजार था वो शायद आ ही गया। जी हां, जोमाटो अपना आईपीओ ( Zomato IPO ) लेकर आ रही है। उसने सेबी को अपने सभी डॉक्युमेंट भी दे दिए हैं। यह आईपीओ करीब 8250 करोड़ रुपए का है। खास बात तो ये है कि यह देश का सहला कंज्यूमर बेस्ड स्टार्टअप है, जो शेयर बाजार में लिस्टिंग की तैयारी कर रहा है। इस आईपीओ की बीते एक साल से चर्चा हो रही थी। निवेशक भी इस आईपीओ के लिए काफी एक्साइटेड दिखाई दे रहे थे।

यह भी पढ़ेंः- Covid-19 के रिकॉर्ड केसों के बीच झूमा Share Market, निवेशकों को 8 लाख करोड़ से ज्यादा फायदा

यह है पूरी डिटेल
जानकारी के अनुसार जोमाटो की ओर से 7,500 करोड़ रुपए के फ्रेश इक्विटी शेयरों की पेशकश की जाएगी। जबकि इंफो एज इंडिया लिमिटेड 750 करोड़ रुपए के शेयरों को बिक्री के लिए लेकर आएगा। यानी दोनों को मिलाकर 8250 करोड़ रुपए का आईपीओ होगा। कंपनी के अनुसार ताजा शेयरों की बिक्री से मिलने वाली राशि को विस्तार योजनाओं में खर्च किया जाएगा। जिसमें अधिग्रहण भी शामिल होगा। आपको बता दें कि इंफो एज इंडिया की जोमाटो के अलावा नौकरी डॉट कॉम और 99एकड़ जैसे कारोबारों में भी हिस्सेदारी है। इसके पास जोमाटो की 19 फीसदी शेयरिंग है।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diesel Price Today : इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत में आग, भारत में 14वें दिन कोई बदलाव नहीं

क्या कहती है कंपनी
कंपनी के अनुसार कोरोना ऐरा में फूड डिलीवरी की डिमांड में इजाफा देखने को मिला है। पिछले साल लॉकडाउन के बाद कारोबार बीते वित्त वषü की तीसरी तिमाही से सामान्य होने लगा था, जब कंपनी की ग्रॉस ऑर्डर वैल्यू अपने पीक पर पहुंच गई थी। कंपनी ने ये भी कहा है कि उसे लगता है कि समय के साथ कंपनी की लागत भी बढ़ेगी और कारोबार बढ़ाने के लिए कंपनी का घाटा भी बढ़ सकता है।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned