Delhi में भाई समेत AAP का एक और विधायक COVID-19 Positive

  • Patel Nagar के MLA Raj Kumar Anand की रिपोर्ट आई पॉजिटिव।
  • इससे पहले Karol Bagh के MLA Vishesh Ravi भी पाए गए थे संक्रमित।
  • Delhi Riots में ताहिर हुसैन को मुस्लिम होने के चलते फंसाने का आरोप।

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी ( AAP ) के दिल्ली ( Delhi ) की पटेल नगर ( Patel Nagar ) सीट से विधायक राज कुमार आनंद ( Raj Kumar Anand ) गुरुवार को अपने भाई के साथ कोरोना पाजिटिव ( COVID-19 Positive ) पाए गए। वहीं, पार्टी के ही विधायक अमानतुल्लाह खान ने दिल्ली दंगे में ताहिर हुसैन का नाम आने पर उनका मुस्लिम होना कारण बताया है।

PPE Kits पहनने वाले स्वास्थ्यकर्मियों को लेकर केंद्र सरकार ने दी बड़ी जानकारी

पार्टी सूत्रों के अनुसार, विधायक ( MLA ) को बीमारी का कोई लक्षण नहीं ( Asymptomatic ) है और उन्हें घर पर ही क्वारंटाइन ( Quarantine ) में रखा गया है। पार्टी के एक नेता ने कहा, "विधायक ( MLA ) को गुरुवार को पॉजिटिव पाया गया। वह और उनके भाई घर पर ही क्वारंटाइन ( Quarantine ) में हैं।"

इसके पहले आप ( AAP ) के करोल बाग ( Karol Bagh ) से विधायक विशेष रवि पहली मई को अपने भाई के साथ COVID-19 पॉजिटिव पाए गए थे। रवि को भी कोई लक्षण नहीं ( asymptomatic ) था, और उन्हें भी घर पर क्वारंटाइन ( Quarantine ) रहने की सलाह दी गई थी। रवि की रिपोर्ट 24 मई को निगेटिव आ गई थी।

ताहिर हुसैन को मिल रही मुस्लिम ( Muslim ) होने की सजा

आम आदमी पार्टी ( AAP ) के विधायक अमानतुल्ला ( AAP MLA Amanatullah Khan ) ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) आप के पूर्व विधायक ताहिर हुसैन ( Tahit Hussain ) को फरवरी में हुए सांप्रदायिक दंगों ( Delhi Riots ) का मास्टरमाइंड बता रही है, लेकिन असली दंगाइयों के खिलाफ मामला तक दर्ज नहीं किया। उन्होंने दावा किया कि ताहिर को मुस्लिम ( Muslim ) होने की वजह से सजा दी जा रही है।

वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी, इस बार कोरोना वायरस महामारी के बीच मानसून लाने वाला है बड़ी परेशानी

खान ने ट्वीट ( Tweet ) कर कहा, "दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में ताहिर हुसैन ( Tahir Hussain ) को दिल्ली दंगों ( Delhi Riots ) का मास्टरमाइंड बताया है। जबकि समूचा देश ( India ) जानता है कि दंगों के पीछे कौन था। पुलिस ( Delhi Police ) ने असली दंगाइयों के बारे में पता तक नहीं लगाया। मैं समझता हूं कि ताहिर हुसैन को मुस्लिम ( Muslim ) होने के नाते सजा दी जा रही है।"

दिल्ली पुलिस ने खुफिया ब्यूरो के कर्मचारी ( IB Officer ) अंकित शर्मा ( Ankit Sharma ) की हत्या के मामले में जो नया आरोपपत्र दाखिल किया है, उसमें दावा किया गया है कि पूर्व आप पार्षद अपने घर और चांदबाग ( Chandbagh ) पुलिया के पास वाली मस्जिद से भीड़ की अगुआई कर रहा था। उसी ने घटना को सांप्रदायिक ( Communal ) रंग दिया। आरोपपत्र में कहा गया है कि अंकित शर्मा से कहासुनी होने के बाद 25 फरवरी को उसकी निर्मम हत्या ( Ankit Sharma Murder ) कर दी

coronavirus Coronavirus in india
Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned