अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगे बैन को बढ़ाया, DGCA ने 31 मार्च तक लगाया प्रतिबंध

Highlights

  • अंतरराष्ट्रीय यात्री सेवाएं 31 मार्च, 2021 तक 23.59 मिनट तक के लिए निलंबित रहेंगी।
  • कुछ मार्गों पर अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अनुमति मिल सकती है।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (Coronavirus) के लगातार बढ़ते खतरों को देखते हुए अतंरराष्ट्रीय उड़ानों (International Flights) पर लगी पाबंदी को 31 मार्च तक के लिए बढ़ा दी गई है।

पीएम मोदी ने देश के पहले टॉय फेयर का किया उद्घाटन, कहा - समय के साथ खिलौने में भी हुए बदलाव

नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) ने इसकी पुष्टि की है। इससे पहले अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध की अवधि को बढ़ाकर 28 फरवरी 2021 तक दिया गया था। कोरोना महामारी के कारण शेड्यूल्ड अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन बीते वर्ष 23 मार्च से निलंबित है।

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) के अनुसार भारत से जाने और भारत आने वाली अंतरराष्ट्रीय यात्री सेवाएं 31 मार्च, 2021 तक 23.59 मिनट तक के लिए निलंबित रहेंगी। हालांकि कुछ मार्गों पर अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अनुमति मिल सकती है। गौरतलब है कि पाबंदी मालवाहक उड़ानों और डीजीसीए की मंजूरी वाले उड़ानों पर लागू नहीं होगी।

लगातार बढ़ाई जा रही है पाबंदियां

हालांकि भारत ने कई देशों के साथ एयर बबल समझौते किए हैं। इस समझौते के अनुसार कुछ देशों से अंतरराष्‍ट्रीय यात्री उड़ानों को मंजूरी मिल गई है। गौरतलब है कि बीते वर्ष कोरोना संकट और लॉकडाउन के कारण 25 मार्च को फ्लाइट्स को रद्द कर दिया गया था। बाद में 25 मई से घरेलू उड़ान सेवाएं शुरू की गई थी। मगर अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंधों को समय समय पर बढ़ाया जाता रहा है।

कोरोना के मामलों में हो रही बढ़ोतरी

गौरतलब है कि देश भर में कोरोना के नए मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है। देशभर में बीते 24 घंटे में कोरोना के 16,488 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 113 लोगों की मौत हुई है। वहीं, 12771 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं। महाराष्ट्र में शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन कोरोना वायरस संक्रमण के आठ हजार से अधिक मामले सामने आए और महामारी से 48 और मरीजों की मौत हो गई।

coronavirus Coronavirus in india
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned