इंजीनियर ने व्हाट्सएप ग्रुप पर डाली अश्लील वीडियो, इसके बाद जो हुआ...

इंजीनियर ने व्हाट्सएप ग्रुप पर डाली अश्लील वीडियो, इसके बाद जो हुआ...

Sanjay Kumar Sharma | Updated: 23 Aug 2019, 03:22:34 PM (IST) Meerut, Meerut, Uttar Pradesh, India

खास बातें

  • कैंट बोर्ड के अवर अभियंता से जुड़ा है मामला
  • ग्रुप एडमिन रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचा था थाने
  • वहां से बैरंग लौटने के बाद अब एसएसपी से मांग

मेरठ। इंजीनियर के व्हाट्सएप ग्रुप पर अश्लील वीडियो डालने का मामला गर्मा गया है। इस पर लोगों ने काफी प्रतिक्रिया दी है और ग्रुप एडमिन ने अवर अभियंता के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज करने का निर्णय लिया, लेकिन उससे पहले ही अवर अभियंता ने अपना मोबाइल गुम होने की शिकायत दर्ज करा दी। इससे माहौल गर्मा गया है और व्हाट्सएप ग्रुप के सदस्यों ने एसएसपी अजय साहनी से मिलकर अवर अभियंता के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

यह भी पढ़ेंः पुलिस ने जब मारा छापा तो शराब में मिलाया जा रहा था ये जानलेवा रसायन, मच गया हड़कंप

अश्लील वीडियो पर तीखी प्रतिक्रिया

सदर बाजार पुलिस के मुताबिक कैंट बोर्ड के अवर अभियंता अवधेश यादव ने बुधवार को एक अश्लील वीडियो व्हाट्सएप ग्रुप पर डाली थी। इस पर ग्रुप के सदस्यों ने इस पर आपत्ति जताई थी। इसके बाद अवर अभियंता ने सीयूजी नंबर से गलती से वीडियो पोस्ट की बात भी लिख दी थी। ग्रुप के सदस्यों ने एडमिन ललित कुमार से अवधेश के खिलाफ केस दर्ज कराने को कहा। इस ग्रुप से महिलाओं के साथ ही शहर के जिम्मेदार और पुलिस-प्रशासन के अधिकारी भी जुड़े हुए हैं। एडमिन ललित कुमार सदर बाजार थाने में तहरीर देने पहुंचा तो वहां पता चला कि अवधेश ने मोबाइल गुम होने की तहरीर दे रखी है। इस पर अवर अभियंता अवधेश का कहना है कि उसका मोबाइल गुम हो गया था, इसी दौरान उसके सीयूजी नंबर से ग्रुप पर किसी ने अश्लील वीडियो पोस्ट कर दी। अश्लील वीडियो की कोई जानकारी उसके पास नहीं है।

यह भी पढ़ेंः मामूली विवाद के बाद पुलिस ने सीआरपीएफ कमांडो और उसके परिवार पर बरपाया ऐसा कहर...

कड़ी कार्रवाई की मांग करेंगे

ग्रुप एडमिन ललित कुमार का कहना है कि इस मामले में अब एसएसपी अजय साहनी से मुलाकात करेंगे और अवर अभियंता के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि अवर अभियंता द्वारा दर्ज कराई गई मोबाइल की गुमशुदगी की भी जांच होनी चाहिए। सीओ कैंट संजीव देशवाल का कहना है कि अवर अभियंता द्वारा दर्ज रिपोर्ट के समय की जांच की जाएगी, ताकि डाली गई पोस्ट केे बारे में पता चल सके।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned