नीति आयोग ने चेताया, लापरवाह रवैये के कारण अगले कुछ हफ्तों में तेजी से बढ़ सकते हैं कोरोना के मामले

नीति आयोग में स्वास्थ्य मामलों के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल का कहना है कि लोगों ने लापरवाह रवैया अपनाना शुरू कर दिया है।

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण (Coronaivurs In India) के मामलों में तेजी देखने को मिल रही है। शनिवार तक देश में करीब 40 हजार नए मामले सामने आए। वहीं 150 से अधिक लोगों की मौत हुई। इस बीच केंद्र सरकार ने कहा है कि जब कोरोना वायरस के मामले कम आ रहे थे, तब लोग लापरवाह हो गए। इसके साथ शादी जैसे समारोह के कारण मौजूदा समय में कोरोना संक्रमण में तेजी आई है।

ये भी पढ़ें: मुंबई: मास्‍क नहीं पहनने पर रोका तो महिला ने बीच सड़क पर मार्शल को मारा थप्पड़

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नीति आयोग में स्वास्थ्य मामलों के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल का कहना है कि लोगों ने लापरवाह रवैया अपनाना शुरू कर दिया है। इसे समझना होगा कि अभी भी एक बड़ा वर्ग है, जिसके कारण संक्रमण का खतरा बढ़ा है। खास तौर से गांवो में इसके प्रति लापरवाही देखने को मिल रही है। उन्होंने कहा कि हमें सामूहिक समारोह से बचना चाहिए।

डॉ.पॉल के अनुसार हाई पॉजिटिविटी रेट वाले जिलों में आरटी-पीसीआर जांच को बढ़ाने की जरूर है। कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि देश दूसरे संक्रमण की लहर की ओर है। यह आने वाले हफ्तों में और भी अधिक तेजी से बढ़ सकता है।

संक्रमण की दूसरी लहर के बीच

एक रिपोर्ट में नेशनल कोविड-19 टास्क फोर्स के ऑपरेशंस रिसर्च ग्रुप के प्रमुख डॉ. एनके अरोड़ा का कहना है कि देश कोविड की दूसरी लहर के बीच में है। अगर खास कदम नहीं उठाए तो अगले 6-8 हफ्तों में एक लाख नए मामले आ सकते हैं।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned