पुलिस वालों के बेटे करते थे आॅनलाइन शाॅपिंग के सामान की लूटपाट, सामने आयी सच्चार्इ तो अफसरों के मुंह खुले रह गए

पुलिस लाइन में ही तैयार कर लिया गैंग, पुलिस वालों के तीन बेटों समेत चार हुए गिरफ्तार

By: sanjay sharma

Published: 15 Nov 2018, 12:07 PM IST

मेरठ। आॅनलाइन शाॅपिंग से सामान मंगाना आैर फिर सामान लाने वाले के साथ मारपीट करके सामान लूटकर चंपत हो जाने वाले तीन पुलिस वालों के बेटे की यह सच्चार्इ सामने आयी तो पुलिस अफसरों का मुंह भी हैरत से खुला रह गया। पुलिस ने चार एेसे युवक गिरफ्तार किए हैं, जिन्होंने पुलिस लाइन के भीतर लूट का यह गैंग तैयार कर लिया। पुलिस को इन युवकों पर कभी भी संदेह नहीं हुआ, लेकिन जब बारीकी से जांच की गर्इ तो इस गैंग का खुलासा किया गया। लूट की वारदात में ये एक स्कूटी का इस्तेमाल भी करते थे, जो दिल्ली की चोरी की है। सीआे सिविल लाइन रामअर्ज ने सिविल लाइन थाने में प्रेस कांफ्रेंस करके इस गैंग के बारे में खुलासा किया।

यह भी पढ़ेंः भाजपा के फायरब्रांड विधायक संगीत सोम की सेना के सिपाही से धर्म पूछकर लूटपाट की गर्इ तो योगी की पुलिस को दी ये चेतावनी

चार में से तीन पुलिसकर्मियों के बेटे

सीआे सिविल लाइन ने चारों आरोपी जीतू उर्फ जितेंद्र, दर्शन कुमार, शिवम आैर उदयवीर को प्रेस कांफ्रेंस में पेश किया। इनमें से आरोपी जीतू के पिता बागपत में एचसीपी शिवम के पिता पुलिस लाइन आैर दर्शन कुमार की मां पुलिस विभाग में फाॅलोवर है। तीनों आरोपियों ने पुलिस लाइन में अपना गैंग बनाया आैर फिर आॅनलाइन शाॅपिंग पर सामान मंगाकर सामान लाने वाले व्यक्ति से लूटपाट शुरू कर दी। सीआे सिविल लाइन ने बताया कि आठ व दस नवंबर को पुलिस लाइन में आॅनलाइन पार्सल मंगाकर लूट की गर्इ थी। स्नैपडील के कर्मचारी राजकुमार गौतम व पंकज अग्रवाल से पुलिस लाइन के मुख्य गेट पर सामान की डिलीवरी देने पहुंचे थे। वहां पर इन्हें तीन युवक मिले आैर सामान का पैकेट छीनकर फरार हो गए। इस मामले में दोनों ने सिविल लाइन थाने में रिपोर्ट दर्ज करार्इ थी।

यह भी पढ़ेंः दुपहिया पर अगर ये नाम लिखे मिले तो खैर नहीं, पुलिस ने अभियान शुरू करने के बाद की ये कार्रवार्इ

पुलिस ने गंभीरता से जांच की

इस तरह की लूट पहले भी हो चुकी थी, इसलिए पुलिस ने पुलिस लाइन के सामने हुर्इ इस लूट बेहद गंभीरता से लिया। पुलिस ने जब जांच शुरू की तो सारी परतें खुलती चली गर्इ। पुलिस ने जीतू व शिवम को मवाना अड्डे से हिरासत में लिया आैर जब दोनों से कड़ार्इ से पूछताछ शुरू की तो लूट के इस गैंग का खुलासा हुआ। दोनों से पूछताछ के बाद गैंग के दो अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

Show More
sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned