scriptInk thrown on farmer leader Rakesh Tikait's face in Bengaluru | किसान नेता राकेश टिकैत के चेहरे पर फेंकी स्याही, मेरठ में भाकियू ने दी आंदोलन की चेतावनी | Patrika News

किसान नेता राकेश टिकैत के चेहरे पर फेंकी स्याही, मेरठ में भाकियू ने दी आंदोलन की चेतावनी

किसान नेता राकेश टिकैत के चेहरे पर बेंगलुरु में एक पत्रकार वार्ता के दौरान एक व्यक्ति ने स्याही फेंक दी। हालांकि पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन जब इसकी जानकारी मेरठ और आसपास के भाकियू पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को हुई तो उनमें आक्रोश फैल गया। भाकियू कार्यकर्ताओं ने तुरंत ही एक बैठक कर आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

मेरठ

Updated: May 30, 2022 02:23:24 pm

किसान नेता राकेश टिकैत पर आज एक व्यक्ति ने स्याही फेंक दी। जिस समय व्यक्ति ने इस हरकत को अंजाम दिया किसान नेता राकेश टिकैत एक पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। घटना बेंगलुरु के गांधी भवन में हुई। जहां पर राकेश टिकैत के चेहरे पर एक व्यक्ति ने स्याही फेंकी। भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत बेंगलुरु के गांधी भवन में एक पत्रकारा वार्ता को संबोधित कर रहे थे। पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। वहीं भाकियू नेता राकेश टिकैत पर स्याही फेंकने के बाद से किसानों में आक्रोश है।
किसान नेता राकेश टिकैत के चेहरे पर फेंकी स्याही, भाकियू ने दी आंदोलन की चेतावनी
किसान नेता राकेश टिकैत के चेहरे पर फेंकी स्याही, भाकियू ने दी आंदोलन की चेतावनी
भाकियू टिकैत गुट के नेताओं ने चेतावनी दी है कि अगर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं की तो वे प्रदेश में आंदोलन चलाएंगे। भाकियू टिकैत गुट के मेरठ मंडल अध्यक्ष गुड्डू प्रधान ने कहा कि यह सब सरकार के इशारे पर हो रहा है। उन्होंने इस पूरे मामले की जांच की मांग की है। इस पूरे प्रकरण पर जब राकेश टिकैत से बात की गई तो उनका कहना था कि कुछ लोग सस्ती लोकप्रियता प्राप्त करने के लिए इस तरह की हरकते करते हैं। उन्होंने भाकियू कार्यकर्ताओं से शांति की अपील की है।
यह भी पढ़े : PM Kisan Samman nidhi Yojana 11th instalment : पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी के लिए आज ई-केवाईसी का अंतिम मौका

मंडल अघ्यक्ष गुडडू प्रधान ने कहा कि आए दिन इस तरह की हरकते होती है। यह सब भाकियू अपने नेता के साथ बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि सरकार को इसकी जांच करवानी चाहिए। किसाने नेता राकेश टिकैत के चेहरे पर स्याही फेंकना देशभर के किसानों के चेहरे पर स्याही फेंकने के जैसा है। यह देशभर के किसानों का अपमान है। इसको बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर सरकार इस मामले में कोई ठोस कार्रवाई नहीं करती तो भाकियू कार्यकर्ता और देश का किसान आंदोलन के लिए मजबूर होगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Jammu Kashmir: कश्मीर में एक और बिहारी मजदूर की हत्या, बांदीपोरा में आतंकियों ने मोहम्मद अमरेज को मारी गोलीआज से वैक्सीनेशन सेंटर में उपलब्ध होंगे कॉर्बेवैक्स टीके, जानिए दूसरी डोज के कितने महीने बाद लगेगाGujarat News: जामनगर के होटल में लगी भयानक आग, स्टाफ सहित 27 लोग थे मौजूद, सभी सुरक्षितत्रिपुरा कांग्रेस विधायक सुदीप रॉय बर्मन पर जानलेवा हमला, गंभीर रूप से हुए घायलSCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठकबांदा में यमुना नदी में डूबी नाव, 20 के डूबने की आशंकाIND vs ZIM: BCCI ने शिखर धवन को हटा जिम्बाब्वे दौरे के लिए केएल राहुल को बनया कप्तानबिहारः 16 अगस्त को महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार, 24 को फ्लोर टेस्ट, सुशील मोदी के दावे को नीतीश ने बताया बोगस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.