सावधान: टीका लगवाकर की ये गलतियां तो खतरनाक हो सकता है कोरोना का हमला

  • कई देशों में घातक कोरोना वायरस को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए कोरोना वैक्सीनेशन शुरू
  • भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वैक्सीनेशन के राष्ट्रव्यापी अभियान की शुरुआत की

नई दिल्‍ली। भारत समेत दुनिया के कई देशों में घातक कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए कोरोना वैक्सीनेशन ( Corona Vaccination ) शुरू हो चुका है। भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) ने शनिवार को विश्व के सबसे बड़े कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत की। अभियान के पहले दिन ही 19.1 लोगों को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) लगाई गई। कोरोना वैक्सीनेशन के लिए सरकार ने सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मी (Corona Warriors) और फ्रंट लाइन वर्कर्स का चुनाव किया है। हालांकि टीकाकरण को लेकर देशवासियों में खुशी का माहौल है, बावजूद इसके हेल्थ एंड मेडिकल एक्सपर्ट ने इसको लेकर चिंता जताई है।

PM Modi और उनके मंत्रियों ने पहले क्यों नहीं लगवाया कोरोना का टीका, राजनाथ सिंह ने खोला राज

टीका लगवाने के बाद भी कोरोना का खतरा टला नहीं

दरअसल, एक्सपर्ट का कहना है कि टीका लगवाने के बाद भी कोरोना का खतरा टला नहीं है, बल्कि अब पहले से कहीं अधिक अलर्ट रहने की जरूरत है। क्योंकि वैक्सीन लगवाने वालों की एक सी चूक भी उनको कोरोना का संक्रमण फैलने का मौका दे सकती है। इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के टास्‍क फोर्स ऑपरेशन ग्रुप फॉर कोविड के हैड डॉ. एनके अरोड़ा ने जानकारी देते हुए बताया कि किसी भी बीमारी या महामारी के साथ भय और निश्चिंतता का माहौल भी बना रहता है। क्योंकि कोरोना एक वायरस है और वायरस न दिखाई देता है और न पहचान में आता है, इसलिए इसके साथ यह खतरा और भी अधिक बना हुआ है। एक्सपर्ट ने बताया कि अगर लोगों के दिमाग से कोरोना वायरस का डर निकल जाए और इसको लेकर बरती जाने वाली सावधानी कम हो जाए तो यह दोगुनी रफ्तार के साथ लोगों को अपनी चपेट में ले सकता है।

पहले दिन 1.91 लाख लोगों को लगा टीका, कोई Hospitalisation नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय

कैसे फैल सकता है संक्रमण

डॉ. अरोड़ा ने आगे कहा कि यह बात सही है कि वैक्‍सीन लगवाने के बाद लोग निश्चित ही कोरोना वायरस से सुरक्षित रह सकेंगे, लेकिन अगर यह बात उनके दिमाग में घर कर गई तो एक बड़े खतरे को दावत दी जा सकती है। इस बात की पूरी संभावना है कि कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद लोग कोरोना वायरस से बचाव को लेकर लापरवाही बरतेंगे। ऐसे में वो फेस कवर लगाना, सामाजिक दूरी का पालन न करना या सेनेटाइजर के रेगुलर इस्तेमाल में ढील बरत सकते हैं। ऐसा करने से वैक्सीन लगवा चुका शख्स से कोरोना से सुरक्षित रहेगा, लेकिन परिवार या आसपास के लोग तेजी के साथ संक्रमित हो सकते हैं।

कोरोना वायरस
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned