Bharat Bandh 26 March 2021: किसानों ने किया कल भारत बंद का आह्वान, जानिए कौनसी सेवाएं रहेंगी प्रभावित

Bharat Bandh 26 March 2021 आंदोलन के 120 दिन होने पर किसान ने किया भारत बंद का आह्वान

नई दिल्ली। तीन नए कृषि कानूनों ( Farm Law ) के विरोध में आंदोलनरत किसानसंघों ने शुक्रवार को 26 मार्च को भारत बंद ( Bharat Bandh 26 March 2021 ) का आह्वान किया है। कृषि कानून रद्द करने और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा के भारत बंद के आह्वान पर अन्य संगठनों की ओर से समर्थन मिल रहा है।

खास बात यह है कि इस बंद का सबसे ज्यादा असर आम आदमी को रोजमर्रा से जुड़ी चीजों पर पड़ने वाला है। हालांकि इमरजेंसी सेवाओं को बंद के दायरे से दूर रखा जाएगा। आइए जानते हैं किसानों के भारत बंद के दौरान कौनसी सेवाएं रहेंगी प्रभावित।

यह भी पढ़ेँः हरिद्वार कुंभ में जाने की कर रहे हैं प्लानिंग तो जान लें ये जरूरी बात, वरना बढ़ सकती है मुश्किल

कल सुबह 6 से शाम 6 तक बंद
कृषि कानूनों के विरोध में बुलाए गए भारत बंद के तहत 26 मार्च को सुबह 6 से लेकर शाम 6 बजे तक सेवाएं बंद रहेंगी। किसान नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे जाम करेंगे। ऐसें में कई रूटों पर लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

पुलिस प्रशासन भी भारत बंद को लेकर अलर्ट है और किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए तैयारी की जा रही है।

आपको बता दें कि किसानों का आंदोलन 28 नवंबर से चल रहा है। शुक्रवार 26 मार्च को आंदोलन के 120 दिन पूरे हो जाएंगे। यही वजह है कि दिल्ली-एनसीआर के बॉर्डर (शाहजहांपर, टीकरी, सिंघु और गाजीपुर) पर धरने पर बैठे किसान संगठनों ने आंदोलन को 4 महीने पूरे होने पर 26 मार्च को भारत बंद की घोषणा की है।

ये रहेगा बंद
राष्ट्रव्यापी भारत बंद के दौरान किसान संगठनों ने दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठान 12 घंटे तक बंद करने की बात कही है। इसके साथ ही दूध डेयरी भी बंद रखी जाएंगी। कुछ सब्जी मंडियों ने भी किसानों के भारत बंद को समर्थन दिया है। ऐसे में सब्जी की सप्लाय में भी परेशानी हो सकती है।

यहां बंद का नहीं होगा असर
भारत बंद के दौरान इमरजेंसी सेवाओं को बहाल रखा जाएगा। इसके तहत मेडिकल स्टोर्स और जरूरी सेवाओं पर बंद का कोई असर नहीं होगा।

यही नहीं स्वेच्छिक भारत बंद के आह्वान के बीच यातायात को लेकर भी नहीं छेड़ने की बात कही गई है। हालांकि कुछ हाईवे और स्टेट हाईवे पर किसान धरना देंगे। ऐसे में उन जगहों पर यातायात बाधित रह सकता है।
इसके अलावा किसी भी सार्वजनिक ट्रांसपोर्ट को बंद नहीं किया जाएगा। यानी अब तक मिली जानकारी के मुताबिक टैक्सी से लेकर बस और मेट्रो सेवाएं यथावत बहाल रहेंगी।

यह भी पढ़ेँः बिहार विधानसभा में हुए बवाल का ऐसा वीडियो आया सामने, देखकर आप भी रह जाएंगे दंग

28 को कानूनों का होगा होलिका दहन
आपको बता दें कि 26 मार्च के भारत बंद के बाद किसानों का अगला कदम 28 मार्च के लिए होगा। रविवार को किसानों की ओर से केंद्र के तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों की प्रतियों का होलिका दहन किया जाएगा।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned