उत्तराखंड में बेकाबू कोरोना को रोकने के लिए एक हफ्ते का कर्फ्यू लगाया

उत्तराखंड सरकार ने 26 अप्रैल से 3 मई तक पौड़ी गढ़वाल जिले के कोटद्वार और स्वर्गाश्रम के क्षेत्र में कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया।

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण को बेकाबू होता देख उत्तराखंड सरकार ने 26 अप्रैल से 3 मई तक पौड़ी गढ़वाल जिले के कोटद्वार और स्वर्गाश्रम के क्षेत्र में कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है। इससे पहले देहरादून, ऋषिकेश सहित प्रदेश के सात शहरों में एक हफ्ते का कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है।

यह कर्फ्यू 26 अप्रैल से तीन मई तक रोज शाम को सात बजे से सुबह पांच बजे तक होगा। कुमाउं में हल्द्वानी, रामनगर, लालकुआं, टनकपुर और बनबसा में कोरोना कर्फ्यू लगाया है। वहीं राज्य में सामाजिक समारोहों में 50 से ज्यादा लोगों के एकत्र होने पर पाबंदी लगाई गई है।

देहरादून में कोरोना मरीजों की संख्या इजाफा हो रहा है। बीते कई दिनों से हर रोज 1600 से ज्यादा मरीज सामने आए हैं। बड़ी संख्या में ऐसे लोग भी हैं, जो कोरोना के लक्षण के बावजूद टेस्ट कराए बिना घरों में अपना इलाज कर रहे हैं। ऐसे में यहां पर कम्यूनिटी स्प्रैड की प्रबल संभावना है। संक्रमण पर ब्रेक लगाने के लिए इससे पहले शनिवार और रविवार को साप्ताहिक कर्फ्यू लगाया गया। अब सोमवार से फिर एक सप्ताह के लिए कोविड कर्फ्यू का फैसला लिया गया है।

डीएम के अनुसार कोरोना कर्फ्यू सोमवार शाम सात बजे से लागू होगा। इस दौरान सिर्फ आपातकालीन सेवाएं, मेडिकल, पेट्रोल पंप, गैस आपूर्ति पर छूट दी गई है। वहीं सब्जी, दूध, राशन की दुकानें शाम चार बजे तक खुलेंगी। शादी-विवाह और बाहर से आने वालों की आवाजाही सीमित होगी।

अन्य हिस्सों में पूर्व में जारी आदेश लागू रहेंगे

एक हफ्ते का कोरोना कर्फ्यू देहरादून नगर निगम क्षेत्र, ऋषिकेश नगर निगम के साथ गढ़ी और क्लेमनटाउन छावनी क्षेत्र में लागू होगा। इसके साथ जिले के अन्य हिस्सों में पूर्व में जारी आदेश लागू रहेंगे। वहां रविवार का कर्फ्यू लागू होगा।

coronavirus
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned