Coronavirus: 21 दिन का ही लॉकडाउन क्यों, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

  • Coronavirus के बीच देश में लगा 21 दिन का लॉकडाउन
  • जानिए 21 दिन के लिए ही क्यों लगाया गया लॉकडाउन
  • देशभर में लगातार बढ़ रहे हैं कोरोनावायरस के मरीज

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) का असर लगातार देशभर में बढ़ता जा रहा है। देशभर में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 562 तक पहुंच गई है। वहीं अब तक इस संक्रमण से देश में 10 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं।

यही वजह है कि इस घातक वायरस से निपटने के लिए केंद्र सरकार के साथ राज्य सरकारें भी कड़े से कड़े कदम उठा रही है। पीएम मोदी ने पूरे देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन लागू कर दिया है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर 21 दिन का लॉकडाउन क्यों लगाया गया। इसके पीछे एक बड़ी वजह है।

पीएम मोदी ने रखा 9 दिन का व्रत, जानिए मां से क्या मांगा

देशभर में बुधवार से 21 दिन का लॉकडाउन घोषित हो गया है। जानकारों की मानें तो इसके पीछे बड़ी वजह है वायरस का पैटर्न। दरअसल कोरोना वायरस 14 दिन तक सक्रिय रहता है और मरीज में लक्षण 7 दिन में दिखने लगते है।

14 दिन यानी 7 अप्रैल तक पता चल जाएगा कि कौन बीमार है और कौन नहीं। जो बीमार है वो घर में ही रहा है तो अगले 7 दिन यानी 14 अप्रैल तक उनके परिवार के लक्षण भी दिख जाएंगे। इससे कन्यूनिटी स्प्रेड नहीं होगा।

इसके अलावा कुछ विशेषज्ञों की मानें तो यह एक जरूरी कदम है। लेकिन गरीबों पर बहुत कठोर हो सकता है। हालांकि भीड़ कोरोना वायरस फैलने में मदद करती इसलिए इस तरह का लॉकडाउन बेहद जरूरी था।

मौसम एक बार फिर लेगा करवट, कई इलाकों में बढ़ सकता है कोरोनावायरस का खतरा

लॉकडाउन का उद्देश्य अगले 21 दिनों में वायरस के प्रसार को कम करना है जबकि स्वास्थ्य अधिकारियों को काम यह है कि वह कोरोना संक्रमित मरीजों का पता लगाएं और रोगियों की संख्या को जितना हो सके उतना कम करें।

Coronavirus in india Coronavirus Cases in India
Show More
धीरज शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned